JharkhandKhas-Khabarlok sabha election 2019Main SliderRanchi

चंद्रप्रकाश चौधरी होंगे गिरिडीह सीट से आजसू उम्मीदवार, सुदेश ने की घोषणा

Ranchi: काफी मशक्क्त के बाद एनडीए फोल्डर में आजसू को गिरिडीह सीट मिली. उतनी ही मशक्क्त उम्मीदवार के चयन में भी हुई. एक सप्ताह से अधिक समय उम्मीदवार के चयन में लगा.

सोमवार को पार्टी के संसदीय बोर्ड की बैठक में लगभग दो घंटे तक मंथन भी हुआ. इसके बाद आजसू सुप्रीमो सुदेश कुमार महतो ने उम्मीदवार के रूप में चंद्रप्रकाश चौधरी के नाम की घोषणा की.

हालांकि पहले से ही चंद्रप्रकाश चौधरी का नाम तय माना जा रहा है. क्योंकि चंद्रप्रकाश चौधरी पहले से ही गिरिडीह का तुफानी दौरा शुरू कर चुके हैं. कई बार खुले मंच से भी अपनी उम्मीदवारी का दावा भी कर चुके थे.

Catalyst IAS
SIP abacus

इसे भी पढ़ेंःराजद प्रदेश अध्यक्ष अन्नपूर्णा पहुंची सीएम आवास, बीजेपी में होंगी शामिल, राजद के सुभाष यादव भड़के

MDLM
Sanjeevani

एनडीए सभी सीटों पर जीत हासिल करेगी: सुदेश

उम्मीदवार की घोषणा के बाद आजसू सुप्रीमो सुदेश महतो ने कहा कि एनडीए सभी सीटों पर जीत हासिल करेगी. एनडीए फोल्डर के सभी उम्मीदारों के पक्ष में पार्टी एकजुटता के साथ काम करेगी.

देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व और सशक्त नेतृत्व मिलेगा. राष्ट्रीय पटल पर झारखंड को और आगे लेकर जायेंगे. देश और राज्य के विकास में भागीदार बनेंगे.

उन्होंने कहा कि झारखंड के वैसे मुद्दे जिसमें बहस के साथ निर्णय लिये जाने हैं, उन्हें भी राष्ट्रीय पटल पर रखा जायेगा. गिरिडीह लोकसभा के परिपेक्ष्य में आजसू अपना संकल्प पत्र जारी करेगी.

इसके लिये टुंडी विधायक राजकिशोर महतो और डॉ यूसी मेहता को अधिकृत किया गया है.

इसे भी पढ़ेंःजनता तय करे, उन्हें आतंकियों को ‘जी’ और ‘साहब’ बोलने वाला चाहिए या सेना के पराक्रम को सराहने वालाः…

झारखंडी भावना को राष्ट्रीय पटल पर रखेंगेः चंद्रप्रकाश

आजसू की ओर गिरिडीह सीट के लिये उम्मीदवार चंद्रप्रकाश चौधरी ने कहा कि झारखंडी भावना को राष्ट्रीय पटल पर रखा जायेगा.
झारखंड हित में जिन विषयों पर निर्णय लिये जाने हैं, उन्हें राष्ट्रीय पटल पर रखने का पूरा प्रयास होगा. झारखंडी भावना को पूरी जिम्मेवारी के साथ निभाउंगा.

इस मौके पर विधायक राजकिशोर महतो, रामचंद्र सहिस, पूर्व विधायक उमाकांत रजक, डॉ देवशरण भगत, हसन अंसारी, ज्योति चौधरी, वायलेट कच्छप, वनवाली मंडल सहित अन्य मौजूद थे.

इसे भी पढ़ेंः वामपंथियों को शामिल नहीं किया गया, महागठबंधन ‘महा’ नहीं बन सका : दीपंकर

Related Articles

Back to top button