Palamu

Palamu: बालू के अवैध खनन पर सतबरवा में कार्रवाई, पांकी में दिनदहाड़े अवैध खनन

Palamu: पलामू जिले के सतबरवा थाना क्षेत्र में सोमवार को कार्रवाई कर बालू के अवैध उत्खनन में लगे आधा दर्जन ट्रैक्टरों को जब्त किया गया. सारे ट्रैक्टर औरंगा नदी के आसपास के क्षेत्रों से बालू का उठाव कर रहे थे. इस बीच जिले के पांकी प्रखंड क्षेत्र में दिनदहाड़े बालू का अवैध खनन करते कई ट्रैक्टरों को अमानत नदी में देखा गया. एक तरफ कार्रवाई और दूसरी तरफ दिन के उजाले में अवैध खनन होने से कई तरह के चर्चे हैं.

Jharkhand Rai

इसे भी पढ़ेंः दिलचस्प होगा बेरमो का मुकाबला : राजेंद्र सिंह का परिवार 9वीं बार तो बाटुल 5वीं बार मैदान में

एसडीएम ने छह ट्रैक्टरों को पकड़ा

मेदिनीनगर सदर एसडीओ अजय सिंह बड़ाइक सतबरवा थाना क्षेत्र के फुलवरिया स्थित औरंगा नदी के आसपास के क्षेत्रों में छापेमारी अभियान चलाकर आधा दर्जन भर ट्रैक्टरों को पकड़ा और सतबरवा पुलिस को सौंप दिया है. पकड़े गए ट्रैक्टरों में चार खाली और दो पर बालू लदा हुआ था. बताया जाता है कि एसडीएम सुबह सात बजे से करीब पूर्वाह्न 11 बजे तक करीब चार घंटे तक बालू लदे ट्रैक्टर पकड़ने का विशेष अभियान चलाया. वहीं इस दौरान चार खाली ट्रैक्टर को भी पकड़ा गया है, जबकि दो खाली ट्रैक्टर भागने में सफल रहे. इस दौरान अपने घर के दरवाजे पर खड़े एक ट्रैक्टर ड्राइवर की पिटाई एसडीएम के बॉडीगार्ड ने डंडे से कर दी.

चालक ने बताया कि फुलवरिया औरंगा नदी से आठ किमी दूर रांची-डाल्टनगंज पथ पर स्थित पोंची में अपने आवास के पास गाड़ी लगाकर ट्रैक्टर में काम कर रहा था. इस दौरान एसडीएम के बॉडीगार्ड ने उसकी पिटायी कर दी. इधर गाड़ी के कई मालिकों ने बताया कि उनकी गाड़ी को चालक नदी में कपड़ा साफ करने और नहाने लेकर गया था. इस दौरान एसडीएम साहब ने गाड़ी को पकड़ लिया. इस अवधि में स्थानीय पुलिस की भी सहायता नहीं ली गई.

Samford

मालूम हो कि सतबरवा से करीब छह किमी दूर फुलवरिया और औरंगा नदी तट है. यह क्षेत्र जंगल पहाड़ों से घिरा हुआ इलाका है. थाना प्रभारी रूपेश कुमार दुबे ने ट्रैक्टर पकड़े जाने की पुष्टि की है. उन्होंने बताया कि एसडीओ साहेब ने छह ट्रैक्टर पकड़कर पुलिस को जिम्मे पर सौंप दिया. इसमें चार खाली और दो ट्रैक्टर में बालू लदा है.

इसे भी पढ़ेंः झारखंड में 6 महीने से वेंटिलेटर पर है RTI

अमानत नदी में दिनदहाड़े उत्खनन

उधर, पांकी प्रखंड क्षेत्र के सगालीम स्थित अमानत नदी घाट से दिन के उजाले में बालू के अवैध कारोबार हो रहा है. प्रतिदिन सैकड़ों ट्रैक्टर बालू खनन कर उच्च दामों में बेचा जा रहा है. गौरतलब है कि 9 जून से 15 अक्टूबर तक नदी घाटों से बालू उठाव पर सरकार रोक लगा दी है. इसके बावजूद बालू माफिया और ट्रैक्टर मालिक सोने की इस काली कमाई में जोर-शोर से जुटे हैं. सुबह 4 बजे से ही दर्जनों मजदूर बालू खनन करते नजर आते हैं. यहां से बालू का उठाव कर आसपास प्रखंडों में भेजा जाता है.

नाम नहीं छापने के शर्त पर कई ट्रैक्टर चालकों ने बताया कि बालू के अवैध कारोबार का छूट पंचायत ने दे रखी है. पंचायत में बैठक कर एक कमेटी का गठन किया गया है. कमेटी इस धंधे से जुड़े लोगों से प्रति ट्रैक्टर सौ रुपए वसूली करते हैं. ग्रामीणों ने बताया कि पहले उन्हें ढाई से तीन सौ रुपए प्रति ट्रैक्टर बालू मिलता था, लेकिन अभी 500 से एक हजार प्रति ट्रैक्टर बालू मिल रहा है.

पांकी के सगालीम अमानत नदी घाट के अलावे पांकी के सरैया, भर्री, बोरोदिरी, ताल, ढूब, डंडारकला, माड़न, पीरी मोड़ अमानत नदी से बालू का अवैध कारोबार हो रही है. खनन पदाधिकारी मनोज टोप्पो ने बताया कि बालू खनन को लेकर तमाम कार्रवाई की जा रही है. फिर भी अगर यह कारोबार चल रहा है तो उसे रोकने के लिए प्रयास किया जाएगा.

इसे भी पढ़ेंः विवाद सुलझाने को मीडिया के सामने बैठेगी मेयर और नगर आयुक्त की पंचायत

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: