Khas-KhabarRanchi

देशभर में CBI की रेडः झारखंड के पांच शहरों में छापेमारी, रांची के तीन ठिकानों पर छापा

Ranchi: सीबीआइ ने मंगलवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए देश के 19 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में छापेमारी की है.कथित भ्रष्टाचार, आपराधिक कदाचार और हथियारों की तस्करी के नये मामलों के सिलसिले में 110 स्थानों पर छापेमारी हो रही है.

इसी क्रम में सीबीआइ की टीम झारखंड के अलग-अलग शहरों में अलग-अगल विभाग के अधिकारियों के पांच ठिकानों पर छापेमारी कर रही है. इनमें साहेबगंज, रांची, धनबाद, बोकारो और जमशेदपुर शामिल है.

इसे भी पढ़ेंःबड़ी कार्रवाईः 19 राज्यों के 110 स्थानों पर सीबीआइ की छापेमारी, 30 मामले दर्ज

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के अधिकारी के ठिकाने पर रेड

मंगलवार को सीबीआई की टीम राज्य में कर्मचारी भविष्य निधि संगठन में कार्यरत दो अधिकारी और एक सेवानिवृत्त अधिकारी के रांची तीन ठिकानों पर छापेमारी कर रही है.

भविष्य निधि संगठन में सीनियर सोशल सिक्योरिटी असिस्टेंट के पद पर कार्यरत विजय लकड़ा के रांची के एदेलहातू, भिठा रोड स्थित आवास और साहेबगंज के सकरोगढ़ मंदिर चौक स्थित आवास पर छापेमारी की जा रही है.

adv

वही भविष्य निधि संगठन से रिटायर अधिकारी जेके रॉय के रांची के पूरण विहार स्थित आवास में छापेमारी कर रही है. इसके साथ ही भविष्य निधि संगठन में असिस्टेंट एकाउंट्स ऑफिसर, जो फिलहाल जमशेदपुर में पोस्टेड हैं, उनके जमशेदपुर के डिमना मानगो राजीव पथ स्थित शिवाजी कंपलेक्स के A-106 में छापेमारी हो रही है.

इसे भी पढ़ेंःBCCL के जीएम कल्याण प्रसाद के कई ठिकानों पर चल रहा CBI का छापा, बढ़ी मुश्किलें   

BCCL जीएम कल्याण प्रसाद के कई ठिकानों पर भी छापेमारी

इधर धनबाद में बीसीसीएल के जीएम कल्याण प्रसाद के कई ठिकानों पर भी सीबीआइ ने अपनी कार्रवाई की है. मंगलवार सुबह से ही सीबीआइ की टीम ने कल्याण प्रसाद के धनबाद, बोकारो और दिल्ली स्थित ठिकानों पर छापेमारी कर रही है.

जानकारी के मुताबिक, कल्याण प्रसाद फिलहाल बीसीसीएल में जीएम सीएसआर के पद पर कार्यरत हैं. आय से अधिक संपत्ति मामलों में सीबीआइ कल्याण प्रसाद के खिलाफ कार्रवाई कर रही है.

सीबीआइ की टीम कल्याण प्रसाद के धनबाद में 6, बोकारो में 6 और दिल्ली के कई ठिकानों पर छापामारी कर रही है. इससे पहले कल्याण प्रसाद बीसीसीएल के लोदना क्षेत्र के महाप्रबंधक रहे हैं.

इस दौरान उनके खिलाफ भ्रष्टाचार और अनियमितता की कई शिकायतें भी सीबीआइ के पास आयी थीं.

इसे भी पढ़ेंःरिम्स प्रबंधन की नाकामी, टेंडर समाप्त होने के बाद भी काम कर रहीं आउटसोर्सिंग एजेंसियां

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: