न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#TripleTalaque : #Wasseypur में शौहर ने छत पर चढ़कर पूरे मोहल्ले के सामने कह दिया- तलाक तलाक तलाक

713

Dhanbad : वासेपुर के मारूफगंज में सोमवार को 24 वर्षीय मंसूर अंसारी ने छत पर चढ़कर पूरे मोहल्ले वालों के सामने ही अपनी पत्नी को तीन तलाक कह दिया.

Sport House

मंसूर अपनी 22 वर्षीय पत्नी आरजू परवीन से दहेज में 14 चक्का गाड़ी और दो लाख रुपये की मांग कर रहा था. दहेज नहीं मिलने के कारण मंसूर ने छत पर चढ़कर पूरे मोहल्ले के सामने पत्नी को तलाक दे दिया.

मामले की शिकायत पत्नी आरजू परवीन ने बैंक मोड़ थाना में की है.

इसे भी पढ़ें : शर्मनाक : #Rickshaw पर लादकर #postmortem के लिए भेजा गया 90 वर्षीय वृद्ध का शव

Vision House 17/01/2020

27 जून को हुआ था आरजू का निकाह

आरजू परवीन नवादा के रजौली तकिया मुहल्ला की रहने वाली है. आरजू का निकाह मंसूर अंसारी से 27 जून 2019 को मुस्लिम रीति-रिवाज के साथ धूमधाम से हुआ था.

लड़की के घरवालों ने अपनी शक्ति के अनुसार काफी दान दहेज भी दिया था. लेकिन निकाह के कुछ दिन बाद ही शौहर और शौहर के घरवाले दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगे.

SP Deoghar

मंसूर आरजू परवीन से एक चार चक्का गाड़ी और 2 लाख रुपये की मांग करने लगा.

Related Posts

दहेज की रकम नहीं देने पर मंसूर ने धनबाद कोर्ट में आरजू परवीन के परिवार वालों पर आरजू की विदाई नहीं करने का केस दर्ज कर दिया जिससे आरजू के परिवारवालों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

इसे भी पढ़ें : Good News: #JSSC जल्द निकालेगा जूनियर इंजीनियर के 614 पदों के लिए विज्ञापन

जान से मारने की धमकी देता है शौहर

आरजू परवीन की मानें तो शौहर मंसूर मौलाना है और लगातार पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी देते रहता है जिस कारण पूरा परिवार सदमे में है.

आरजू के परिवारवाले आरजू को लेकर 26 सितंबर से धनबाद में है और कोशिश कर रहे हैं कि आरजू के शौहर मंसूर किसी तरह आरजू को अपना ले लेकिन मंसूर सोमवार को अपने मुहल्ले में आरजू को सबके सामने तीन तलाक दे दिया जिससे वासेपुर के लोग काफी हैरान हैं.

ऐसे लोगों पर सख्त कार्रवाई करे जिला प्रशासन : जूली खान

वासेपुर की रहने वाली समाजसेवी जूली खान इस मामले को लेकर मीडिया के समक्ष आयीं और तीन तलाक कानून पर सवाल उठाते हुए न्याय की गुहार लगायी है.

जूली ने कहा कि तीन तलाक कानून बनने के बाद भी लोगों में कानून का खौफ नहीं है इसलिए जिला प्रसासन ऐसे लोगों पर सख्त से सख्त कार्रवाई करे ताकी तीन तलाक पर अंकुश लग सके.

वहीं आरजू ने इस तीन तलाक के मामले में न्यायालय का दरवाजा खटखटाने की बात कही है.

इसे भी पढ़ें : #TB में बेहतर प्रदर्शन के लिए #NITIAayog ने #Jharkhand को दिया था पहला स्थान, जबकि 18 की जगह 7 कर्मचारी ही कार्यरत

Mayfair 2-1-2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like