न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#NewsWing ने लोगों से पूछा : राज्य के पिछड़ेपन का क्या है कारण, अधिकतर की नजर में #BJP की गलत नीतियां दोषी  

2,307

Ranchi:   झारखंड में अभी भाजपा की सरकार है. रघुवर दास मुख्यमंत्री हैं. वह हर रोज चुनावी सभा कर रहे हैं. लोगों से कह रहें हैं: झामुमो-कांग्रेस बताये, राज्य का विकास क्यों नहीं हुआ? झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन कह रहें हैं: 19 साल में 16 साल भाजपा शासन में रही. फिर भी राज्य का विकास क्यों नहीं हुआ.

साफ है. राज्य के दो प्रमुख राजनीतिक दल के नेता यह तो मान रहे हैं कि राज्य की स्थिति खराब है. बच्चे कुपोषण के शिकार हैं. शिक्षा की स्थिति बदतर है. उद्योग नहीं लग रहे. युवकों को रोजगार नहीं मिल रहा. सरकार नियुक्ति प्रक्रिया पूरी नहीं कर पा रही. आर्थिक हालात खराब है. कर्ज बजट से अधिक हो गया है. पर, राजनीतिक दल जिनके हाथों में सत्ता की बागडोर रही है. वह खुद को साफ-सुथरा बताते हुए एक-दूसरे पर जिम्मेदारी थोप रहे हैं. लेकिन सच्चाई क्या है. आप क्या सोचते हैं. इसके लिए तीन बिंदु तय कर पाठकों से उनकी राय मांगी थी. ये तीन बिंदु थे-

Aqua Spa Salon 5/02/2020
  •     क्या राज्य के दो बड़े दलों का यह कहना जायज है?
  •     क्या राजनीतिक दलों को जिम्मेदारी नहीं लेनी चाहिए?
  •     राज्य की बदतर हालात के लिए कौन जिम्मेदार है? भाजपा ! झामुमो !  या कांग्रेस !

इसके प्रकाशन के बाद हमें अनगिनत प्रतिक्रियाएं मिलीं है. इनसे जाहिर होता है कि अधिकतर लोग मौजूदा सरकार को राज्य का विकास नहीं होने के लिए जिम्मेदार मानते हैं. कुछ मौजूदा सरकार के साथ पिछली सरकारों को भी दोष देते हैं. इसकी तीन कड़ियां हम पहले प्रकाशित कर चुके हैं. यहां प्रस्तुत है चौथी कड़ी.

पहली कड़ी प्रकाशित पाठकों की राय जानने के लिए यहां क्लिक करें

Deepak Kumar  

बीजेपी पार्टी तो ठीक है लेकिन मुख्यमंत्री रघुवर दास का चेहरा बदलना चाहिये. ये भी सही है कि बदहाली के लिए सबसे अधिक जिम्मेवार बीजेपी ही है.

Hari Prasad Mahto

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

इस सिस्टम को चलाने वाले और सत्ता में रहने वाले लोग नहीं चाहते हैं कि सबों का विकास हो.

Govind Mahli 

पूरी तरह से भाजपा जिम्मेवार है. क्योंकि ज्यादा समय तक उसका ही शासन रहा.

Atul Raj Sinha     

सबसे ज्यादा बीजेपी ही जिमेदार है. बीजेपी ने अपने स्वार्थ के लिए मूल निवासी लोगों के साथ धोखा किया है. बीजेपी ने रोजगार और नौकरी के नाम पर झारखंडी लोगों के साथ धोखा किया है. सरकारी नौकरी जो मूलवासी को मिलना चाहिये, उसे अपने स्वार्थवश बाहरी लोगों को दे दिया.

दूसरी कड़ी प्रकाशित पाठकों की राय जानने के लिए यहां क्लिक करें

TAJ  AHMED   

हमारा स्टेट आज बिहार से भी ज्यादा बेरोजगारी की मार झेल रहा है. सबसे पहले जो युवा स्नातक हैं, उन्हें कम से कम अनुबंध के आधार पर भी नौकरी दी जानी चाहिये. मैं समझता हूं जो सरकार नौकरी देने की क्षमता नहीं रखती है, उसे अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिये.

Ajay Dubey

जिस पार्टी ने यहां शासन किया उसने यहां के स्टूडेंट्स को बर्बाद किया. ख़ासकर बीजेपी और झामुमो. विकास तो कुछ खास लोगों का ही हो रहा है.  और जो लोग जहां हैं वहीं हैं. गरीब और गरीब होता जा रहा है. और पार्टी के पीछे घूमने वाले बड़ी-बड़ी गाड़ियों में घूमते दिखते हैं. कार्यालयों में करप्शन चरम पर है.

Vikash Kumar vikash

झारखंड की बदहाली के लिए साफ तौर पर भाजपा जिम्मेदार है. क्योंकि झारखंड में सबसे ज्यादा समय तक भाजपा ने ही शासन किया है. इन्होंने चुन-चुन के अपने उद्योगपति और दबंग गुंडा स्वभाव के मित्रों को चुनाव में टिकट दिया. जिनके पास सिर्फ खुद पैसा कमाने के अलावे कोई विज़न या मिशन है ही नहीं. उदाहरण के तौर पर बाघमारा के विधायक को देख सकते हैं. यही नहीं भाजपा चाहे केंद्र या राज्य में, हो हर जगह बस झारखंड को पैसे बनाने की मशीन बनाया गया. जिसके कारण यहां के विधायक और सांसद को पूर्ण संरक्षण प्राप्त है. और इनको कानून का डर नहीं है.

तीसरी कड़ी में प्रकाशित पाठकों की राय जानने के लिए यहां क्लिक करें

Abhijeet Kumar

अगली सरकार बीजेपी की हो लेकिन रघुवर दास के अलावा कोई और मुख्यमंत्री हो.

Rajeev Das

Bad performance of BJP government  and responsible to it.

Raju Kumar  

झारखंड के पिछड़ेपन का सबसे बड़ा कारण बाबूलाल मरांडी हैं.

Viren Mardi    

झारखंड की बदहाली का जिम्मेवार सिर्फ और सिर्फ भाजपा है. झारखंड राज्य के अलग हुए 18 साल से अधिक हो गये. लेकिन इसका विकास से कोई लेना-देना नही है. यहां विकास हुआ है तो एक मात्र भ्रष्टाचार का. बुनियादी ढांचा तैयार करने मे सरकारी तंत्र फिसड्डी साबित हुई है. रोजगार, शिक्षा और स्वास्थ्य की स्थिति बद से बदतर होती जा रही है. दूसरे राजनीतिक दल भी कम जिम्मेवार नहीं हैं. बिजली और पीने के पानी की समस्या की हालत किसी से छुपी नहीं है. राष्ट्रीय योजनाओं के भरोसे राज्य सरकार अपनी पीठ थपथपा रही है.

Umashankar Nath

झारखंड की बदहाली की जिम्मेदार सभी राजनीतिक पार्टियां हैं.

Manoj pandey

बीजेपी ने इस स्टेट को बर्बाद कर दिया. सबसे भ्रष्ट सीएम अभी का है. हेमंत सोरेन का 14 महीना गोल्डेन एरा रहा है.

Pankaj Chourasiya   

झारखंड में विकास हुआ है. रघुवर सरकार आगे भी रहे. लेकिन हमारे बड़कागांव विधानसभा का विनाश हुआ है. बड़कागांव में बिहारियों का राज है. त्रिवेणी कंपनी बड़कागांव में कोल माइंस चलाती है. एनटीपीसी के अधीन जितने भी जमीनदाता है, उनके साथ व्यवहार बहुत गलत करते हैं. त्रिवेणी कंपनी के एजीएम औरंगाबाद जिले के रहने वाले हैं. उनका कहना है झारखंड में और खास करके बड़कागांव में माइंस में सिर्फ हमारा राज चलता है. बिहार का राज चलता है. पैसा लेकर कंपनी में बाहर के वर्करों को रखते हैं. काम में इसका विरोध करने में कंपनी से सीधा बाहर कर दिया जाता है या उस पर मुकदमा चलाया जाता है.

Purushottam Kumar

बीजेपी अपने काम में नाकाम रही. युवा को रोजगार देने में नाकाम रही. 20 घंटे बिजली देने में नाकाम रही. पीने का पानी देने में नाकाम रही. शिक्षा देने में नाकाम रही. झारखंड का विकास करने में नकाम रही.

Bijay Kant

झारखंड की बदहाली के लिए केवल व केवल भारतीय जनता पार्टी जिम्मेवार है. इसमें सबसे महत्वपूर्ण भूमिका रघुवर दास की रही है. मुख्यमंत्री रघुवर दास के तानाशाही रवैया के कारण विकास प्रभावित हो रहा है.

Bablu kr choudhry   

I like  Rghuwar das but not Hamnt soran, because he is not matured to be a chief minister of jharkhand.

Bahadur Hansdah

राज्य की बदहाली और पिछड़ेपन की वजह भाजपा है. क्योंकि झारखंड में सर्वाधिक समय भाजपा ने ही शासन किया है.

इसे भी पढ़ेंः रांची, लोहरदगा, खूंटी, सिमडेगा और गुमला के एसपी ऑफिस में क्लर्क नियुक्ति के मामले में हाइकोर्ट ने जारी किया नोटिस

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like