Crime NewsGarhwaJharkhand

गढ़वा में जेई पुत्र की संदेहास्पद मौत के बाद न्याय के लिए दर-दर भटक रहा वृद्ध दंपति, CM से उच्चस्तरीय जांच की गुहार

Palamu. जिले के हुसैनाबाद नगर पंचायत के वार्ड नंबर तीन के निवासी वृद्ध जगदीश राम एवं उसकी पत्नी ने न्याय के लिए दर-दर भटक रहे हैं. उन्होंने झारखंड के मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर न्याय की गुहार लगाई है. उन्होंने अपने पुत्र की संदेहास्पद स्थिति में हुई मौत की उच्चस्तरीय जांच कराने का आग्रह किया है.

बुजुर्ग दंपति ने मुख्यमंत्री को प्रेषित पत्र में लिखा है कि उसके पुत्र रणजीत कुमार की हत्या विगत पांच माह पूर्व गढ़वा जिले में हुई थी. इस मामले में नामजद प्राथमिकी दर्ज करायी थी, परन्तु पुलिस अबतक अपराधियों को पकड़ने की कार्रवाई नहीं की है.

ये भी पढ़ें- राज्य के 22 जिलों में बनेंगे ई-एफआइआर थाने, प्रस्ताव को सीएम की मंजूरी

ram janam hospital
Catalyst IAS

गौरतलब है कि रणजीत कुमार गढ़वा जिले के नगर उंटारी अनुमंडल के भवनाथपुर प्रखंड में मनरेगा कनीय अभियंता के पद पर पदस्थापित थे. गत 17 मार्च 2020 को अचानक एक कमरा से रणजीत कुमार का शव बरामद हुआ था. इसके बाद मृतक के पिता ने पांच लोगों के विरुद्ध 20 मार्च 2020 को नगर उंटारी थाना में नामजद प्रथमिकी दर्ज करायी.

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

ये भी पढ़ें- तीन एसपी सहित 3640 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित हुए, 2761 ठीक हो चुके

दंपति ने कहा कि अपराधियों की गिरफ्तारी की बात तो दूर, अबतक नामजद आरोपियों की मोबाइल भी पुलिस ने सीज नहीं किया है, जिससे हत्या में शामिल लोगों का उद्भेदन नहीं हो सका है. उन्होंने झारखंड के मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि उक्त हत्या में शामिल दोषी लोगों पर कानूनी कार्रवाई हो सकें, जिससे उसे इंसाफ मिल सके.

4 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button