HEALTHJharkhandPalamu

Palamu: पूर्व स्वास्थ्य मंत्री के इलाके में तीन वर्ष पहले बने हॉस्पिटल का अबतक नहीं हुआ उद्घाटन

Palamu: राज्य के तत्कालीन स्वास्थ्य मंत्री रामचन्द्र चन्द्रवंशी के कार्यकाल में उनके कार्यक्षेत्र विश्रामपुर के गुरी में तीन वर्ष पहले बने हॉस्पिटल का अबतक उद्घाटन नहीं हुआ है. केवल ठेकेदारी के लिए भवन बनाकर छोड़ दिया गया है. यहां बता दें कि राज्य के तत्कालीन मुख्यमंत्री रघुवर दास के कार्यकाल में बड़े पैमाने पर हॉस्पिटल भवन बनाए गए, लेकिन अधिकतर का उद्घाटन नहीं हुआ. जिले में बने ऐसे कई हास्टिपल भवन इसके उदाहरण हैं. अगर उद्घाटन हुआ भी तो वहां चिकित्सा के लिए आधारभूत संरचना का विकास नहीं किया गया.

इसे भी पढ़ें :चतरा में मुर्दे निकाल रहे हें बैंक से राशि, मृत मनोहर के खाते से ग्यारह हजार की निकासी

विश्रामपुर के गुरी में पंचायत स्तर पर बना हॉस्पिटल कुछ इसी की स्थिति बयां करता है. चार वर्ष पहले विधायक रामचन्द्र चन्द्रवंशी के स्वास्थ्य मंत्री रहते हुए उनके द्वारा शिलान्यास किया गया.

तीन वर्ष पहले जब हॉस्पिटल बनकर तैयार हो गया, उस समय भी विधायक चन्द्रवंशी ही थे और आज भी हैं. उस दिन से आज तक हॉस्पिटल का उद्घाटन नहीं हुआ और ना ही कोई सुविधा उपलब्ध करायी गयी.

advt

इस हॉस्पिटल के अंदर घास, फूस, जहरीले सांप, बिच्छू, जीव जन्तुओं का बसेरा हो गया है. हॉस्पिटल के अंदर किसी खिड़की का शीशा टूटा है तो किसी में दरवाजा ही नहीं है और कहीं-कहीं बिल्डिंग में दरार पड़ गई हैं और रंग पेंट भी छूट गया है.

इसे भी पढ़ें :कांग्रेसी विधायकों ने रखी डिमांड, चुनावी घोषणा पत्र को पूरा करने में सरकार दिखाये गंभीरता

ग्रामीणों का कहना है कि जब इस हॉस्पिटल में कोई सुविधा उपलब्ध नहीं है तो हॉस्पिटल बनने और न बनने से उन्हें क्या फायदा?

ग्रामीण ने बताया कि किसी भी प्रकार की अप्रिय स्थिति जैसे, सड़क दुर्घटना, बुखार, सर्दी, खांसी, सांप के काटने, बिच्छू के डंक मारने, ऑपरेशन आदि पर उन्हें गांव में हॉस्पिटल होने के बावजूद 30 किलो मीटर दूर जाना पड़ता है.

कभी-कभी यह भी होता है कि सड़क दुर्घटना होने के बाद सही समय पर इलाज नहीं होने के कारण जख्मी की मौत हो जाती है. इस हाॅस्पिटल में सारी सुविधाएं उपलब्ध हो जाए तो इलाज के लिए गांव से बाहर नहीं जाना पड़ेगा.

इसे भी पढ़ें :नये गवर्नर रमेश बैस पहुंचे रांची, सीएम और सीएस ने किया स्वागत, कल लेंगे शपथ

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: