न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नगर निगम का सब्जी दुकानदारों पर चला डंडा, विरोध में किया रोड जाम

दो घंटे बाधित रही यातायात व्यवस्था

31

Ranchi: एक तरफ राज्य की रघुवर सरकार फूटपाथ में दुकान लगाने वाले के लिए वेंडर मार्केट बना कर कल्याणकारी कार्य का दावा कर रही है. वही दूसरी ओर वही सरकार अब फूटपाथ दुकानदार को जबरन दुकान लगाने से रोक रही है. मामला कांके रोड स्थित गांधीनगर के पास का है. जहां पिछले 50 सालों से सैकड़ों की संख्या में दुकानदार फुटपाथ पर अपनी दुकानें लगाते हैं.
इनमें सबसे अधिक संख्या सब्जी विक्रेताओं की है. इसके अलावा बड़ी संख्या में आसपास के ग्रामीण भी यहां आकर दुकान लगाकर अपना पेट पालते हैं.

इसे भी पढ़ें- गिरफ्तार पारा शिक्षक भेजे गए जेल, लगी आठ संगीन धाराएं, रांची के बाद दूसरे जिलों के पारा शिक्षक भी…

शनिवार सुबह अचानक रांची नगर निगम के द्वारा फुटपाथ दुकानदारों को जबरन हटाया जाने लगा. इसके विरोद्ध में आक्रोशित दुकानदार सड़क पर उतर आए और अपनी सब्जियां सड़क पर रख जमकर हंगामा किया. वहीं नाराज सब्जी विक्रेता और दूसरे दुकानदारों ने कांके रोड को जाम कर दिया और लगभग 2 घंटे तक यातायात व्यवस्था को बाधित कर दिया.

नगर निगम का है आदेश

इस संदर्भ में अभियान चलाने वालों का कहना है कि यह आदेश नगर निगम प्रशासन की तरफ से दिया गया है. दरअसल निगम के द्वारा एक आदेश पारित किया गया है कि कांके डैम, सीएमपीडीआई गेट और गांधीनगर गेट के पास प्रतिदिन लगने वाले सब्जी मार्केट को हटाया जाये. इसी आदेश के आलोक में शनिवार सुबह नगर निगम के कर्मचारियों के द्वारा फुटपाथ मार्केट हटाया जा रहा था.

इसे भी पढ़ें- एसडीएम मैडम कहती रहीं No लाठीचार्ज, सिपाही पारा शिक्षकों पर बरसाते रहे लाठियां, एसडीएम ने कहा- गलत…

भाजपा नेता पर आरोप

इस मामले पर 50 साल से बेच रहे सब्जी विक्रेताओं ने कहा कि यह एक भाजपा नेता की साजिश है. उसी के इशारे पर उनकी दुकानें हटाई जा रही हैं, लेकिन वे कुछ भी हो जाए यह जगह नहीं छोड़ेंगे. एक महिला ने बताया कि वह भी पिछले 50 सालों से इसी जगह पर सब्जी बेच रही है, कभी किसी को कोई दिक्कत नहीं हुई. लेकिन अब एक साजिश के तहत उन्हें यहां से हटाया जा रहा है.

पुलिस ने समझाकर शांत करवाया मामला

हंगामे की सूचना पाकर गोंदा पुलिस मौके पर पहुंची और आक्रोशित भीड़ को समझा बुझाकर शांत करवाया. इस दौरान नगर निगम की टीम मौके पर नहीं पहुंची. हालांकि सब्जी विक्रेताओं ने कहा है कि वह नगर निगम में जाकर अधिकारियों के सामने अपनी बातें रखेंगे.

इसे भी पढ़ेंःएक लाख करोड़ के ऑन गोईंग प्रोजेक्ट की रफ्तार धीमी, आपूर्तिकर्ताओं…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: