Crime NewsJharkhandKhas-KhabarRanchi

जेल में बंद गैंगस्टर सुजीत सिन्हा चला रहा है गैंग, गिरोह के गुर्गे उसके नाम पर मांग रहे रंगदारी

Ranchi: जमशेदपुर के घाघीडीह सेंट्रल जेल में बंद गैंगस्टर सुजीत सिन्हा जेल के अंदर से ही गैंग चला रहा है. जेल बैठे-बैठे वह अपने गुर्गो संग रांची, हजारीबाग, रामगढ़ और पलामू के ठेकेदारों और कारोबारियों से रंगदारी मांग रहा है. रंगदारी नहीं देने पर हत्या करने तक की धमकी दे रहा है.

गौरतलब है कि सुजीत सिन्हा को बीते वर्ष 22 जनवरी 2019 को तीन दिन की पुलिस रिमांड पर लिया गया था. गैंगस्टर सुजीत सिन्हा से रांची, लातेहार, पलामू, हजारीबाग जिले की पुलिस और सीआइडी की टीम ने परसुडीह थाना में पूछताछ की थी. सुजीत सिन्हा ने पुलिस को बताया था कि उसके गिरोह के गुर्गे उसके नाम का उपयोग कर अपराध कर रहे हैं.

गैंगस्टर सुजीत सिन्हा के नाम पर बिल्डर से मांगी गयी 2 करोड़ की रंगदारी

जमशेदपुर के घाघीडीह जेल में बंद गैंगस्टर सुजीत सिन्हा के नाम पर रांची के एक बिल्डर से रंगदारी मांगी थी. मालूम हो कि वन वृन्दावन कंस्ट्रक्शन कंपनी के मालिक अभय सिंह से 6 अगस्त और 7 अगस्त को सुजीत सिन्हा के नाम पर 2 करोड़ की रंगदारी मांगी गयी थी.

advt

जिसने लेवी मांगी है वह खुद को गैंगस्टर सुजीत सिन्हा गिरोह का सदस्य मयंक सिंह बता रहा था. गौरतलब है कि कारोबारी को व्हाट्सएप पर मैसेज भेजकर उनसे रुपये की मांग की गयी थी.

इसे भी पढ़ें- भारत में 24 घंटे में रिकॉर्ड 64 हजार से अधिक केस, 21 लाख के पार आंकड़ा

कोयला कारोबारियों को अंजाम भुगतने की धमकी

गैंगस्टर सुजीत सिन्हा गिरोह के विशाल सिंह का एक वीडियो 6 जनवरी 2020 को वायरल हुआ था. जिसमें विशाल सिंह बोल रहा था कि मैं सुजीत सिन्हा गैंग का विशाल सिंह बोल रहा हूं. चतरा जिले के मगध आम्रपाली सहित लातेहार और पलामू जिले के कोल परियोजना में आउटसोर्सिंग का काम कर रही कंपनियां, कोलियरी में डीओ लगा रही कंपनियां,रोड ट्रांसपोर्ट, रैक ट्रांसपोर्ट को चेतावनी है कि बॉस सुजीत सिन्हा से मैनेज करके काम करें नहीं तो काम बंद कर दें. बिना सुजीत सिन्हा से मैनेज किए काम करने पर शिवपुर साइडिंग वाला अंजाम होगा. बॉस सुजीत सिन्हा का आदेश है.

भाजपा नेता व व्यवसायी की हत्या की रची थी साजिश

रांची के नेता सह बिल्डर रमेश सिंह और व्यवसायी अविनाश झा की हत्या की योजना जमशेदपुर जेल में बंद गैंगस्टर सुजीत सिन्हा ने बनायी थी. अविनाश की हत्या 23 अगस्त 2019 की सुबह नौ बजे जिम जाने के दौरान की जानी थी, लेकिन सीआइडी और पुलिस की सक्रियता के कारण अपराधियों की योजना विफल हो गयी.

adv

पुलिस ने घटना को अंजाम देने से पहले योजना बनाने में शामिल होने के संदेह में पलामू से सुजीत सिन्हा के शूटर हरि तिवारी, कांके से बबलू खान और डोरंडा से इमरान को पकड़ा था. इसमें सुजीत सिन्हा गिरोह से जुड़े कुछ अन्य अपराधियों के नाम सामने आये थे.

इसे भी पढ़ें- रिया से ED की पूछताछ में खुलासा, सुशांत की बहन की FD से ट्रांसफर हुए 2.5 करोड़

व्यवसायी और बिल्डर को दी गयी धमकी

सुजीत सिन्हा गिरोह के अपराधी मयंक सिंह का 24 अगस्त 2019 को एक वीडियो वायरल हुआ था. इस वीडियो में मयंक ने कहा है कि सुजीत सिन्हा के नाम पर कुछ पुलिस के मुखबिर रंगदारी मांग रहे हैं. वीडियो में मयंक ने कहा है कि झारखंड के कुछ जिलों में प्रभावशाली लोगों से रंगदारी की डिमांड की जा रही है और नहीं देने पर जान से मारने की धमकी भी पुलिस के मुखबिर दे रहे हैं.

वीडियो में मयंक ने कहा है कि सुजीत सिन्हा के गिरोह में अपराधियों और हथियार की कमी नहीं है. वीडियो में मयंक ने बिल्डर और व्यवसायियों को चेतावनी देते हुए कहा है कि सुजीत सुन्हा पर केस दर्ज करवाने से कुछ नहीं होगा और जल्द ही आपलोगों को औकात बताऊंगा.

सुशील श्रीवास्तव का खास शूटर था सुजीत सिन्हा

हजारीबाग कोर्ट में मारे गए गैंगेस्टर सुशील श्रीवास्तव के खास शूटरों में सुजीत सिन्हा की गिनती होती थी. सुजीत सिन्हा ने सुशील की मौत का बदला लेने के लिए भोला पांडेय गिरोह के सरगना विकास तिवारी की हत्या की साजिश भी रची थी.

सुजीत सिन्हा ने ही अपराधी लवकुश शर्मा के जरिए इंजीनियर समरेंद्र प्रताप सिंह को मारने की साजिश रची थी. रांची पुलिस ने इस मामले में सुजीत को गिरफ्तार किया था. पलामू, रांची समेत अन्य जिलों में उसके खिलाफ दर्जनों आपराधिक कांड दर्ज हैं.

इसे भी पढ़ें- संवैधानिक शक्तियों के बावजूद आदिवासी समाज कहां तक पहुंचा, ये चिंतनीय विषय : हेमंत सोरेन

सुजीत सिन्हा पर दर्ज हैं 51 केस

सुजीत सिन्हा के खिलाफ आर्म्स एक्ट, रंगदारी और हत्या सहित 51 केस दर्ज हैं. उसके गिरोह में कई अपराधी शामिल हैं. गिरोह के कुछ अपराधी वर्तमान में फरार हैं और कुछ सक्रिय हैं. इसके अलावा कुछ अपराधी जमानत पर हैं. जिसके जरिये सुजीत जेल के अंदर से ही गिरोह का संचालन कर रहा है.

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button