न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

झारखंड में ज्‍वाइंट वेंचर से पावर प्‍लांट स्‍थापित करने की कवायद शुरू

प्रदेश में बिजली उत्पादन अब ज्वाइंट वेंचर से, एक ज्वाइंट वेंचर बन चुका है, दो पावर प्लांटों के लिए ज्वाइंट वेंचर बनाने की तैयारी

374

सिकिदिरी हाइडल का कई बार मुआयना कर चुका है एनटीपीसी, टीवीएनएल का विस्तारीकरण भी ज्वाइंट वेंचर के जरीये

Ranchi : पिछले चार साल में प्रदेश में एक मेगावाट का भी पावर प्लांट स्थापित नहीं हो सका. अब प्रदेश में ज्वाइंट वेंचर से पावर प्लांट स्थापित करने की कवायद शुरू की गयी है. पतरातू के लिए एनटीपीसी और राज्य सरकार के बीच ज्वाइंट वेंचर हो चुका है. पतरातू विद्युत निगम लिमिटेड बनाया गया है. दिलचस्प यह है कि इस निगम में टॉस्क फोर्स हेड सहित तीन निदेशक एनटीपीसी के ही हैं. वहीं टीवीएनएल के विस्तारीकरण के लिए भी ज्वाइंट वेंचर पर जोर दिया जा रहा है. इसको लेकर भी एनटीपीसी के साथ कई राउंड की बैठक हो चुकी है. सिकिदिरी हाइडल का मुआयना भी कई बार एनटीपीसी के अफसर कर चुके हैं.

तिलैया पावर प्लांट के लिए प्लग एंड प्ले मोड

रिलायंस के पीछे हटने के बाद राज्य सरकार ने ऊर्जा मंत्रालय को प्रस्ताव भेजा. पहले विकल्प के रूप में कहा गया कि फिर से रिबिडिंग(पुन: टेंडर) की जाये. दूसरे प्रस्ताव के रूप में कहा गया कि प्लग एंड प्ले मोड (वर्तमान प्रक्रिया को बंद कर, नयी प्रक्रिया के तहत किसी को दिया जाए) में प्रक्रिया शुरू की जाये. इसके लिए भी ज्वाइंट वेंचर बनाने की तैयारी चल रही है.

तेनुघाट पावर प्लांट के लिए भी ज्वाइंट वेंचर

तेनुघाट पावर प्लांट के विस्तारीकरण को लगभग डेढ़ साल पहले कैबिनेट से स्वीकृति मिली. अब तक काम आगे नहीं बढ़ा. विस्तारीकरण के तहत 660-660 मेगावाट की दो यूनिटें लगाई जानी थी. प्लांट के लिए राजबार कोल ब्लॉक आवंटित भी की गयी. इसका माइनिंग प्लान भी कोल मंत्रालय को भेजा गया. अब सरकार ज्वाइंट वेंचर के जरीये प्लांट स्थापित करना चाहती है. मेकन ने इसकी फिजिकल रिपोर्ट भी तैयार की है.

देवघर पावर प्लांट शेयर होल्डिंग की जिम्मेवारी पीएफसी को

देवघर में प्रस्तावित पावर प्लांट के शेयर होल्डिंग की जिम्मेवारी पावर फाइनांश कॉरपोरेशन को दी गयी है. देवघर में 4000 मेगावाट का पावर प्लांट स्थापित किया जाना है. इसके लिए भी ज्वाइंट वेंचर की कवायद चल रही है.

इसे भी पढ़ेंः गिरिडीहः दो सरकारी कर्मचारी घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार, आवास से मिले 8 लाख नकद

इसे भी पढ़ेंःबिजली वितरण व्यवस्था निजी हाथों में सौंपने की तैयारी, टाटा पावर को मिल सकती है महत्वपूर्ण जिम्मेवारी

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: