न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

91 शराब दुकानों की नीलामी में आधे से अधिक पर शाहाबादी समूह का कब्जा

लक्ष्य 74 करोड़ 20 लाख के राजस्व का, पांच दुकानों की नीलामी नहीं होने के कारण उत्पाद विभाग को मिले 63 करोड़ 86 लाख

207

Giridih : गिरिडीह के 96 में से 91 शराब दुकानों की नीलामी मंगलवार को समाहरणालय सभा कक्ष में डीसी राजेश पाठक की मौजदूगी में संपन्न हुआ. तीन सालों के लिए हुई नीलामी में करीब सप्ताह दिनों से ऑनलाईन आवेदन जमा करने की प्रकिया शुरू हो गयी थी. जानकारी के अनुसार 96 दुकानों के लिए तीन सौ से अधिक आवेदन आये थे. नीलामी की प्रकिया भी इस बार ऑनलाईन लॉटरी के माध्यम से किया गया था. लिहाजा, नीलामी की पूरी प्रकिया पारदर्शिता के बीच किया गया.

इसे भी पढ़ें- बेटियों को बचपन से ही बनायें सशक्त, विषम परिस्थितियों में दृढ़ता कम न होने दें : रेखा शर्मा

96 दुकानों की नीलामी के लिए 45 समूह बनाये गये

वैसे गिरिडीह उत्पाद विभाग ने नीलामी के माध्यम से 74 करोड़ 20 लाख के राजस्व हासिल करने का लक्ष्य तय किया था. लेकिन पांच दुकानों के नीलामी नहीं होने से उत्पाद विभाग को 63 करोड़ 86 लाख 98 हजार का राजस्व ही मिल पाया. इधर प्रकिया में जिन पांच शराब दुकानों का नीलामी नहीं हो पाया. उनमें समूह नंबर 7-8 में शहर के कचहरी रोड से लेकर अलकापुरी और मकतपुर से लेकर बरमसिया की दुकान शामिल है. जबकि 11 नंबर बेंगाबाद, 17 नंबर गांडेय और 24 नंबर निमियाघाट का पोरदाग का दुकान शामिल है. 96 दुकानों की नीलामी के लिए 45 समूह बनाये गये थे. हर समूह में तीन से चार दुकान को शामिल किया गया था. जिसमें देशी-विदेशी के अलावे कंपोजिट शराब दुकान शामिल था.

इसे भी पढ़ें- खनन प्रभावित 23 गांवों को मिलेगा सोलर युक्त जलापूर्ति योजना से पानी

यूपी और बिहार के तीन बड़े कारोबारियों को भी छह दुकाने 

सभा कक्ष में डीसी पाठक के अलावे उत्पाद अधीक्षक अवधेश सिंह के अलावे उत्पाद निरीक्षक अनूप कुमार, ललित सौरेन, त्रिपुरारी कुमार समेत शराब कारोबारी शामिल थे. ऑन होने के साथ ही एक के बाद एक कुल 46 दुकानों के खरीदार के रुप में नीरज शाहाबादी एंड समूह का ही नाम सामने आता गया. जानकारों की मानें तो जिलें के 46 दुकानों को हासिल करने में शाहाबादी समूह ने बाजी मारी.

Whmart 3/3 – 2/4

जिसमें समूह संख्या 10 और 35 के आवेदककर्ता खुद नीरज शाहाबादी थे. जबकि शाहाबादी समूह में कुछ विधायक समर्थक के शामिल होने की बात कही जा रही है. शाहाबादी समूह शहर के अलावे जीटी रोड के कई दुकानों में कब्जा करने में सफल हुए. जबकि पूर्व नगर पर्षद अध्यक्ष सह झामुमो नेता दिनेश यादव के समूह के समर्थकों को दो दुकान लेकर ही संतोष करना पड़ा. वैसे ऑलाईन नीलामी की प्रकिया के कारण इस बार भी झारखंड के अलावे बिहार, यूपी के कई बड़े शराब कारोबारियों ने आवेदन डाला था. जिसमें यूपी और बिहार के तीन बड़े कारोबारियों ने भी करीब छह दुकानों को हासिल करने में सफलता पाया.

इसे भी पढ़ें- 40.19 लाख खर्च कर वन विभाग तैयार करेगा एक लाख बांस के पौधे

ये दुकानों की खरीदारी करने में रहे सफल 

इधर नीलामी में दुकानों की खरीदारी करने में सफल रहे दुकानदारों में समूह संख्या 1 के संजीव कुमार, 2 के विक्रम कुमार कुशवाहा, 3 में दीपक जायसवाल, 4 में अविनाश कुमार, 5 में आतिश कुमार, 6 में विश्वनाथ सिंह, 9 में रविकांत सिंह, 10 में नीरज शाहाबादी, 12 के श्याम कुमार सिंह, 13 के लोकनाथ सिंह, 14 के सतीश कुमार, 15 गोंविद खंडेलवाल, 16 रामथल चाैरसिया, 18 वरुण साव, 19 मथुरा मंडल, 20 राजकुमार

, 21 धनजंय कुमार, 22 सुधांशु शेखर, 23 शिवेश भगत, 25 जीतेन्द्र प्रसाद महतो, 26 संजय यादव, 27 राजेश कुमार साह, 28 ट्रेटा सविका सिंह, 29 ललन सिंह, 30 मनोज भटनागर, 31 राजकुमार, 32 चरणजीत सिंह, 33 सत्यदेव प्रसाद, 34 अखिलेशवर प्रसाद, 35 नीरज शाहाबादी, 36 सूजीत सिंह, 37 रवि कुमार, 38 अजीत कुमार मोदी, 39 शंभू राय, 40 लोकनाथ सिंह, 41 नवीन वर्मा समेत अन्य शामिल है. जिलें के कुल 96 शराब दुकानों में 28 देशी, 37 विदेशी और 31 कंपोजिट शराब दुकान शामिल है.

इसे भी पढ़ें- अडाणी के लिए घोषित हुआ गोड्डा में SEZ, सरकार के लिए राज्यहित से बड़ा कॉरपोरेट हित- प्रदीप यादव

न्यूज विंग की अपील


देश में कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि तमाम नागरिक संयम से काम लें. इस महामारी को हराने के लिए जरूरी है कि सभी नागरिक उन निर्देशों का अवश्य पालन करें जो सरकार और प्रशासन के द्वारा दिये जा रहे हैं. इसमें सबसे अहम खुद को सुरक्षित रखना है. न्यूज विंग की आपसे अपील है कि आप घर पर रहें. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like