JharkhandRanchi

मरांडी ने CM से बरहेट थानेदार हरीश पाठक को सस्पेंड करने की मांग की, कहा-बकोरिया कांड में भी हैं संदिग्ध

Ranchi : 27 जून को साहिबगंज में अपराधियों के साथ मुठभेड़ में एएसआइ चंद्राय सोरेन बुरी तरह घायल हो गये थे. 19 जुलाई को मेडिका अस्पताल में उनका निधन हो गया. सीएम हेमंत सोरेन ने शहीद एएसआइ को उसके दायित्वों को याद करते हुए सम्मान भी दिया था.

भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने चंद्राय सोरेन शहादत मामले में बरहेट थाना प्रभारी हरीश पाठक की भूमिका पर सवाल उठाया है. उन्हें सस्पेंड करने की भी मांग की है.

इसे भी पढ़ें – कई प्रतीक्षारत IAS अधिकारियों को मिली पोस्टिंग, मुकेश कुमार बने रांची नगर निगम के आयुक्त

Catalyst IAS
ram janam hospital

मुठभेड़ के समय मूकदर्शक की भूमिका

The Royal’s
Sanjeevani

बाबूलाल के अनुसार साहिबगंज में डुगुबथान मोड़ पर 27 जून को अपराधियों एवं पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई. इस दौरान बरहेट थाना प्रभारी हरीश पाठक की भूमिका संदिग्ध रही. मुठभेड़ को लेकर थाना प्रभारी द्वारा दर्ज एफआइआर में कई पहलू ऐसे हैं जो संदेहात्मक हैं.

एसडीपीओ ने पहले ही अपराधियों के डुगुबथान में होने की सूचना दे दी थी. बावजूद इसके सभी पुलिसकर्मी वहां एक साथ नहीं गये. अपराधियों ने जब चंद्राय सोरेन पर गोली चलायी तब भी थाना प्रभारी वहां मूकदर्शक बन गये. वे महज हाथापाई करते रहे.

चंद्राय सोरेन की जान बरहेट पुलिस की लापरवाही या किसी साजिश के कारण गयी, इसकी जांच की जानी चाहियेए हो सके तो इसकी जांच सीबीआइ से करायी जाये.

इसे भी पढ़ें – मिन्हाज अंसारी की मौत के मामले में जामताड़ा की तत्कालीन एसपी जया रॉय से फिर पूछताछ की तैयारी

विवादास्पद रहा है हरीश पाठक का कार्यकाल

बाबूलाल ने कहा कि बरहेट थाना प्रभारी हरीश पाठक का कार्यकाल पूरी तरह विवादास्पद रहा है. बकोरिया कांड में भी उनका नाम आ चुका है. जामताड़ा के नारायणपुर थाना में मिन्हाज अंसारी नामक युवक की कथित पिटाई से मौत मामले का आरोप भी उन पर है.

अंसारी मामले में इन पर पूर्व में ही गैर-इरादतन हत्या का मुकदमा चलाने को संथाल परगना के तत्कालीन डीआइजी द्वारा कहा जा चुका है. इस मामले में झामुमो द्वारा भी आरोपित दारोगा पर कार्रवाई की मांग की जा चुकी है. ऐसे किसी पुलिस अधिकारी को किसी थाने में महत्वपूर्ण जिम्मेवारी नहीं दी जानी चाहिए. उसे तत्काल सस्पेंड किया जाये.

इसे भी पढ़ें – जयपाल सिंह स्टेडियम: 2 करोड़ रूपये खर्च के बाद भी नहीं संवरा, अब निगम ने 8.5 करोड़ का तैयार किया प्रस्ताव

3 Comments

  1. 848675 248827Just a smiling visitor here to share the really like (:, btw outstanding layout. 927771

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button