न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

डीवीसी की बिजली दर निर्धारित, एक जून से प्रभावी होगी नयी दर, प्रति किलोवाट 25 से 50 पैसे की कमी

फिक्स चार्ज में 220 रुपये तक की वृद्धि, ओवरऑल 9.61 फीसदी की वृद्धि

283
  • झारखंड राज्य विद्युत नियामक आयोग ने दी 3,545.77 करोड़ रुपये राजस्व की स्वीकृति, जबकि डीवीसी ने  3,841.90 करोड़ रुपये का दिया था प्रस्ताव

Ranchi: झारखंड राज्य विद्युत नियामक आयोग ने मंगलवार को डीवीसी की बिजली दर निर्धारिण कर दिया. नयी दर एक जून से प्रभावी होगी. डीवीसी प्रदेश के आठ जिले रामगढ़, बोकारो, हजारीबाग, चतरा, गिरिडीह, धनबाद, कोडरमा और बोकारो में बिजली की आपूर्ति करता है. नयी दर के अनुसार प्रति घंटा-प्रति किलोवाट 25 से 50 पैसे तक की कमी की गयी है. जबकि फिक्स चार्ज में हर महीने 220 रुपये तक की वृद्धि की गयी. डीवीसी ने वर्ष 2019-20 के लिए 3,841.90 करोड़ रुपये का प्रस्ताव झारखंड राज्य विद्युत नियामक आयोग को सौंपा था, इसके एवज में नियामक आयोग ने 3,545.77 करोड़ रुपये की ही स्वीकृति दी.

इसे भी पढ़ें – पलामू: पांच वर्ष से नहीं मिला मानदेय, मुख्यमंत्री को भी लिखा पत्र, फिर भी नहीं मिला, हार कर पारा शिक्षक ने की आत्मदाह की कोशिश

ओवर ऑल 9.61 फीसदी की वृद्धि

डीवीसी की नयी बिजली दर में 9.61 फीसदी की वृद्धि हुई है. आयोग के अनुसार डीवीसी का वित्तीय वर्ष 2019-20 में रेवेन्यू गैप 293.87 करोड़ रुपये बना रहेगा. आयोग ने डीवीसी को निर्देश दिया है कि कोई नये कनेक्शन के लिए अप्लाई करे तो उसे तुरंत नया कनेक्शन दें.

इसे भी पढ़ें – प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार झारखंड में कांग्रेस की करारी हार के जिम्मेदारः मन्नान मल्लिक

ऐसी है नयी बिजली दर

कैटेगरीवर्तमान दर(प्रति किलोवाट प्रति घंटा)नयी दर (प्रति किलोवाट प्रति घंटा)
घरेलू(शहरी व ग्रामीण)4.504.25
कॉमर्शियल(शहरी व ग्रामीण)5.004.20
सिंचाई5.003.00
एलटी इंडस्ट्रीज4.204.20
स्ट्रीट लाइट4.604.40
डोमेस्टिक एचटी4.003.80
एचटी इंडस्ट्रीज3.452.95
आरटीएस, मेस3.452.95

फिक्स चार्ज की नयी दर

कैटेगरीवर्तमान फिक्स चार्जनया फिक्स चार्ज
डोमेस्टिक(ग्रामीण व शहरी)प्रति कनेक्शन 43 रुपये महीनाप्रति कनेक्शन 75 रुपये महीना
कॉमर्शियल(ग्रामीण व शहरी)190 रुपये किलोवाट प्रति महीना150 रुपये किलोवाट प्रति महीना
सिंचाई20 रुपये महीना(एचपी)30 रुपये महीना(एचपी)
एलटी इंडस्ट्रीज100 केवीए प्रति महीना150 केवीए प्रति महीना
स्ट्रीट लाइटप्रति कनेक्शन 100 रुपये महीनाप्रति कनेक्शन 100 रुपये महीना
डोमेस्टिक एचटी150 केवीए प्रति महीना200 केवीए प्रति महीना
एचटी380 केवीए प्रति महीना600 केवीए प्रति महीना
आरटीएस380 केवीए प्रति महीना600 केवीए प्रति महीना

इसे भी पढ़ें – खुशखबरी: 1 जुलाई से वाया धनबाद चलेगी दरभंगा-सिकंदराबाद और रक्सौल-हैदराबाद एक्सप्रेस

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
झारखंड की बदहाली के जिम्मेदार कौन ? भाजपा, झामुमो या कांग्रेस ? अपने विचार लिखें —
झारखंड पांच साल से भाजपा की सरकार है. रघुवर दास मुख्यमंत्री हैं. वह हर रोज चुनावी सभा में लोगों से कह रहें हैं: झामुमो-कांग्रेस बताये, राज्य का विकास क्यों नहीं हुआ ?
झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन कह रहें हैं: 19 साल में 16 साल भाजपा सत्ता में रही. फिर भी राज्य का विकास क्यों नहीं हुआ ?
लिखने के लिये क्लिक करें.

you're currently offline

%d bloggers like this: