Corona_UpdatesJharkhandRanchiTOP SLIDER

अच्छी खबरः झारखंड में 14 मई से 18 प्लस का वैक्सीनेशन

सीएम हेमंत सोरेन की घोषणा, सबका होगा मुफ्त टीकाकरण

Ranchi : राज्य सरकार ने स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह पूरे राज्य में लागू किया, जिसका असर भी देखने को मिल रहा है. वहीं अब वैक्सीनेशन को भी रफ्तार देने की तैयारी है. जिसके तहत 14 मई से 18 साल से ऊपरवाले लोगों टीका लगाया जायेगा. मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि आगामी 14 मई 2021 से 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी. लोगों को वैक्सीनेशन के लिए कोई शुल्क देने की आवश्यकता नहीं है.

सीएम ने कहा कि 14 मई से जैसे-जैसे वैक्सीन की उपलब्धता होगी, लोगों को हम वैक्सीन देने में सक्षम होंगे. मुख्यमंत्री ने कहा कि वैक्सीनेशन के प्रति कोई भ्रम अथवा असमंजस की स्थिति उत्पन्न न हो इसके लिए प्रचार-प्रसार भी किया जा रहा है. कोरोना का टीका पूरी तरह सुरक्षित और कारगर है यह संदेश लोगों के बीच अधिक से अधिक प्रेषित करें। हम सभी के जीवन की सुरक्षा कवच के रूप में वैक्सीन अहम होगी.

इसको लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं. बताते चलें कि कोरोना वैक्सीन राज्य में 45 साल से ऊपर के लोगों को सरकार की तरफ से फ्री में लगाया जा रहा था. अब राज्य में 18 साल से ऊपर के लोगों को भी फ्री में कोरोना की वैक्सीन दी जायेगी. 18 साल से अधिक उम्र वालों का 1 मई से वैक्सीन लगायी जानी थी. लेकिन वैक्सीन अवेलेबल नहीं होने के कारण इसे अगले आदेश तक स्थगित कर दिया गया था.

इसे भी पढें :जिस शुभेंदू ने नंदीग्राम में ममता को दी थी मात, विधानसभा में भी वही करेंगे मुकाबला

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना होगा

18 से 45 वर्ष के बीच के लोगों के टीकाकरण के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना होगा. सभी योग्य लाभुकों को रजिस्ट्रेशन के बाद ही टीका दिया जायेगा. इसलिए बिना रजिस्ट्रेशन कराये या टीका की अनुमति मिलने के बाद ही किसी भी केंद्र पर जायें.

इसके लिए कोविन पोर्टल (cowin.gov.in) या आरोग्य सेतु एप के माध्यम से रजिस्ट्रेशन कराया जा सकता है. टीकाकरण की तारीख और टीका केंद्रों की सूची राज्य और जिला प्रशासन द्वारा जल्द घोषित की जायेगी.

कोरोना की तीसरी लहर पर सरकार गंभीरः हेमंंत

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि विशेषज्ञों द्वारा कोरोना संक्रमण के तीसरी लहर आने की चेतावनी दी गई है. राज्य सरकार इससे निपटने को लेकर गंभीर है और तैयारियां शुरू कर दी गई हैं. विशेषज्ञों द्वारा अनुमान लगाया गया है कि तीसरी लहर में बच्चों पर संक्रमण का खतरा ज्यादा रह सकता है इस निमित्त सभी चाइल्ड स्पेशलिस्ट चिकित्सकों तथा विशेषज्ञों के साथ राज्य सरकार आने वाले दो-तीन दिनों के भीतर वर्चुअल मीटिंग करेगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों के सभी आइसोलेशन सेंटर और कोरेनटाइन सेंटरों को दुरुस्त किया जाएगा. 14वें तथा 15वें वित्त आयोग की राशि का भी उपयोग संक्रमितों के इलाज पर हो यह सुनिश्चित किया जाएगा.

इसे भी पढें :रूपा तिर्की के घर पहुंचे साहेबगंज डीएसपी, पीड़ित परिवार के सदस्यों का बयान लिया

Related Articles

Back to top button