JharkhandMain SliderRanchi

पूर्ण लॉकडाउन की संभावना को डॉ रामेश्वर उरांव ने किया खारिज, विधायक इरफान पर कसा तंज- उन्होंने न टिकट दिया न प्रदेश अध्यक्ष बनाया

  • एक व्यक्ति एक पद को लेकर विधायक इरफान अंसारी के बयानबाजी पर प्रदेश कांग्रेस का तीखा प्रहार

Ranchi :  कोरोना संक्रमण को देखते हुए राज्य में पूर्ण लॉकडाउन की अटकलों को कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सह राज्य के वित्त मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव ने सिरे से खारिज कर दिया है. उन्होंने कहा है कि राज्य में पूरी तरह से लॉकडाउन लगाना सही नहीं है. अगर ऐसा होता है, तो राज्य में लोगों के समक्ष जीविका का संकट खड़ा हो जायेगा.

डॉ उरांव कांग्रेस मुख्यालय भवन में मीडिया से बातचीत कर रहे थे. उन्होंने कहा कि संपूर्ण लॉकडाउन से जिंदगी तो बच जायेगी, लेकिन जीविका खत्म हो जायेगी. इस दौरान उन्होंने जामताड़ा विधायक डॉ इरफान अंसारी के एक व्यक्ति एक पद को लेकर किये जा रहे विरोध और पार्टी छोड दूसरे दलों में गये नेताओं के दोबारा पार्टी में शामिल होने के सवालों पर तीखा बयान दिया.

इसे भी पढ़ें – Giridih: पुलिसकर्मी समेत 28 लोग कोरोना संक्रमित, सभी को होम आइसोलेट रहने की सलाह

क्या इरफान अंसारी ने टिकट दिया था या प्रदेश अध्यक्ष बनाया

डॉ इरफान अंसारी के लगातार एक व्यक्ति एक पद के बयानों पर पलटवार करते हुए प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि यह तो पार्टी तय करेगी कि कौन क्या रहेगा. जामताड़ा विधायक के उस बयान पर जिसमें उन्होंने कहा था कि “उन्हें स्वतः एक पद छोड़ देना चाहिए” डॉ रामेश्वर उरांव ने मजाकिया लहजे में तीखा प्रहार किया.

उन्होंने कहा कि इरफान अंसारी ने क्या उन्हें टिकट दिया था? क्या प्रदेश अध्यक्ष उन्हीं ने बनाया था ? डॉ उरांव ने कहा कि पार्टी में सभी लोगों की सोच एक जैसी नहीं हो सकती है. कोई पार्टी अनुशासन को ज्यादा मानता है तो कोई कम. लेकिन अगर पार्टी में रहना है, तो अनुशासन को तो मानना ही पड़ेगा.

इसे भी पढ़ें –दबंगों ने दो दलितों को पेड़ से बांध कर पीटा, पंचायत के मुखिया भी देखते रहे

पार्टी छोड़ने वाले नेताओं को करना होगा 6 साल इंतजार

विधानसभा चुनाव के ठीक पहले पार्टी छोड़ दूसरे दलों में गये नेताओं को दोबारा पार्टी में आने के सवालों पर प्रदेश अध्य़क्ष ने कहा कि यह सही नहीं है. जिन्हें भी चुनाव के ठीक पहले पार्टी छोड़ी है, उन्हें कम से कम अभी 6 साल तक घर वापसी के लिए इंतजार करना होगा. उनकी पार्टी में शामिल होने की राह मुश्किल है. बता दें कि डॉ उरांव का साफ इशारा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रह चुके दो पूर्व नेताओं सुखदेव भगत और प्रदीप बलमुचू की तरफ था.

इसे भी पढ़ें –केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह पाये गये कोरोना पॉजिटिव

Advertisement

6 Comments

  1. Very good article! We are linking to this particularly great content on our site. Keep up the great writing.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: