न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#CAB के खिलाफ #JamiaMilia में हिंसक प्रदर्शन के बाद शांति, लेकिन घर लौटते दिखे कई छात्र

580

NewDelhi: राजधानी दिल्ली में रविवार को CAB के खिलाफ प्रदर्शन ने हिंसक रूप ले लिया था. प्रदर्शनकारियों ने साउथ दिल्ली की न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में जमकर उत्पात मचाया था. उसके बाद सोमवार को सुबह सन्नाटा परसा है. जामिया यूनिवर्सिटी के छात्र अब कैंपस छोड़कर जा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- #JharkhandElection: 4th फेज में 15 विधानसभा सीटों के 6101 केंद्रों पर वोटिंग शुरू

जामिया कैंपस में प्रदर्शन पर छात्रों का मिडनाइट प्रोटेस्ट खत्म हो गया. पुलिस मुख्यालय पर भी देर रात 50 छात्रों की रिहाई कर दी गयी जिसके बाद बाद प्रदर्शन बंद कर दिया गया. पुलिस ने देर रात दिल्ली के कालकाजी पुलिस स्टेशन से 35 छात्रों को छोड़ा. वहीं फ्रेंड्स कॉलोनी से 15 छात्रों को भी रिहा किया गया.

जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के छात्र भी शामिल थे

जान लें कि रविवार को बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारियों ने जामियानगर से ओखला मार्च निकाला. प्रदर्शनकारियों में जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के छात्र भी शामिल थे.  स क्रम में  पुलिस के साथ उनकी भिड़ंत हो गयी.

इसे भी पढ़ें- #Palamu में एक और घोटाला: शौचालय निर्माण में 39 लाख का गबन, कॉन्ट्रेक्टर, जलसहिया, ब्लॉक कॉर्डिनेटर की मिलीभगत

इसके बाद  प्रदर्शनकारियों ने आगजनी  शुरू कर दी. इसके बाद पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठीचार्ज किया. प्रदर्शनाकरियों ने पथराव कर कुछ बसों के शीशे भी तोड़ दिये थे. हाथों में तिरंगा और प्लेकार्ड लिये प्रदर्शनकारी नये नागरिकता कानून के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे. प्रदर्शन से सड़क यातायात बाधित हो गया था.

राजधानी दिल्ली में शुक्रवार को भी हिंसक प्रदर्शन के बीच  हिंसा  भड़क गयी थी.  जामिया मिलिया इस्लामिया के स्टूडेंट्स को पुलिस ने बीच मार्च रोक लिया.  वे कानून के विरोध में यूनिवर्सिटी से संसद की तरफ मार्च करने वाले थे.  इस क्रम में पुलिस और स्टूडेंट्स के बीच हिंसक झड़प हुई जिसमें पुलिसकर्मी और स्टूडेंट्स दोनों घायल हुए.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like