BiharBihar Election 2020

बिहार चुनाव : जानिए वोटकटवा कहे जाने पर  लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने क्या कहा 

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के वोटकटवा वाले बयान को लेकर लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने शनिवार को कहा कि मुझे उनसे ऐसे बयान की उम्मीद नहीं थी

Patna : बिहार विधानसभा चुनाव में  लोजपा द्वारा एनडीए गठबंधन से अलग होकर चुनाव मैदान उतरते ही लोजपा और भाजपा, जदयू और हम में सियासी वार छिड़ गया है. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर द्वारा शुक्रवार को लोजपा को वोटकटवा पार्टी कहे जाने से चिराग पासवान बिफर गये हैं.

भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के वोटकटवा वाले बयान को लेकर लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने शनिवार को पलटवार करते हुए कहा कि मुझे उनसे ऐसे बयान की उम्मीद नहीं थी.

इसे भी पढ़ें : बिहार चुनावः सत्ता में आने पर पहली कैबिनेट मीटिंग में 10 लाख नौकरी पर लगेगी मुहर, महागठबंधन के मेनिफेस्टो में वादों की झड़ी

मुझे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पूरा भरोसा है

चिराग ने एक चैनल के साथ बातचीत में कहा कि भाजपा नेता बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दबाव में आकर इस तरह की बयानबाजी कर रहे हैं. चिराग ने नसीहत दी कि भाजपा नेता अपने विवेक का इस्तेमाल करें.

चिराग ने तंज कसा कि यदि हम वोटकटवा थे तो भाजपा ने हमें साथ क्यों रखा. हालांकि लोजपा प्रमुख चिराग पासवान ने एक बार फिर कहा कि मुझे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पूरा भरोसा है.

इसे भी पढ़ें : बिहार चुनावः बीजेपी की प्रदेश उपाध्यक्ष अब लोजपा के टिकट पर लड़ेंगी चुनाव, LJP की दूसरी लिस्ट में 53 कैंडिडेट के नाम

नीतीश कुमार फिर से मुख्यमंत्री बनते हैं तो मैं विपक्ष में बैठूंगा

चिराग ने कहा कि यदि नीतीश कुमार फिर से मुख्यमंत्री बनते हैं तो मैं विपक्ष में बैठूंगा. जान लें कि गुरुवार को बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने भी लोजपा को  वोटकटवा पार्टी करार दिया था.

adv

वहीं केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने शुक्रवार को  कहा कि लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष भाजपा के बड़े नेताओं का नाम लेकर लोगों को भ्रमित कर रहे हैं. लोजपा बस एक वोटकटवा पार्टी बनकर रह जायेगी.

लोजपा और भाजपा के बीच कोई भी डील नहीं

जावडेकर ने कहा, चिराग पासवान ने बिहार में एक अलग रास्ता चुन लिया है. वे भाजपा के बड़े नेताओं का नाम लेकर लोगों को भ्रमित कर रहे हैं. कहा कि हमारी कोई भी B और C टीम नहीं है. जोर देकर कहा कि बिहार में एनडीए को तीन चौथाई बहुमत मिलने जा रहा है.

भाजपा नेता सुशील मोदी ने कहा था कि लोजपा और भाजपा के बीच कोई भी डील नहीं है. इस तरह की बातें प्रचारित की जा रही हैं, लेकिन उसके पीछे भी लोगों के अपने हित हैं. मोदी ने कहा कि लोजपा एक वोटकटवा पार्टी की तरह है. अगर वह किसी गठबंधन का हिस्सा नहीं है तो उसकी ताकत दो-तीन सीटों से अधिक जीतने की नहीं है.

इसे भी पढ़ें : बिहार चुनाव : पीएम मोदी का कार्यक्रम तय, 23 को पहली सभा, 12 रैलियां करेंगे, नीतीश कुमार होंगे शामिल

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: