न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

लंदन : आईपीएल फ्रेंचाइजी मालिकों ने टीमों की संख्या बढ़ाने पर मंथन किया

इंडियन प्रीमियर लीग के हितधारकों और फ्रेंचाइजी मालिकों की लंदन में इस सप्ताह हुई बैठक में टीमों की संख्या को आठ से 10 करने पर चर्चा हुई

32

London :  इंडियन प्रीमियर लीग के हितधारकों और फ्रेंचाइजी मालिकों की लंदन में इस सप्ताह हुई बैठक में टीमों की संख्या को आठ से 10 करने पर चर्चा हुई. हालांकि यह पहली बार नहीं होगा जब इस लीग में 10 टीमें भाग लेगी. इससे पहले 2011 में भी आईपीएल में 10 टीमों ने भाग लिया था जिसमें कोच्चि और पुणे की फ्रेंचाइजी टीमें थी. कोच्चि फ्रेंचाइजी और बीसीसीआई के बीच अनुबंध संबंधित विवाद के कारण टीम टूर्नामेंट में महज एक सत्र में खेल पायी. सहारा समूह की पुणे वारियर्स ने भी 2013 के बाद खुद को लीग से बाहर कर लिया था जिसके बाद 2014 से इस लीग में फिर से आठ टीमें हो गयी.

फैसला करने का अधिकार टीमों के पास नहीं

लंदन में हुई बैठक में भाग लेने वाली टीम के एक अधिकारी ने पीटीआई को बताया, हमने टीमों की संख्या बढ़ाने के बारे में चर्चा की लेकिन यह अनौपचारिक चर्चा थी.  वैसे भी इस मुद्दे पर फैसला करने का अधिकार टीमों के पास नहीं है, बीसीसीआई को फैसला करना है लेकिन हम इस विचार पर चर्चा के लिए तैयार हैं. एक अन्य अधिकारी ने भी बैठक में आईपीएल के विस्तार पर चर्चा की पुष्टि की. इस अधिकारी ने कहा,  इस मुद्दे पर चर्चा हुई थी लेकिन यह अनौपचारिक थी. इस पर मुद्दे पर कैसे आगे बढ़ा जाये, इसकी कोई ठोस योजना नहीं है.

SMILE

ज्यादा टीमों का मतलब है कि ज्यादा मैच होंगे यानी टूर्नामेंट भी ज्यादा लंबे समय तक चलेगा. इससे पहले स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण में फंसने के कारण चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रायल्स की टीमों के निलंबित होने के बाद इस लीग में दो सत्र के लिए राइजिंग पुणे सुपर जाइंट्स और गुजरात लायन्स ने भाग लिया था. संजीव गोयनका की राइजिंग पुणे सुपर जायंट्स की टीम 2017 में अपने दूसरे प्रयास में ही टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची थी. गोयनका ने दो साल के बाद भी लीग में बने रहने की इच्छा जतायी थी.

इसे भी पढ़ें :  हमेशा रोहित और कोहली पर निर्भर नहीं रह सकता भारत, अन्य को लेनी होगी जिम्मेदारी: तेंदुलकर

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: