न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राहुल गांधी को SC का नोटिस, ‘चौकीदार चोर है’ वाले बयान पर 22 अप्रैल तक मांगा जवाब

23 अप्रैल को मामले की होगी अगली सुनवाई, कोर्ट के बयान को गलत तरीके से पेश करने का आरोप

732

New Delhi: राफेल डील को लेकर पीएम मोदी को लगातार घेर रहे राहुल खुद फंसते दिख रहे हैं. रैली, सार्वजनिक स्थानों पर मीडिया से बात करते हुए राहुल लगातार ‘चौकीदार चोर है’ वाला बयान देते नजर आये हैं.

अब इस बयान पर सुप्रीम कोर्ट ने अवमानना का नोटिस भेजा है. और 22 अप्रैल तक मामले पर जवाब मांगा है. मामले की सुनवाई 23 अप्रैल के लिए स्थगित की गई है.

सुप्रीम कोर्ट की बात को गलत तरीके से पेश करने का आरोप

hosp3

बीजेपी नेता मीनाक्षी लेखी ने राहुल के खिलाफ आपराधिक अवमानना की याचिका दायर की थी. राहुल गांधी पर सुप्रीम कोर्ट के बयान को गलत तरीके से पेश करने का आरोप है.

इसे भी पढ़ेंःपूर्व मंत्री योगेंद्र साव ने किया सरेंडर, भेजे गये होटवार जेल

मामले की सुनवाई कर रही चीफ जस्टिस रंजन गोगई की अगुवाईवाली पीठ ने कहा कि राफेल केस को लेकर कोर्ट ने प्रधानमंत्री के खिलाफ कोई टिप्पणी नहीं की है.

उल्लेखनीय है कि बीजेपी नेता मीनाक्षी लेखी ने सुप्रीम कोर्ट में राहुल गांधी के खिलाफ याचिका दायर की थी. शुक्रवार को मिनाक्षी लेखी की ओर से सुप्रीम कोर्ट से अपील की थी.

जिसपर चीफ जस्टिस की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा था कि वह याचिका पर 15 अप्रैल को सुनवाई करेगी.
अपनी याचिका में राहुल गांधी पर आरोप लगाते हुए लेखी ने कहा कि गांधी ने अपनी निजी टिप्पणियों को शीर्ष न्यायालय द्वारा किया गया बताया और लोगों के मन में गलत धारणा पैदा करने की कोशिश की.

मिनाक्षी लेखी की ओर से मामले की जिरह कर रहे वरिष्ठ अधिवक्ता मुकुल रोहतगी ने कोर्ट से कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने टिप्पणी की थी कि ‘अब सुप्रीम कोर्ट ने भी कह दिया, चौकीदार चोर है.’

इसे भी पढ़ेंःगिरिडीह के भेलवाघाटी में मुठभेड़, सीआरपीएफ का जवान शहीद, तीन नक्सलियों के शव बरामद

सुप्रीम कोर्ट ने राफेल पर पुनर्विचार याचिका मंजूर की थी

उल्लेखनीय है कि 10 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट ने सरकार की आपत्तियों को दरकिनार करते हुए राफेल मामले में रिव्यू पिटिशन पर नए दस्तावेज के आधार पर सुनवाई की फैसला किया था.

इस दौरान कोर्ट ने कहा था कि नए दस्तावेज डोमेन में आए हैं, उन आधारों पर मामले में रिव्यू पिटिशन पर सुनवाई होगी. उच्चतम न्यायालय में याचिका मंजूर होने के बाद राहुल ने मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए कहा था कि अब सुप्रीम कोर्ट ने मान लिया है कि चौकीदार चोर है.

इसे भी पढ़ेंःइंटरनेट की दुनिया : जॉर्ज ओरवेल के प्रसिद्ध उपन्यास 1984 का वाक्य है…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: