National

2019 के बाद चुनाव नहीं लड़ने का हेमा मालिनी ने किया ऐलान, मथुरा से भरा पर्चा

Mathura: मथुरा से भाजपा उम्मीदवार हेमा मालिनी ने सोमवार को जिला निर्वाचन अधिकारी एवं जिलाधिकारी के समक्ष नामांकन दाखिल किया. उन्होंने ऐलान कर दिया है कि वे अगली बार स्वयं चुनाव न लड़कर युवाओं को आगे आने का मौका देंगी तथा खुद संगठन के कार्य करना पसंद करेंगी.

यह मेरा अंतिम चुनाव- हेमा

चुनाव के संयोजन एवं पूर्व जिलाध्यक्ष डॉ. डीपी गोयल एवं चार अन्य प्रस्तावक व समर्थकों के साथ नामांकन दाखिल करने के बाद उन्होंने कहा, ‘यह मेरा आखिरी चुनाव है. मैं इसके बाद कोई चुनाव नहीं लड़ूंगी और इसकी जगह संगठन में रहकर जनता की भलाई के कार्य करना चाहूंगी.’

इसे भी पढ़ेंः अन्नपूर्णा देवी बीजेपी में शामिल, गौतम सागर राणा को झारखंड राजद की कमान

Sanjeevani

उन्होंने कहा, ‘बरसों से मेरा सपना था कि मैं मथुरा के लिए कुछ कर सकूं. इसलिए, पिछले पांच वर्षों में काफी-कुछ करने की कोशिश की. लेकिन, अभी बहुत कुछ करना रह गया है. उम्मीद करती हूं कि यहां की जनता मुझे वह सब भी करने का मौका देगी. मैं इस नगरी को कृष्ण काल के समान ही भव्य एवं दिव्य नगरी बनाना चाहती हूं.’

पर्चा भरने से पहले उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ वृन्दावन स्थित बांकेबिहारी मंदिर में पूजा-अर्चना की. ठाकुरजी का आशीर्वाद लेकर हेमा मालिनी ने कलेक्ट्रेट पहुंच कर अपना नामांकन दाखिल किया.

इसे भी पढ़ेंः चंद्रप्रकाश चौधरी होंगे गिरिडीह सीट से आजसू उम्मीदवार, सुदेश ने की घोषणा

उल्लेखनीय है कि हेमा मालिनी ने 16वीं लोकसभा के लिए 2014 में हुए चुनाव में तत्कालीन सांसद जयंत चौधरी को तीन लाख 30 हजार से भी अधिक मतों से शिकस्त देकर यह सीट राष्ट्रीय लोकदल से हासिल की थी.

उनके खिलाफ यहां से कांग्रेस ने महेश पाठक को उम्मीदवार बनाया है. सपा-बसपा के गठबंधन समर्थित राष्ट्रीय लोकदल ने पूर्व ब्लॉक प्रमुख नरेंद्र सिंह को प्रत्याशी बनाया है.

इसे भी पढ़ेंःजनता तय करे, उन्हें आतंकियों को ‘जी’ और ‘साहब’ बोलने वाला चाहिए या सेना के पराक्रम को सराहने वालाः…

Related Articles

Back to top button