JamshedpurJharkhand

पटमदा: ग्रेडिंग परिणाम को लेकर रहेगी उत्सुकता, बेचैनी बढ़ी

Patamda : नैक टीम के दो दिवसीय दौरे को लेकर पिछले कई दिनों से जारी पटमदा डिग्री कॉलेज जाल्ला से जुड़े सभी लोगों की कड़ी मेहनत से भले ही फिलहाल छुटकारा मिले. लेकिन नैक टीम की ओर से शुक्रवार को तैयार रिपोर्ट के बाद परिणाम जानने की उत्सुकता बेचैनी बढ़ाने वाली है. आखिर हो भी क्यों नहीं, भविष्य का सवाल है. महीने की 7 से 8 हजार की सैलरी पर इस कॉलेज में पढ़ाने वाले शिक्षक एवं 2 से 4 हजार रुपये में काम करने वाले शिक्षकेत्तर कर्मचारियों को उम्मीद है कि नैक ग्रेडिंग अगर बेहतर हुआ तो उनके लिए अच्छे दिन आ सकते हैं.

प्राप्त जानकारी के अनुसार कुल 4 अंकों के लिए ही नैक (राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद) की टीम कॉलेज का निरीक्षण करती है. उसमें 1.5 से ऊपर आने पर ही पास माना जाता है अन्यथा इस परीक्षा में फेल कहलाता है. अगर कम से कम 2.5 अंक आते हैं तो उस कॉलेज को बी प्लस का ग्रेड मिलता है. बी प्लस का ग्रेड मिलने पर रूसा (राष्ट्रीय उच्च शिक्षा अभियान) से 2 करोड़ रुपए का वित्तीय अनुदान प्रतिवर्ष मिलता है.  इसमें 60 प्रतिशत केंद्रांश एवं 40 प्रतिशत राज्यांश होता है.

इस संबंध में नैक टीम के सदस्य डा0 पंकज कुमार देवनाथ ने बताया कि कॉलेज को नैक ग्रेडिंग के बाद भी कई शर्त्तों को पूरा करना होता है. उन्होंने बताया कि 2 (एफ) और 12 (बी) का प्रमाण पत्र प्राप्त करने के बाद कॉलेज को केंद्र सरकार से कई प्रकार का अनुदान मिलता है. अब तक पटमदा डिग्री कॉलेज को कोल्हान विश्वविद्यालय से प्रतिवर्ष लाखों रुपए का ही अनुदान मिल रहा है जिससे कॉलेज का अपेक्षित विकास या कर्मियों को उचित मानदेय संभव नहीं हो पा रहा है. कुल मिलाकर कॉलेज प्रबंधन एवं इससे जुड़े सभी लोगों को परिणाम जानने का बेसब्री से इंतजार होगा.

Catalyst IAS
ram janam hospital

इसे भी पढ़ें – The Legend of Birsa Munda : आखिर रांची से बिरसा गौरव यात्रा का शुभारंभ क्यों करना चाहते हैं तुहिन सिन्हा

The Royal’s
Sanjeevani

Related Articles

Back to top button