JharkhandKhas-KhabarLead NewsNationalRanchiTOP SLIDER

भारी उद्योग मंत्री ने दिया भरोसा, कहा- एचईसी कर्मियों को वेतन मिलेगा

Ranchi : भारी उद्योग मंत्री डॉ महेंद्र नाथ पांडेय ने एचईसी प्रबन्धन को भरोसा दिया कि एचईसी कर्मचारी जिन्होंने काम किया है उन्हें वेतन मिलेगा. उन्हें बकाये वेतन का भुगतान हरहाल में किया जाएगा. शुक्रवार को यूनियन नेताओं के साथ हुई बैठक में मंत्री ने कहा है. मंत्री ने यूनियन नेताओं को बताया कि इसके लिए उन्होंने उद्योग सचिव अरुण गोयल को दिशा-निर्देश दे दिया है. मंत्री ने बताया कि श्री गोयल से कहा गया है कि एचईसी के कर्मचारियों को कैसे और किस तरह से भुगतान किया जाए इसका विस्तृत रिपोर्ट तैयार करें. उनसे कहा गया है कि एचईसी अपने संसाधन से पैसा कैसे जुटाए इस बारे में खाखा तैयार कर लाये. ताकि , वेतन भुगतान को लेकर किसी तरह का कोई पतेशानि न हो. इधर, यूनियन के महामंत्री राणा संग्राम सिंह ने मंत्री के समक्ष कर्मियों की परेशानी के बारे में विस्तार से बताया. उन्होंने कहा कि एचईसी की आर्थिक स्थिति काफी खराब है. इसलिए उद्योग मंत्रालय को आगे आना होगा. सारी बातों को सुनने के बाद मंत्री ने कहा कु मंत्रालय जल्द ही इस दिशा में कार्रवाई करेगा. प्रभारी चेयरमैन नलिन सिंघल को अतिरिक्त प्रभार से मुक्त करेगा.

एचईसी मामले पर प्रधानमंत्री से बात करने का दिया आसवासन

यूनियन के नेताओं ने मंत्री को बताया कि एचईसी की जमीन को लीज पर दिया जाए तो स्थिति कुछ सुधर सकती है. इसपर मंत्री डॉ पांडेय ने कहा कि लीज़ का मामला पीएमओ स्तर पर लेना है. इस मामले को लेकर प्रधानमंत्री से मिलकर बात को रखा जाएगा.

Catalyst IAS
ram janam hospital

16वें दिन भी टूल डाउन स्ट्राइक जारी रहा

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

हेवी इंजीनियिरंग कॉरपोरेशन लिमिटेड, एचईसी 17 दिसंबर को 16वें दिन भी टूल डाउन स्ट्राइक जारी रहा. रोजाना की तरह कर्मचारी एचएमबीपी, एफएफपी और एचएमटीपी प्लांट पहुंचे, उपस्थिति दर्ज कर प्रदर्शन स्थल पर एकत्र हो गए. प्रबंधन विरोधी नारेबाजी की.

मंत्री ने ट्वीट कर दी जानकारी

भारी उद्योग मंत्री डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय ने भी ट्वीट कर कहा है कि एचईसी प्रबंधन कर्मचारियों के वेतन का भुगतान करें. कर्मचारियों का कहना है कि अब एचईसी प्रबंधन के तीनों डायरेक्टर दिल्ली लौटने के बाद वेतन को लेकर स्तिथि स्पष्ट करें. बकाया वेतन मिलने के बाद ही कर्मचारी काम पर लौटेंगे.

Related Articles

Back to top button