न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अन्नपूर्णा देवी बीजेपी में शामिल, गौतम सागर राणा को झारखंड राजद की कमान

इधर अन्नपूर्णा देवी ने कुछ देर पहले ही दिल्ली में भाजपा का दामन थाम लिया है.

1,278

Ranchi: लोकसभा चुनाव से पहले नेताओं के पाला बदलने का खेल जारी है. इसी कड़ी में झारखंड आरजेडी को एक बड़ा झटका लगा है. आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद की बेहद करीबी और पार्टी प्रदेश अध्यक्ष अन्नपूर्णा देवी ने राजद छोड़ भाजपा का दामन थाम लिया है. आज आधिकारिक रुप से अन्नपूर्णा बीजेपी में शामिल हो गई हैं.

बीजेपी में शामिल हुईं अन्नपूर्णा

कई दिनों से सियासी अटकलों को सच साबित करते हुए राजद की पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अन्नपूर्णा देवी ने भाजपा का दामन थाम लिया. दिल्ली में एक सादे कार्यक्रम में झारखंड प्रभारी भूपेंद्र यादव और सीएम रघुवर दास की मौजूदगी में उन्होंने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की.

मौके पर उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के सिद्धांतों को देखते हुए मैं राजद को छोड़कर बीजेपी में शामिल हुईं हो. साथ ही कहा कि सीएम रघुवर दास के नेतृत्व में झारखंड में बेहतर काम हुआ है.

साथ ही जनार्दन पासवान ने भी बीजेपी का दामन थाम लिया है.

इधर लगातार पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने को लेकर गिरिनाथ सिहं पर पार्टी ने एक्शन लिया है. सूत्रों के मुताबिक, दोनों आरजेडी नेताओं को पार्टी ने 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया है.

इसे भी पढ़ेंः चंद्रप्रकाश चौधरी होंगे गिरिडीह सीट से आजसू उम्मीदवार, सुदेश ने की घोषणा

अन्नपूर्णा के भाजपा में शामिल होने के बाद पार्टी आलाकमान ने पूर्व प्रदेश अध्यक्ष गौतम सागर राणा को एकबार फिर झारखंड प्रदेश आरजेडी अध्यक्ष बनाया है.

अन्नपूर्णा के जाने से नहीं पड़ेगा प्रभाव : राणा

फाइल फोटो

नये अध्यक्ष बनाए जाने के बाद प्रदेश अध्यक्ष गौतम सागर राणा ने कहा है कि अन्नपूर्णा देवी के जाने से राजद पर कोई असर नहीं पड़ेगा.

इसे भी पढ़ेंःजनता तय करे, उन्हें आतंकियों को ‘जी’ और ‘साहब’ बोलने वाला चाहिए या सेना के पराक्रम को सराहने वालाः…

उनके मुताबिक, कई महीने से अन्नपूर्णा देवी भाजपा के संपर्क में थीं. पार्टी छोड़ने के लिए अन्नपूर्णा चतरा सीट का बहाना कर रही थीं. पूरा झारखंड राजद एकजुट है.

साथ ही कहा कि पार्टी सुप्रीमो लालू यादव जो भी आदेश देंगे उसका पालन करूंगा. आगे की रणनीति को लेकर प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि तमाम जिला अध्यक्षों के साथ जल्द ही बैठक करूंगा.

इसे भी पढ़ेंः वामपंथियों को शामिल नहीं किया गया, महागठबंधन ‘महा’ नहीं बन सका : दीपंकर

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
क्या आपको लगता है हम स्वतंत्र और निष्पक्ष पत्रकारिता कर रहे हैं. अगर हां, तो इसे बचाने के लिए हमें आर्थिक मदद करें.
आप अखबारों को हर दिन 5 रूपये देते हैं. टीवी न्यूज के पैसे देते हैं. हमें हर दिन 1 रूपये और महीने में 30 रूपये देकर हमारी मदद करें.
मदद करने के लिए यहां क्लिक करें.-

you're currently offline

%d bloggers like this: