ChaibasaJamshedpurJharkhandJharkhand Politics

Emergency in India: कांग्रेस ने थोपा आपातकाल, आज प्रजातंत्र की जड़ें ज्यादा मजबूत : रघुवर दास

Jamshedpur : आपातकाल को भारतीय लोकतंत्र के इतिहास के सबसे काला अध्याय के रूप में जाना जाता है. आज ही के दिन भ्रष्टाचार, शिक्षा में गिरावट और अपनी सत्ता को बचाए रखने के लिए देश पर आपातकाल थोप दिया गया था. इसमें देश के जयप्रकाश नारायण, मोराजी भाई देसाई, पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेई, लालकृष्ण आडवाणी समेत देश के विपक्षी नेताओं, आरएसएस एवं सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों को जेल में ठूंस दिया गया था. प्रेस को झुकाया गया, उस पर सेंसरशिप लगायी गयी. आपातकाल के खिलाफ उठने वाली तमाम आवाजों को कुचलने का काम किया गया. यह कहना है झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री सह भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवर दास का.

वे भाजपा जमशेदपुर महानगर की ओर से साकची के बंगाल क्लब में आयोजित संगोष्ठी में बोल रहे थे. उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की पंच निष्ठा में एक निष्ठा मजबूत लोकतंत्र भी है. इसी लोकतंत्र की भावना को भारत रत्न डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के आदर्शों के अनुरूप प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने 8 साल के शासन काल में अपनी नीतियों और योजनाओं से चरितार्थ किया है. आज लोकतंत्र की जड़ें इतनी मजबूत है कि कांग्रेस या कोई दल या कोई नेता प्रजातांत्रिक मूल्यों के खिलाफ जाकर आपातकाल जैसी परिस्थिति फिर से पैदा करने का साहस नहीं करेगा.
कार्यक्रम में इनकी रही मौजूदगी
कार्यक्रम में इससे पहले आपातकाल के दौरान जेल में यातनाएं सहने वाले राम प्रवीण पांडेय, हरेंद्र सिंह, अश्विनी कुमार अवस्थी, मुन्ना रजक को अंगवस्त्र एवं पुष्पगुच्छ भेंटकर सम्मानित किया गया. इस संगोष्ठी में विशिष्ट अतिथि के रूप में सांसद विद्युत वरण महतो एवं पूर्व विधायक मेनका सरदार, रीता मिश्रा, जमशेदपुर महानगर अध्यक्ष गुंजन यादव समेत अन्य लोग उपस्थित थे.

ये भी पढ़ें- JAMSHEDPUR : आदित्यपुर की महिला ड्रग पैडलर ब्राउन शुगर और हथियार के साथ सीतारामडेरा से गिरफ्तार, भाड़े के मकान में रहकर चला रही थी साम्राज्य

Related Articles

Back to top button