Sahibganj

साहेबगंजः गैंगरेप के विरोध में बंद रही दुकानें, दोषियों की गिरफ्तारी के लिए लोगों का प्रदर्शन

Sahebganj: नाबालिग के साथ हुए गैंगरेप के खिलाफ साहेबगंज के लोगों में आक्रोश देखने को मिल रहा है. शहर की दुकानें मंगलवार को बंद रही और स्थानीय लोगों ने सड़क जाम कर दोषियों की गिरफ्तारी की मांग की.

उल्लेखनीय है कि सोमवार को शहर के संत जेवियर स्कूल की सातवीं की छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कर्म हुआ. बानरवा टोली सकरुगढ़ में चार लोगों ने जबरन छात्रा को उठाकर स्कॉर्पियो गाड़ी में घटना को अंजाम दिया.

इसे भी पढ़ेंःअंतरराष्ट्रीय स्तर पर सांस्कृतिक पर्यटन स्थल के रूप में हो देवघर की ख्याति : रघुवर दास

हालांकि, लड़की के पिता व नगर थाना की पुलिस के मौके-ए-वारदात पर पहुंचने से दो अपराधियों को तत्काल पकड़ा जा सका था. जबकि दो फरार होने में सफल रहे.

फरार आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए प्रदर्शन

फरार दो आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए लोगों ने मंगलवार को विरोध-प्रदर्शन किया. शहर की तमाम दुकानों को लोगों ने स्वेच्छा से बंद रखा. इस दौरान स्टेशन चौक को जामकर लोग सड़क पर धरने पर बैठ गये और नारेबाजी करने लगे.

पीड़िता का मेडिकल समय से नहीं कराये जाने से लोग नाराज थे. साथ ही दोषिय़ों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की मांग की.

इसे भी पढ़ेंःदेशभर में CBI की रेडः झारखंड के पांच शहरों में छापेमारी, रांची के तीन ठिकानों पर छापा

24 घंटे में कार्रवाई का आश्वासन

घटना के विरोध में प्रदर्शन कर रहे लोगों को समझाने के लिए पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी. सड़क जाम की सूचना मिलते ही एसडीपीओ नवल शर्मा, इंस्पेक्टर राम सागर तिवारी, नगर थाना प्रभारी सुनील टोपनो, जीरवाबाडी थाना प्रभारी विनोद कुमार, मुफ्फसिल थाना प्रभारी राम हरीश निराला व मिर्जाचौकी थाना प्रभारी अशर्फी राम समेत पुलिस लाइन से भारी संख्या में फोर्स स्टेशन चौक पहुंची.

बाद में एसडीपीओ ने आश्वसन दिया कि 24 घंटे के अंदर फरार दोनों आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार करेगी. और अपराधियों को सख्त से सख्त सजा हो उसकी मुक्कमल तैयारी की गयी है.

जिसके बाद लोगों ने प्रदर्शन बंद किया और जाम हटाया. खबर लिखे जाने तक लड़की का मेडिकल करवाया जा चुका था. प्राथमिकी दर्ज कर पकड़े गये दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश भी किया जा चुका है.

इसे भी पढ़ेंःरिम्स प्रबंधन की नाकामी, टेंडर समाप्त होने के बाद भी काम कर रहीं आउटसोर्सिंग एजेंसियां

Related Articles

Back to top button