JharkhandRanchi

जनता तय करे, उन्हें आतंकियों को ‘जी’ और ‘साहब’ बोलने वाला चाहिए या सेना के पराक्रम को सराहने वालाः बीजेपी

Lohardaga: आगामी लोकसभा चुनाव को देश के लिए काफी महत्वपूर्ण है. इस चुनाव में जनता के सामने दो विकल्प हैं. पहला विकल्प भाजपा के नेतृत्व वाली राष्ट्रवादी शक्तियां हैं. जिन्होंने सेना के पराक्रम को हमेशा सराहा है, तो दूसरी और कांग्रेस के नेतृत्व वाली ऐसी शक्तियां हैं, जिन्होंने सेना से उनकी कार्रवाई का लगातार सबूत मांगा है. इन बातों को भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने आज लोहरदगा में एक प्रेस वार्ता में रखी.

इसे भी पढ़ेंः राजधानी में मोआवोदियों की पोस्टरबाजी, बरियातू थाना क्षेत्र में कई जगहों पर लगाये पोस्टर

प्रतुल ने कहा कि पहले दिग्विजय सिंह फिर नवजोत सिंह सिद्धू और उसके बाद सैम पित्रोदा सहित दर्जनों कांग्रेसी नेताओं ने बालाकोट हमले पर सेना का मनोबल तोड़ने का काम किया है. उन्होंने कहा कि अगले चुनाव में जनता को आतंकवाद की कमर तोड़ने वाले भाजपा के नेतृत्व वाले गठबंधन को चुनना है या फिर हाफिज सईद, अजहर मसूद, ओसामा जैसे आतंकवादियों को ‘जी’ और ‘साहब’ कहकर संबोधित करने वाले कांग्रेस और कांग्रेस के नेताओं को.

Catalyst IAS
SIP abacus

इसे भी पढ़ेंः ‘छपाक’: दीपिका की पहली झलक जारी, एसिड अटैक सर्वाइवर लुक में पहचानना मुश्किल

MDLM
Sanjeevani

महागठबंधन मतलब ठग्स ऑफ हिंदुस्तान

प्रतुल ने कहा झारखंड में जनता को भाजपा के नेतृत्व वाली राष्ट्रवादी गठबंधन और विपक्ष के ठग्स ऑफ हिंदुस्तान गठबंधन के बीच में चुनाव करना है. उन्होंने कहा कि अब तो विपक्षी ठग गठबंधन में सिर्फ कांग्रेस और झामुमो बची है. स्पीकर के आदेश के बाद झाविमो का अस्तित्व ही समाप्त हो गया है. और अब तो राजद भी नेता और कार्यकर्ता विहीन हो गया है.

उन्होंने इस बात पर गहरी चिंता जतायी कि जिस तरीके से विदेशों से फंड प्राप्त करने वाले और धर्मांतरण में लिप्त कुछ प्रमुख एनजीओ विपक्षी गठबंधन के साथ खुलकर सामने आ रहे हैं और तस्वीरें भी खिंचा रहे हैं. प्रतुल ने कहा कि समाज सेवा की आड़ में राजनीति कतई उचित नहीं है.

इसे भी पढ़ेंः निर्वाचन आयोग के निर्देशों का राज्य सरकार पर असर नहीं, अब चल रहा आयोग का डंडा 

चौकीदार चाहिए या जमानत पर छूटे भ्रष्टाचारीः शिवपूजन

प्रदेश मीडिया प्रभारी शिवपूजन पाठक ने कहा कि इस बार का चुनाव विकास करने वाली शक्तियों और विकास विरोधी शक्तियों के बीच मे है. उन्होंने कहा कि एक तरफ राष्ट्र का सजग चौकीदार है. दूसरी तरफ जमानत पर छूटे भ्रष्टाचारी हैं, जिन्होंने करोड़ों का घोटाला करके रखा है और आज वही चौकीदार से हिसाब मांग रहे हैं.

देश के चौकीदार ने सौ का सौ पैसा गरीबों के खाते में पहुंचाया. जबकि जबकि कांग्रेस पार्टी के जमाने में 85% राशि बिचौलिए खा जाते थे .कांग्रेस और भाजपा के विकास के मॉडल का मूलभूत अंतर यही है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने गांव, गरीब, किसान दलित, शोषित, वंचित के लिए 5 वर्षों तक सेवा की. देश का स्वाभिमान जगाया.

आज गरीब के घर में पक्का मकान है, शौचालय है, बिजली है, पढ़ाई और दवाई की सुविधा है. इस देश मे  मूलभूत सुविधाओं का विकास हुआ. किसान आज खेती में गौरव का अनुभव कर रहा है. इस प्रकार देश विकास की पटरी पर आकर खड़ा हुआ. विकास की गति को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में आगे बढ़ाने के लिए फिर एक बार मोदी सरकार के लिए देश की जनता संकल्पित है.

इसे भी पढ़ेंः पहले चरण के लिए नामांकन का आज आखिरी दिन, कई दिग्गज करेंगे नोमिनेशन-11 अप्रैल को वोटिंग

Related Articles

Back to top button