Lead NewsNational

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, 2 आतंकियों का मार गिराया

Srinagar : जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में सोमवार सुबह उत्तरी कश्मीर के बांदीपोरा जिले (Bandipora Encounter) के हाजिन इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों (Terrorists) के बीच मुठभेड़ शुरू हुई. इस मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को ढेर कर दिया है.

आईजीपी कश्मीर ने जानकारी दी कि मारे गए आतंकवादी की पहचान प्रतिबंधित आतंकी संगठन लश्कर (टीआरएफ) से जुड़े इम्तियाज अहमद डार (Imtiyaz Ahmad Dar) के रूप में हुई है. वह शाहगुंड बांदीपोरा में हाल ही में नागरिकों की हत्या में शामिल था.

वहीं, जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया कि अनंतनाग और बांदीपोरा में बीती रात दो अलग-अलग अभियानों में दो आतंकवादी मारे गए हैं. इनमें से एक आतंकी की पहचान इम्तियाज अहमद डार के तौर पर हुई है. कश्मीर जोन पुलिस (Kashmir Police) ने बताया था कि बांदीपोरा के गुंड जहांगीर इलाके में एनकाउंटर आज सुबह शुरू हुआ.

बांदीपोरा में जम्मू कश्मीर पुलिस (Jammu Kashmir Police) ने लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba ) की एक शाखा ‘द रेजिस्टेंस फ्रंट’ (The Resistance Front) का भंडाफोड़ किया था. इसके बाद पुलिस ने एक नागरिक मोहम्मद शफी लोन की हत्या के पीछे की साजिश में शामिल चार आतंकी सहयोगियों को गिरफ्तार किया.

इसे भी पढ़ें :झारखंड में नक्सलियों व अपराधियों के पास विदेशी हथियार पुलिस के लिए चुनौती, स्पेशल सेल गठित कर मामले की जांच शुरू

लश्कर के TRF मॉड्यूल ने रची साजिश

 

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बताया था कि गिरफ्तार आतंकवादी सहयोगियों की पहचान तारिक अहमद डार, मोहम्मद शफी डार, मुदासिर हसन लोन और बिलाल आह डार के रूप में की गई है. हालांकि, हत्या में शामिल आतंकवादी सहयोगियों में से एक इम्तियाज आह डार फरार है, जोकि कथित तौर पर आतंकवादी रैंक में शामिल हो गया है. जांच के दौरान, यह भी सामने आया कि हत्या पाकिस्तान (Pakistan) के निवासी लश्कर (TRF) के हैंडलर लाला उमर के इशारे और निर्देश पर की गई थी. नापाक मंसूबे को अंजाम देने के लिए हाजिन इलाके के शाहगुंड के लश्कर (टीआरएफ) मॉड्यूल ने साजिश रची थी.

इसे भी पढ़ें :23 करोड़ की लागत से दुरूस्त होगी रांची-मुरी सड़क

पाकिस्तान समर्थित आतंकवाद के खिलाफ लाल चौक में प्रदर्शन

कश्मीर घाटी में अल्पसंख्यकों की हालिया हत्याओं और पाकिस्तान समर्थित आतंकवाद के खिलाफ रविवार को मुस्लिम समुदाय के एक समूह ने श्रीनगर के लाल चौक इलाके में शांतिपूर्ण प्रदर्शन मार्च किया. प्रदर्शनकारियों ने अपने हाथ में पोस्टर लेकर विरोध किया, जिसमें लिखा था- “आखिर कब तक” . पिछले कुछ दिनों में कश्मीर में आतंकियों ने कम से कम 7 नागरिकों की हत्या कर दी, जिनमें चार अल्पसंख्यक समुदाय से थे. गुरुवार को श्रीनगर के एक सरकारी स्कूल के अंदर प्रिंसिपल सुपिंदर कौर और टीचर दीपक चंद की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.

इसे भी पढ़ें :धनबाद : KIA शोरूम के मालिक दीपक सांवरिया के खिलाफ छेड़खानी का मामला दर्ज, भाई भी आरोपी

Related Articles

Back to top button