न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#WarisPathan के भड़काऊ बयान को कन्हैया कुमार ने बताया गलत, कहा- धार्मिक और कट्टर होने में अंतर

844

Patna: भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के नेता कन्हैया कुमार ने एआइएमआइएम के नेता वारिस पठान के भड़ाकाऊ बयान ‘‘15 करोड़ मुसलमानों के 100 करोड़ पर भारी होने’’ संबंधी बयान को गलत बताया है. कन्हैया ने कहा कि ‘‘धार्मिक’’ और ‘‘कट्टर’’ होने के बीच अंतर हैं.

जेएनयू के पूर्व छात्र नेता ने सीएए-एनपीआर-एनआरसी के खिलाफ राज्यव्यापी ‘जन गण मन यात्रा’ के दौरान पठान के बयान और बेंगलुरु में एआइएमआइएम की एक रैली में एक युवती द्वारा ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाये जाने के संबंध में पूछे गए प्रश्नों का उत्तर देते हुए यह बात कही.

इसे भी पढ़ें- 11 लाख इनामी नक्सली कमांडर सिद्धू कोड़ा की पुलिस हिरासत में मौत

धर्म के नाम पर लोगों के भड़काने की कोशिश का करता हूं विरोध: कन्हैया

कन्हैया ने कहा कि ऐसा लगता है कि किसी बलि के बकरे की आवश्यकता हमेशा होती है. चार साल पहले बलि का बकरा मैं था, जब सोशल मीडिया समेत हर जगह मुझे अपशब्द कहे जा रहे थे. अब, मैं पुराना हो चुका हूं इसलिए नफरत करने के लिए नयी चीजें खोज ली गयी हैं. हालांकि उन्होंने कहा कि वह धर्म के नाम पर लोगों को भड़काने की हर कोशिश का विरोध करते हैं.

उन्होंने कहा कि यह समझने की आवश्यकता है कि धार्मिक होने, कट्टर होने और नफरत को सही ठहराने के लिए किसी की आस्था का इस्तेमाल करने के बीच अंतर है. गौरतलब है कि कन्हैया 2016 में उनके खिलाफ राजद्रोह का आरोप लगने के बाद सुर्खियों में आये थे. 

Whmart 3/3 – 2/4

इसे भी पढ़ें- सोनभद्र में नहीं मिला 3,000 टन सोने का कोई भंडार: जीएसआइ

क्या था वारिस पठान का बयान

वारिस पठान ने कहा था कि ईंट का जवाब पत्‍थर से देना हमने सीख लिया है. मगर इकट्ठा होकर चलना होगा. अगर आजादी दी नहीं जाती तो हमें छीनना पड़ेगा. वे कहते हैं कि हमने औरतों को आगे रखा है.

अभी तो केवल शेरनियां बाहर निकली हैं तो तुम्‍हारे पसीने छूट गये. तुम समझ सकते हो कि अगर हम सब एक साथ आ गये तो क्‍या होगा. 15 करोड़ हैं लेकिन 100 के ऊपर भारी हैं. यह याद रख लेना.

अगर आजादी दी नहीं जाती तो छीनना पड़ेगा. वारिस पठान के इस बयान के बाद राजनीति गरम हो गयी है. एआईएमआईएम हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी है.

न्यूज विंग की अपील


देश में कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि तमाम नागरिक संयम से काम लें. इस महामारी को हराने के लिए जरूरी है कि सभी नागरिक उन निर्देशों का अवश्य पालन करें जो सरकार और प्रशासन के द्वारा दिये जा रहे हैं. इसमें सबसे अहम खुद को सुरक्षित रखना है. न्यूज विंग की आपसे अपील है कि आप घर पर रहें. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like