ChaibasaJharkhandNEWS

चाईबासा : गर्मी में हलक तर करने को बियर प्रेमी बेकरार, चैंबर ने लगायी उपायुक्त से गुहार

चैंबर प्रतिनिधिमंडल ने डीसी को बताया - स्टॉक उपलब्ध नहीं होने पर पूरे जिले के अनुज्ञाधारियों को होगा कुल 11 करोड़ का नुकसान

Chaibasa : चाईबासा के शराब प्रेमियों को इस चिलचिलाती गर्मी में ठंडी बियर नहीं मिल रही. बियर प्रेमी इस गर्मी में हलक तर करने को बैचेन हैं. यही नहीं, जिले में लोकप्रिय ब्रांडों की शराब की आपूर्ति भी नहीं हो रही. मैक्डॉवल नंबर 1, इंपीरियल ब्लू, ऑफिसर्स चॉइस, रॉयल चैलेंज, रॉयल स्टैग, ब्लेंडर्स प्राइड और स्टर्लिंग जैसे जैसे ब्रांडों के शौकीनों को या तो मजबूरन उपलब्ध ब्रांड से समझौता करना पड़ रहा है. इसका असर शराब के खुदरा कारोबार पर पड़ रहा है. इन्हीं सब बातों को लेकर बुधवार को चाईबासा चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के एक प्रतिनिधिमंडल ने अध्यक्ष मधुसूदन अग्रवाल के नेतृत्व में  पश्चिमी सिंहभूम के उपायुक्त को एक ज्ञापन सौंपा. ज्ञापन में पश्चिमी सिंहभूम जिले में शराब के एकमात्र थोक विक्रेता विश्वा इंटरप्राइजेज द्वारा अनुज्ञाधारियों को स्कंध उपलब्ध नहीं करने की बात को प्रमुखता से रखा गया है.

बता दें कि वर्ष 2019 में सरकार ने तीन साल के लिए इ-लॉटरी के माध्यम से विदेशी /देशी /कंपोजिट शराब दुकानों को लाइसेंस दिया था. इन  दुकानों का लाइसेंस 31 मार्च 2022 को समाप्त हो रहा था, लेकिन सरकार के आदेश पर इसे 30 अप्रैल  तक बढ़ाया गया है. इस बढ़ी हुई अवधि में विश्वा इंटरप्राइजेज द्वारा पॉपुलर ब्रांड उपलब्धत नहीं कराये जा रहे हैं. कहा गया है कि अप्रैल के महीने से बियर की मांग बढ़ जाती है. प्रतिदिन की विक्रय राशि में 75 से 80 प्रतिशत सहयोग बियर का ही होता है. लेकिन  थोक विक्रेता के पास बियर की उपलब्धता नहीं होने से परेशानी हो रही है. अप्रैल में ही  अग्रिम उत्पाद परिवहन कर का सामंजन किया जाना है. लेकन विश्वा इंटरप्राइजेज द्वारा पर्याप्त मात्रा में शराब और बियर नहीं देने के कारण बिक्री में भारी गिरावट आयी है. इससे अनुज्ञाधारी उत्पाद परिवहन कर जमा नहीं कर सकेंगे और उन्हें भारी फाइन  देना पड़ेगा.

ज्उञापन में उपायुक्त से आग्रह किया गया है कि शराब लाइसेंसधारकों को जुर्माने से बचाने और उनके हितों की रक्षा के लिए उत्पाद आयुक्त उत्पाद से उठाव के अनुरूप ही उत्पाद परिवहन कर की कटौती के लिए आग्रह करें तथा थोक विक्रेता विश्वा इंटरप्राइजेज को अविलंब स्टॉक उपलब्ध करने के लिए निर्देश दें. प्रतिनिधिमंडल में निवर्तमान अध्यक्ष नितिन प्रकाश, उपाध्यक्ष विकास गोयल, सचिव संजय चौबे, सदस्य मनीष सिंह अनुज्ञाधारी शशि सिंह, मनोज सिंह, पलक चावला, राज यादव, कामेश्वर गोप आदि उपस्थित थे.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढ़ें – चाईबासा: चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज ने एसपी आशुतोष शेखर का क‍िया स्‍वागत, म‍िला ये भरोसा

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

Related Articles

Back to top button