न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

झारखंड में तीन रुपये बढ़ी मनरेगा मजदूरी, 2019-20 के लिए जारी की गयी नयी दर

झारखंड में अभी 24 लाख एक्टीव मनरेगा मजदूर हैं.

193

Ranchi : राज्य में मनरेगा मजदूरी दर 2019-20 में तीन रुपये बढ़ाया गया है. पिछले साल के मुकाबले सिर्फ एक पैसे की बढ़ोतरी की गयी थी. राज्य के मनरेगा मजदूरों को अब 171 रुपये दिये जाएंगे. राज्य में न्यूनतम मजदूरी दर भी 239 रुपये है.

देशभर के मनरेगा के आंकड़ों के मुताबिक, प्रति वर्ष सालाना दैनिक मजदूरी दस रुपये तक बढ़ता है, लेकिन उस लिहाज से झारखंड में हर साल सिर्फ 1 रुपये के औसत से ही बढ़ोतरी होती है. झारखंड में अभी 24 लाख एक्टीव मनरेगा मजदूर हैं.

वहीं झारखंड के साथ ही बिहार के मनरेगा मजदूरों की हालत भी पस्त ही है. बिहार में मजदूरी दर 2 रुपये प्रतिदिन बढ़ाया गया है. देश के विभिन्न राज्यों में मनरेगा मजदूरी एक रुपये से लेकर 17 रुपये तक बढ़ी है.

hosp3

औसतन 10 रुपये भत्ता बढ़ता है प्रतिवर्ष, झारखंड में एक रुपया

देशभर के मनरेगा के आंकड़ों के मुताबिक, सालाना दस रुपया दैनिक भत्ता बढ़ता है. लेकिन झारखंड में पिछले साल के आंकड़े को देखें तो सिर्फ एक पैसा ही बढ़ा था. 2016-2017, 2017 -2018  के आंकड़ों के हिसाब से भी एक रुपया ही भत्ता बढ़ा था.

बिहार के मनरेगा मजदूरों की स्थिति भी झारखंड के जैसी ही है. वहीं  पिछले चार सालों में बिहार में मनरेगा मजदूरों की दैनिक भत्ते में सिर्फ 16 पैसे की बढ़ोतरी हुई है.

एक्सपर्ट बताते हैं कि दैनिक भत्ते के कम होने की वजह से मजदूर मनरेगा योजना के तहत काम नहीं करना चाहते हैं.

इसे भी पढ़ें – इरफान अंसारी के बगावती तेवर, कहा ‘खुद को मार कर जेवीएम को जिंदा कर रही कांग्रेस’

राज्य की न्यूनतम मजदूरी 239 रुपये, मनरेगा से मिलेगा 171 रुपया

राज्य के मजदूरों के लिए न्यूनतम मजदूरी दर 239 रुपये है. वहीं राज्य के मनरेगा मजदूरों को 167 रुपये दिये जाते हैं. नए दर के हिसाब से अब 171 रुपये मजदूरी दिये जाएंगे.

राज्य के मजदूरों को करीब 69 रुपये कम मिलेंगे. इस मामले को लेकर मनरेगा मजदूर कई बार आंदोलन भी कर चुके हैं, लेकिन कोई निष्कर्ष नहीं निकला. देशभर के एवरेज आय के मुकाबले राज्य के मनरेगा मजदूरों को दस रुपये कम मिलते हैं.

इसे भी पढ़ें – सीएम रघुवर दास समेत पांच पूर्व सीएम का चुनाव में होगा लिटमस टेस्ट, दांव पर है प्रतिष्ठा

झारखंड के मनरेगा मजदूरों के साथ अन्याय हुआ : जेम्स हेरेंज

झारखंड नरेगा वॉच के जेम्स हेरेंज का कहना है कि ये झारखंड के मनरेगा मजदूरों के साथ अन्याय हुआ है. जहां एक तरफ लगातार सभी जरुरत की चीजें महंगी हो रही हैं.

वहीं दूसरी तरफ मनरेगा मजदूरों की मजदूरी कभी एक पैसे कभी एक रुपया और अब तीन रुपया बढ़ाया गया है. सरकार के इस रवैये से राज्य के युवाओं को पलायन करना पड़ रहा है.

इसे भी पढ़ें – लातेहार जिला मुख्‍यालय में खुलेआम हो रहा है आचार संहिता का उल्लंघन

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: