न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

श्रीलंका सीरियल ब्लास्टः मरने वालों की संख्या हुई 290, एयरपोर्ट के पास मिला एक और बम

एयरपोर्ट के पास मिले पाइप बम को समय रहते पुलिस ने किया निष्क्रिय,मामले में 24 लोग गिरफ्तार

748

Columbo: श्रीलंका में आठ सीरियल ब्लास्ट में मरनेवालों का आंकड़ा 290 पहुंच गया है. जबकि 450 के करीब लोग घायल बताये जा रहे हैं. रविवार रात तक स्थानीय समाचार चैनल न्यूज फर्स्ट के मुताबिक मृतकों की संख्या 215 थी.

eidbanner

वहीं सोमवार सुबह कोलंबो के मुख्य हवाईअड्डे के पास से पाइप बम बरामद हुआ. जिसे निष्क्रिय कर दिया गया. मरनेवालों में चार भारतीय भी शामिल हैं. सीरियल ब्लास्ट की जांच कर रही श्रीलंकाई पुलिस अब तक 24 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है.

लिट्टे के साथ खूनी संघर्ष के खत्म होने के बाद करीब एक दशक से श्रीलंका में जारी शांति भी गिरजाघरों और पांच-सितारा होटलों में रविवार को ईस्टर के मौके पर हुए आत्मघाती हमलों समेत आठ बम धमाकों से भंग हो गयी.

नृशंस आतंकी हमला

पुलिस के प्रवक्ता रूवन गुणशेखरा ने बताया कि यह श्रीलंका में हुए अब तक के सबसे खतरनाक हमलों में से एक है. ये विस्फोट स्थानीय समयानुसार सुबह पौने नौ बजे के करीब ईस्टर प्रार्थना सभा के दौरान कोलंबो के सेंट एंथनी गिरजाघर, पश्चिमी तटीय शहर नेगोम्बो के सेंट सेबेस्टियन गिरजाघर और बट्टिकलोवा के जियोन गिरजाघर में हुए. कोलंबो के तीन पांच सितारा होटलों- शांगरी ला, सिनामोन ग्रैंड और किंग्सबरी को भी निशाना बनाया गया.

चार भारतीयों की मौत

श्रीलंका के पर्यटन विभाग के चेयरमैन किशु गोम्स ने बताया कि इन धमाकों में 33 विदेशी नागरिक मारे गये हैं. ऐसा माना जा रहा है कि किसी एक संगठन ने ही इन धमाकों को अंजाम दिया है.

नेशनल हॉस्पिटल के निदेशक डॉ. अनिल जयसिंघे ने 33 में से 13 विदेशी नागरिकों की पहचान की है. जिनमें भारत के चार, चीन के दो तथा पोलैंड, डेनमार्क, जापान, पाकिस्तान, अमेरिका, मोरक्को और बांग्लादेश के एक-एक नागरिक शामिल हैं.

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर तीन भारतीयों की पहचान लक्ष्मी, नारायण चंद्रशेखर और रमेश के तौर पर की है. उन्होंने एक ट्वीट में कहा, “कोलंबो में भारतीय उच्चायुक्त ने जानकारी दी है कि नेशनल हॉस्पिटल ने उन्हें तीन भारतीयों की मौत के बारे में सूचित किया है.”

इसे भी पढ़ेंः भाजपा ने कहा, रणछोड़ हैं डॉ अजय, कांग्रेस बोली, भाजपा में डॉ अजय की छवि का कोई नेता नहीं

किसी आतंकी संगठन ने नहीं ली जिम्मेदारी

रविवार को हुए इन धमाकों की जिम्मेदारी अभी तक किसी संगठन ने नहीं ली है.

गुणशेखरा ने संवाददाताओं को बताया, पुलिस फिलहाल इस बात की पुष्टि करने की स्थिति में नहीं है कि क्या सभी हमले आत्मघाती थे. हालांकि उन्होंने कहा कि नेगोम्बो गिरजाघर में हुए बम धमाके से आत्मघाती हमले के संकेत मिलते हैं.

एक अज्ञात अधिकारी ने बताया कि एक आत्मघाती हमलावर ने सिनामोन ग्रैंड होटल के रेस्तरां में विस्फोट कर खुद को उड़ा दिया.

Related Posts

बिहार में जानलेवा हुई गर्मीः सूबे में 48 लोगों की गयी जान-कई इलाजरत, सीएम ने जताई संवेदना

औरंगाबाद, गया और नवादा में लू के कारण सबसे ज्यादा मौतें

गुणशेखरा ने कहा कि नेशनल हॉस्पिटल में 66 शव रखे गये हैं तथा 260 घायलों का इलाज चल रहा है. उन्होंने कहा कि 104 शव नेगोम्बो अस्पताल में रखे गये हैं तथा यहां 100 घायलों का इलाज चल रहा है.

उन्होंने कहा कि बाद में राजधानी के दक्षिणी उपनगर में कोलंबो चिड़ियाघर के पास एक शक्तिशाली धमाका हुआ जिसमें दो लोगों की मौत हो गयी.

पुलिस का एक दल ओरुगोदावट्टा क्षेत्र के एक घर में जब जांच के लिए पहुंचा तक वहां मौजूद एक आत्मघाती हमलावर ने खुद को उड़ा लिया. इस विस्फोट में तीन पुलिसकर्मियों की मौत हो गई. यह आठवां धमाका है.

आठवें विस्फोट के तुरंत बाद सरकार ने तत्काल प्रभाव से कर्फ्यू लगा दिया. यह कर्फ्यू अगली सूचना तक प्रभावी रहेगा. गुणशेखरा ने कहा कि इन धमाकों के सिलसिले में अब तक 24 संदिग्ध गिरफ्तार किये गये हैं. श्रीलंका के रक्षा राज्य मंत्री रूवन विजयवर्धने ने कहा, “हमारा मानना है कि ये सुनियोजित हमले थे और इनके पीछे एक समूह था.”

इसे भी पढ़ेंःसाध्वी प्रज्ञा का नया विवादित बयान – बाबरी मस्जिद गिराने पर उन्हें है गर्व, आयोग ने दिया नोटिस

शांति व्यवस्था बनाये रखने की अपील

श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाल सिरिसेना ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है. उन्होंने कहा, ‘‘मैं पूरी तरह से अप्रत्याशित घटना से सदमे में हूं. सुरक्षाबलों को सभी जरूरी कार्रवाई करने के निर्देश दिये गये हैं.’’

प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे ने इसे ‘‘कायराना हमला’’ बताते हुए कहा कि उनकी सरकार ‘‘स्थिति को नियंत्रण’’ में करने के लिए काम कर रही है.

उन्होंने ट्वीट किया,‘‘ मैं श्रीलंका के नागरिकों से दुख की इस घड़ी में एकजुट एवं मजबूत बने रहने की अपील करता हूं. सरकार स्थिति को काबू में करने के लिए तत्काल कदम उठा रही है.’’

पड़ोसी देश में हुए इस हमले पर भारत भी नजर बनाए हुए है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना और प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे से फोन पर बात की.

पीएम मोदी ने कल ही कह दिया था कि वे भीषण हमला झेलने वाले पड़ोसी मुल्क के साथ मजबूती से खड़े हैं. इस हमले को क्रूर और सुनियोजित बर्बर आतंकी हमला बताते हुए उन्होंने श्रीलंका को हरसंभव मदद देने की भी बात कही है.

इसे भी पढ़ेंःझरिया विधायक संजीव की पत्नी साेमवार को होंगी भाजपा में शामिल

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: