न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आयुष्मान भारतः झारखंड में 25 अस्पताल निलंबित, 20 को पेनाल्टी और दो को किया गया डीइंपैनल्ड

355

Ranchi: आयुष्मान भारत योजना लागू होने के आठ महीने के अंदर अनियमितता बरतने के आरोप में सिर्फ झारखंड में स्वास्थ्य विभाग ने 47 अस्पतालों पर कार्रवाई की है. राज्य के 25 निजी अस्पतालों को स्वास्थ्य विभाग ने निलंबित कर दिया है. इन सभी अस्पतालों से अपना पक्ष रखने को कहा गया है. गलत पाये जाने पर आयुष्मान योजना से हटा दिया जायेगा. 20 अस्पतालों से पेनाल्टी की मांग की गयी है. वहीं दो अस्पतालों को आयुष्मान योजना की सूची से हमेशा के लिए हटा दिया गया है. निजी अस्पतालों में आयुष्मान भारत योजना को लेकर लगातार अनियमितता बरतने के आरोप मरीज लगाते रहे हैं.

इसे भी पढ़ें – सीएनटी एक्ट का उल्लंघन : कल्पना सोरेन के मामले की जांच का स्वागत, समीर उरांव व रामकुमार पाहन पर कब होगी कार्रवाई

Aqua Spa Salon 5/02/2020

रिम्स के आठ डॉक्टरों को किया गया चिन्हित, दो पर हुई कार्रवाई

रिम्स के आठ डॉक्टरों को प्राइवेट प्रैक्टिस करने के आरोप में चिन्हित किया गया है. इसके अलावा दो डॉक्टरों पर कार्रवाई भी की जा चुकी है. रिम्स निदेशक ने बताया कि दो डॉक्टरों में से एक को एडमिन इंचार्ज के पद से हटा दिया गया है, वहीं एक का इंक्रीमेंट रोक दिया गया है. दो दिन पहले मुख्यमंत्री ने कहा था कि प्राइवेट प्रैक्टिस करने वाले डॉक्टरों की सूची सरकार के पास है. एसीबी की जांच करायी जायेगी. राज्य के तीन अस्पतालों के डॉक्टरों को नॉन प्रैक्टिसिंग अलावेंस मिलता है, ऐसे डॉक्टरों के प्राइवेट प्रैक्टिस पर रोक है.

Related Posts

राज्य के तीन नये मेडिकल कॉलेजों में नहीं जाना चाह रहे प्रोफेसर, क्यों?

इसके पीछे का कारण यहां डॉक्टरों का वेतन पहले से मौजूद मेडिकल कॉलेजों की तुलना में काफी कम था. संसाधनों की कमी और निजी कारण बताकर डॉक्टर नये मेडिकल कॉलेजों में सेवा देने से पीछे हट रहे हैं.

इसे भी पढ़ें – धार्मिक भावना को ठेस पहुंचानेवाले जेएमएम नेता को पार्टी ने किया निलंबित

रिम्स में नेफ्रोलॉजिस्ट सहित 47 डॉक्टरों की हो चुकी है नियुक्ति

रिम्स में डॉक्टरों की कमी की शिकायत लगातार आ रही है. इसी बीच रिम्स प्रबंधन 47 डॉक्टर नियुक्त कर चुका है. किडनी के डॉक्टर की कमी भी दूर कर ली गयी है. रिम्स में किडनी के एक डॉक्टर की नियुक्ति की गयी है. 47 नवनियुक्त डॉक्टरों में से 35 डॉक्टरों ने ज्वाइन कर लिया है. इस सत्र में ईडब्लयएसू के तहत 30 सीटों को बढ़ाया गया है. अब रिम्स में 180 सीटों पर नामांकन कराया जायेगा.

इसे भी पढ़ें – एसडीओ छतरपुर नरेंद्र प्रसाद गुप्ता को खाद्य उपभोक्ता मामलों के विभाग ने किया शोकाउज

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like