JharkhandMain SliderRanchi

CM हेमंत सोरेन को फिर मिली जान से मारने की धमकी, विदेश के लोकेशन से आया मेल

Ranchi: सीएम हेमंत सोरेन को फिर से जान से मारने की धमकी दी गयी है. मिली जानकारी के अनुसार सोमवार को सीएम के सचिव राजीव अरुण एक्का के मेल पर धमकी दिया गया. इस बार के मेल सर्वर का लोकेशन जांच में नीदरलैंड का बताया जा रहा है. इस मामले में साइबर थाना रांची में प्राथमिकी भी दर्ज करायी गयी है.

इसे भी पढ़ें- कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव से सीएम चिंतित, दिया संकेत- ‘कैबिनेट बैठक में हो सकता है निर्णय’

इससे पहले भी सीएम को दी गयी थी धमकी

ram janam hospital
Catalyst IAS

सीएम हेमंत सोरेन को इससे पहले बीते 8 जुलाई को भी दो मेल के जरिये जान से मारने की धमकी दी गयी थी. धमकी देने वाले ने कहा था कि सुधर जाओ नहीं तो आप को जान से मार देंगे. धमकी मिलने के बाद सुरक्षा एजेंसी कार्रवाई करने में जुट गयी है. वहीं साइबर थाना रांची में 13 जुलाई को इसे लेकर प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी.

The Royal’s
Sanjeevani

साइबर थाना और सीआइडी अपने स्तर से इस मामले की जांच कर रही है. हालांकि, अब तक धमकी देनेवाले तक जांच एजेंसी नहीं पहुंच पायी है. क्योंकि मेल का सर्वर विदेश का है. वहां से डीटेल मिलने के बाद ही धमकी देनेवाले तक पहुंचने में पुलिस काे मदद मिल सकती है.

इसे भी पढ़ें- कई प्रतीक्षारत IAS अधिकारियों को मिली पोस्टिंग, मुकेश कुमार बने रांची नगर निगम के आयुक्त

CID ने किया है जांच टीम का गठन

सीएम हेमंत सोरेन को धमकी मिलने के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए सीआइडी ने साइबर थाना प्रभारी के नेतृत्व में एक जांच टीम का गठन किया है. दोनों मेल से धमकी देने के एड्रेस की जांच की जा रही है. पुलिस धमकी देने वाले की पहचान करने में भी जुटी है.

इसे भी पढ़ें- मरांडी ने CM से बरहेट थानेदार हरीश पाठक को सस्पेंड करने की मांग की, कहा-बकोरिया कांड में भी हैं संदिग्ध

पूर्व सीएम को भी मिली थी धमकी

गौरतलब है कि पहले भी झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास को भी जान से मारने की धमकी मिली थी. इसी तरह से उन्हें भी धमकी भरे मेल मिले थे. तब इस मामले में उत्तराखंड से एक कुख्यात नक्सली की गिरफ्तारी हुई थी. गिरिडीह जिले के एक सिरफिरे युवक ने भी राजभवन, मुख्यमंत्री आवास उड़ाने की धमकी पूर्व में दी थी. जिसका पुलिस ने खुलासा किया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button