DhanbadJharkhand

नियम कानून का हवाला देकर पीड़िता को इलाज से रखा वंचित

विज्ञापन

Dhanbad: नियम कानून के नाम पर स्वास्थ्य कर्मी जरूरतमंदों क़ो कैसे इलाज से वंचित रखते हैं, इसका नजारा जोरापोखर सह झरिया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में देखने क़ो मिला. झरिया के जोरापोखर थाना क्षेत्र की रहनेवाली मुस्कान परवीन क़ी उसके पड़ोस में रहनेवाले नरेश साव और उसके परिजनों ने बेरहमी से पिटाई कर दी, जिससे मुस्कान गंभीर रूप से घायल हो गयी.

देखें वीडियो-

इसे भी पढ़ें – सुरेश सिंह हत्याकांड: दून बहादुर ने दी गवाही, कहा-शशि सिंह ने की हत्या

advt

घायल अवस्था में ही मुस्कान के परिजन उसे जोरापोखर थाने में मामला दर्ज करवाने पहुंचे, पर थाने में घायल मुस्कान की शिकायत नहीं ली गयी. इसके बाद परिजन उसे इलाज के लिए झरिया के जोरापोखर सह झरिया स्वास्थ्य केंद्र ले गये जहां चिकित्सकों ने यह कह कर इलाज नहीं किया कि मामला गंभीर है. इसलिए पहले थाने से इनज्यूरी रिपोर्ट लाने की बात कही. काफी देर तक स्वास्थ्य केंद्र में रहने के बाद भी इलाज नहीं होने पर जब न्यूज़ विंग की टीम ने स्थानीय जोरापोखर थाने में मामले की तहकीकात की तो पुलिस अधिकारी चतरभुज उड़ान ने टीम क़ो बताया की युवती काफी गंभीर रूप से घायल थी, इसलिए पहले उसे इलाज के लिए कहा गया था. इसलिए कोई रिपोर्ट नहीं दी गयी थी. फिलहाल इस मामले में एफ़आइआर दर्ज कर लिया गया है. आरोपी की गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है. फिलहाल घायल युवती का इलाज धनबाद के पीएमसीएच में चल रहा है.

इन घटनाओं से धनबाद जिले में महिलाओं की सुरक्षा पर सवाल खड़े हो रहे हैं. तीन दिन में दुराचार की तीन वारदात के बाद जिला पुलिस गंभीरता से नही ले रही है. इससे पुलिस के द्वारा महिलाओं को सुरक्षा देने की बात हवा हवाई ही दिख रही है.

इसे भी पढ़ें- देखें वीडियोः पानी मांगने गये लोगों को पार्षद ने दुत्कारा, कहा- आप वोटर नहीं, अपने मकान मालिक से मांगें पानी

Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close