JamtaraJharkhand

जामताड़ा के शिक्षकों ने विधानसभा अध्यक्ष को सौंपा आवेदन, न्याय की लगाई गुहार

विज्ञापन

Jamtara :  जिले के नाला विस क्षेत्र के सेवामुक्त हाई स्कूलों के शिक्षकों ने स्थानीय विधायक सह विस अध्यक्ष रबीन्द्रनाथ महतो को लिखित आवेदन सौप कर न्याय की गुहार लगाई है. शिक्षकों ने पिछले दिनों हाईकोर्ट के आदेश पर नियुक्ति रद्द होने के मामला को विधानसभा अध्यक्ष के सामने उठाया.

इस अवसर पर शिक्षकों ने कहा कि हाई कोर्ट के निर्णय के बाद हम सभी सेवामुक्त हो गए हैं. ऐसे में हमारे परिवार के समक्ष संकट की स्थिति आ गयी है. इस संकट से शिक्षकों को सरकार ही उबार सकती है. शिक्षकों ने कहा कि सरकार उच्चतम न्यायालय से हमें न्याय दिलाए.

इसे भी पढ़ें :CoronaUpdate: देश में 60 लाख के करीब कोरोना केस, एक्टिव मरीजों की संख्या साढ़े नौ लाख से अधिक

advt

सरकार के वेकैंसी के अनुसार उनकी हुई नियुक्ति

 

शिक्षकों ने कहा कि पिछली सरकार ने जो वेकैंसी निकाली थी उसी अनुसार उनकी नियुक्ति हुई. नियम कानून बनाना सरकार का काम है. इसमें अगर गलती होती है तो इसकी जवाबदेही सरकार की है. पर इस मामले में निर्दोष शिक्षक बलि के बकरा बन गये. अब नौकरी चली जाने से बच्चों की पढ़ाई-लिखाई पर तो असर पड़ ही रहा है. परिवार की आर्थिक स्थिति संकट में आ गयी है.

इसे भी पढ़ें :BJP को बड़ा झटका, कृषि बिल के विरोध में NDA से अलग हुआ सबसे पुराना सहयोगी अकाली दल

सरकार की सहानुभूति शिक्षकों के साथ

 

adv

विधानसभा अध्यक्ष रवींद्रनाथ महतो ने शिक्षकों को भरोसा दिया और कहा कि झारखंड सरकार की पूरी सहानुभूति व संवेदना शिक्षकों के साथ है. यहीं वजह थी कि जब हाईकोर्ट का फैसला आया तो सरकार के मुखिया हेमंत सोरेन भी चिंतित हो गए. मुख्यमंत्री इस मामले पर चिंतन कर रहे हैं. कानूनी सलाह भी ही जा रही है. सरकार मामले को लेकर गंभीर है. हम कोशिश कर रहे हैं कि शिक्षकों को न्याय मिले.

इसे भी पढ़ें :नहीं रहे पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह, प्रधानमंत्री ने शोक व्यक्त किया

 

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button