न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गोमिया बना नगर परिषद, अष्टलोहि कर्मकार पिछड़ा और कुम्हार-कुंभकार अति पिछड़ा वर्ग में शामिल

कैबिनेट की बैठक में कुल 11 एजेंडों को मिली स्वीकृति

2,124

Ranchi : झारखंड नगरपालिका अधिनियम 2011 और शहरी क्षेत्र मार्गनिर्देशिका निर्धारण नीति के आलोक में बोकारो जिला के गोमिया प्रखंड को इसके आठ ग्रामों को मिलाकर गोमिया नगर परिषद के रूप में घोषित करने की स्वीकृति दी गयी. इन गांवों में गोमिया, बलिहारी गुरुडीह, ससबेड़ा पूर्वी, ससबेड़ा पश्चिमी, खम्हरा, स्वांग उत्तरी, स्वांग दक्षिणी और हजारी पंचायत शामिल हैं. इन आठों गावों की जनसंख्या 48141 है. क्षेत्रफल 6640.18 हेक्टेयर है. गुरुवार को हुई कैबिनेट की बैठक में कुल 11 एजेंडों को स्वीकृति दी गयी.  अष्टलोहि कर्मकार जाति को राज्य के पिछड़ा वर्ग की सूची के क्रमांक 29 पर अंकित सोनार (सुवर्ण वनिक) के साथ शामिल करने की स्वीकृति दी गयी. वहीं, कुम्हार-कुंभकार को अति पिछड़ा वर्ग की सूची के क्रमांक-97 में दर्ज प्रजापति (कुम्हार) के साथ शामिल करने की स्वीकृति दी गयी.

इसे भी पढ़ें- धनबाद में शुरू होगी IPPB सुविधा, PM मोदी करेंगे ऑनलाइन उद्घाटन

योग भवन के संचालन के लिए चार पदों के सृजन की स्वीकृति

रांची में नवनिर्मित योग भवन के संचालन के लिए चार पदों के सृजन की स्वीकृति दी गयी. विधायक योजना अंतर्गत शौचालय निर्माण के लिए कर्णांकित राशि को विधायक योजना की मार्गदर्शिका के आलोक में अन्य योजनाओं में व्यय की स्वीकृति दी गयी. पथ विभाग के सेवानिवृत्त जेई रघुनंदन प्रसाद के विरुद्ध लंबित असमायोजित राशि 6,20,596.27 रुपये के अपलेखन की स्वीकृति दी गयी

ई-कोर्ट प्रोजेक्ट के तहत 23 पदों को अवधि विस्तार

ई-कोर्ट प्रोजेक्ट के तहत राज्य के जिला न्यायालयों एवं झारखंड उच्च न्यायालय के लिए सृजित सिस्टम ऑफिसर के कुल 23 पदों को वर्ष (2018-19) के लिए अवधि विस्तार दिया गया. सर्वोच्च न्यायालय में दायर सिविल अपील संख्या 13372/2015 वीर कुंवर पासवान बनाम झारखंड राज्य एवं अन्य में पारित आदेश के अनुसार राज्य के जिला भविष्य निधि कोषांगों में एकीकृत बिहार की अवधि में विभिन्न बोर्ड/निगम से प्रतिनियुक्ति पर आये 23 कर्मियों को जिला भविष्य निधि कोषांगों में प्रथम योगदान की तिथि से सरकारी सेवा में समायोजित करते हुए पेंशन एवं सेवानिवृत्ति लाभ तथा एसीपी/एमसीपी का लाभ स्वीकृत करने के लिए निगम की सेवा अवधि को जोड़ने की स्वीकृति दी गयी.

इसे भी पढ़ें- चोरी, लूट, हत्या जैसी घटनाओं को रोकने के लिए पुलिस ने बनाई रणनीति, खंगालेगी पुराने रिकॉर्ड

palamu_12

रेलवे को जमीन हस्तांतरण की स्वीकृति

पश्चिमी सिंहभूम की 0.73 एकड़ भूमि को 18,62,250 रुपये की अदायगी पर लाइन विस्तारीकरण के लिए रेल मंत्रालय को स्थायी रूप से हस्तांतरित करने की स्वीकृति दी गयी. जमशेदपुर में रेलवे ओवर क्रॉसिंग के एप्रोच रोड के लिए मंत्रिमंडल सचिवालय एवं समन्वय विभाग निर्धारित अधिसीमा को लोकहित एवं राज्यहित में शिथिल करने की स्वीकृति दी गयी.

इसे भी पढ़ें- बोकारो डीसी ने नियम विरुद्ध जाकर दी बियाडा की जमीन, उद्योग निदेशक ने खारिज किया आदेश, कहा –…

पथ निर्माण के 15 प्रस्तावों को मिली स्वीकृति

  1. अमरेश्वरधाम से तुपुदाना- 36.326 किमी (खूंटी एवं रांची जिला)
  2. चितरपुर से सांडी होकर रजरप्पा 4 लेन रोड- 10.139 किमी (रामगढ़ जिला)
  3. बड़कीपोना से कुल्ही- 13.8 किमी (रामगढ़ जिला)
  4. जोराम से सारंगबेड़ा- 8.10 किमी (सिमडेगा जिला)
  5. पिछड़ीबाद से देवसंग मोड़- 16.07 किमी (देवघर जिला)
  6. ब्रहमोरिया मोड़ से रेहला- 16.8 किमी (पलामू जिला)
  7. डोमचांच से फगुनी- 21.5 किमी (कोडरमा जिला)
  8. बलहारा से खोरदा- 34.7 किमी एवं पटना से गांवा लिंक पथ 36.9 किमी (गिरिडीह जिला)
  9. झारी मोड़ से चिचाकि- 14 किमी (गिरिडीह जिला)
  10. रजरप्पा मंदिर के पास दामोदर नदी पर पैदल पुल एवं भैरवी नदी पर उच्चस्तरीय पुल (रामगढ़ जिला)
  11. सतबरवा से पांकी- 11.6 किमी (पलामू जिला)
  12. उंधन से धनपाली- 10.8 किमी (मनोहरपुर चाईबासा)
  13. बंशीधर मंदिर से गरदा- 15.5 किमी (गढ़वा जिला)
  14. शहरजोरी मोड़ से कर्रौं- 26.2 किमी (देवघर जिला)
  15. बालूमाथ से उदयपुरा- 36.9 किमी (लातेहार जिला)

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: