JharkhandLead NewsRanchi

चाईबासा जिला खनन पदाधिकारी पर भड़के सरयू राय, कहा- कानून से हैं ऊपर

Ranchi : विधायक सरयू राय चाईबासा जिला खनन पदाधिकारी से नाराज हैं. उन्होंने सीएम हेमंत सोरेन से इसकी शिकायत की है. ट्विटर पर भी उन्होंने अपना गुस्सा जाहिर किया है. सरयू राय के मुताबिक डीएओ खुद को कानून से ऊपर समझते हैं.

चाईबासा के लौह अयस्क को निजी संपत्ति समझ लिया गया है. एक ऐसी खदान, जिसका लीज रद्द है, वहां से लौह अयस्क का उठाव गलत तरीके से हो रहा. सरकार इस पर संज्ञान ले.

advt

इसे भी पढ़ें :लातेहार में मारा गया युवक नक्सली नहीं, ग्रामीण है

बगैर परमिशन दिया माल उठाव और सप्लाई का पावर

सरयू राय के मुताबिक डीएमओ ने रद्द खदान की लीज को अपना समझ लिया है. यही कारण है कि उन्होंने दो कंपनियों को मनमानी करने की छूट दी है.

खदान से लौह अयस्क रेल मार्ग से ढोकर विशाखापत्तनम ले जाया जा रहा है. इसके लिए डीएमओ ने ‘ग्लोबल ट्रेडर्स और अनिमेष इस्पात’ को अनुमति दे दी है. यह गंभीर मसला है.

इसे भी पढ़ें: GOOD NEWS : ब्लैक फंगस की दवा टैक्स फ्री, मेडिकल उपकरणों सहित कई दवाओं पर GST में भारी कटौती

करमपदा माइंस की लीज हो चुकी है कैंसिल

जानकारी के मुताबिक चाईबासा में करमपदा माइंस की लीज की अवधि 2019 में ही समाप्त हो गयी थी. बावजूद इसके वहां से आयरन ओर का उठाव जारी है. सरयू राय लगातार करमपदा माइंस को लेकर सवाल उठाते रहे हैं.

सीएम को भी इसके लिए लेटर लिख चुके हैं. यह मामला हाइकोर्ट में भी सुनवाई में है. झारखंड सरकार के अपर मुख्य सचिव, वन, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन विभाग ने झारखंड के लौह अयस्क खनन पट्टाधारियों द्वारा की गयी अनियमितताओं के बारे में सुनवाई की थी.

इसके बाद शाह ब्रदर्स की करमपदा लौह अयस्क खदान का पट्टा रद्द करने की अनुशंसा की थी. इस अनुशंसा के बाद 4 जनवरी, 2019 को शाह ब्रदर्स का खनन पट्टा रद्द करने की अधिसूचना निर्गत की गयी थी.

इसे भी पढ़ें :संडे लॉकडाउन: शहर के चौक-चौराहों पर होगी मास्क चेकिंग, जरूरत पड़ी तो अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: