न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जनता तय करे, उन्हें आतंकियों को ‘जी’ और ‘साहब’ बोलने वाला चाहिए या सेना के पराक्रम को सराहने वालाः बीजेपी

1,325

Lohardaga: आगामी लोकसभा चुनाव को देश के लिए काफी महत्वपूर्ण है. इस चुनाव में जनता के सामने दो विकल्प हैं. पहला विकल्प भाजपा के नेतृत्व वाली राष्ट्रवादी शक्तियां हैं. जिन्होंने सेना के पराक्रम को हमेशा सराहा है, तो दूसरी और कांग्रेस के नेतृत्व वाली ऐसी शक्तियां हैं, जिन्होंने सेना से उनकी कार्रवाई का लगातार सबूत मांगा है. इन बातों को भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने आज लोहरदगा में एक प्रेस वार्ता में रखी.

इसे भी पढ़ेंः राजधानी में मोआवोदियों की पोस्टरबाजी, बरियातू थाना क्षेत्र में कई जगहों पर लगाये पोस्टर

प्रतुल ने कहा कि पहले दिग्विजय सिंह फिर नवजोत सिंह सिद्धू और उसके बाद सैम पित्रोदा सहित दर्जनों कांग्रेसी नेताओं ने बालाकोट हमले पर सेना का मनोबल तोड़ने का काम किया है. उन्होंने कहा कि अगले चुनाव में जनता को आतंकवाद की कमर तोड़ने वाले भाजपा के नेतृत्व वाले गठबंधन को चुनना है या फिर हाफिज सईद, अजहर मसूद, ओसामा जैसे आतंकवादियों को ‘जी’ और ‘साहब’ कहकर संबोधित करने वाले कांग्रेस और कांग्रेस के नेताओं को.

इसे भी पढ़ेंः ‘छपाक’: दीपिका की पहली झलक जारी, एसिड अटैक सर्वाइवर लुक में पहचानना मुश्किल

महागठबंधन मतलब ठग्स ऑफ हिंदुस्तान

प्रतुल ने कहा झारखंड में जनता को भाजपा के नेतृत्व वाली राष्ट्रवादी गठबंधन और विपक्ष के ठग्स ऑफ हिंदुस्तान गठबंधन के बीच में चुनाव करना है. उन्होंने कहा कि अब तो विपक्षी ठग गठबंधन में सिर्फ कांग्रेस और झामुमो बची है. स्पीकर के आदेश के बाद झाविमो का अस्तित्व ही समाप्त हो गया है. और अब तो राजद भी नेता और कार्यकर्ता विहीन हो गया है.

उन्होंने इस बात पर गहरी चिंता जतायी कि जिस तरीके से विदेशों से फंड प्राप्त करने वाले और धर्मांतरण में लिप्त कुछ प्रमुख एनजीओ विपक्षी गठबंधन के साथ खुलकर सामने आ रहे हैं और तस्वीरें भी खिंचा रहे हैं. प्रतुल ने कहा कि समाज सेवा की आड़ में राजनीति कतई उचित नहीं है.

Related Posts

धनबाद : कासा सोसाइटी में बिजली मिस्त्री की मौत, मामला संदेहास्पद

सोसाइटी के लोगों का कहना है कि यह महज एक दुर्घटना नहीं है, बल्कि बिजली मिस्त्री की हत्या की गयी है.

SMILE

इसे भी पढ़ेंः निर्वाचन आयोग के निर्देशों का राज्य सरकार पर असर नहीं, अब चल रहा आयोग का डंडा 

चौकीदार चाहिए या जमानत पर छूटे भ्रष्टाचारीः शिवपूजन

प्रदेश मीडिया प्रभारी शिवपूजन पाठक ने कहा कि इस बार का चुनाव विकास करने वाली शक्तियों और विकास विरोधी शक्तियों के बीच मे है. उन्होंने कहा कि एक तरफ राष्ट्र का सजग चौकीदार है. दूसरी तरफ जमानत पर छूटे भ्रष्टाचारी हैं, जिन्होंने करोड़ों का घोटाला करके रखा है और आज वही चौकीदार से हिसाब मांग रहे हैं.

देश के चौकीदार ने सौ का सौ पैसा गरीबों के खाते में पहुंचाया. जबकि जबकि कांग्रेस पार्टी के जमाने में 85% राशि बिचौलिए खा जाते थे .कांग्रेस और भाजपा के विकास के मॉडल का मूलभूत अंतर यही है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने गांव, गरीब, किसान दलित, शोषित, वंचित के लिए 5 वर्षों तक सेवा की. देश का स्वाभिमान जगाया.

आज गरीब के घर में पक्का मकान है, शौचालय है, बिजली है, पढ़ाई और दवाई की सुविधा है. इस देश मे  मूलभूत सुविधाओं का विकास हुआ. किसान आज खेती में गौरव का अनुभव कर रहा है. इस प्रकार देश विकास की पटरी पर आकर खड़ा हुआ. विकास की गति को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में आगे बढ़ाने के लिए फिर एक बार मोदी सरकार के लिए देश की जनता संकल्पित है.

इसे भी पढ़ेंः पहले चरण के लिए नामांकन का आज आखिरी दिन, कई दिग्गज करेंगे नोमिनेशन-11 अप्रैल को वोटिंग

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: