World

ईरानी परमाणु वैज्ञानिक पर गोलियों की बौछार, मौत, इजरायली खुफिया एजेंसी मोसाद का कारनामा! छाये युद्ध के बादल

यह हत्‍याकांड ऐसे समय पर हुआ है जब कुछ दिन पहले ही इजरायल के पीएम, अमेरिका के विदेश मंत्री और सऊदी अरब के राजकुमार ने एक गोपनीय बैठक की थी.

Tehran  :  ईरान के परमाणु बम कार्यक्रम के जनक कहे जाने वाले शीर्ष वैज्ञानिक मोहसिन फखरीजादेह की शुक्रवार को देश की राजधानी तेहरान में दिनदहाड़े हत्‍या कर दी गयी. ईरान प्रेस टीवी ने इसकी जानकारी दी. ईरानी विदेश मंत्रालय ने इस हत्‍या के लिए  इजरायल की खुफिया एजेंसी मोसाद जिम्मेदार ठहराया है.

खबर है कि  हमलवारों ने मोहसिन की कार पर गोलियों की बौछार कर दी जिससे उनकी मौत हो गयी. शीर्ष ईरानी वैज्ञानिक की हत्‍या से पश्चिम एशिया में युद्ध के बादल मंडराने लगे हैं.

 

इसे भी पढ़ें : भारतीय नौसेना होगी दमदार, पोत-पनडुब्बियों की खरीद पर 3.5 लाख करोड़ खर्च करेगी सरकार  

हम इस हत्‍याकांड का बदला लेंगे : सैन्‍य सलाहकार

ईरान के सवोच्‍च नेता अयातुल्‍ला अली खमनेई के सैन्‍य सलाहकार ने कहा है कि हम इस हत्‍याकांड का बदला लेंगे.  कहा कि ट्रंप के अंतिम दिनों में इजरायल ईरान के साथ युद्ध भड़काने में जुटा हुआ है.  जान लें कि मोहसिन फखरीजादेह व 1989 से ही अमेरिका और इजरायल की खुफिया एजेंसियों के निशाने पर रहे हैं. मोहसिन फखरीजादेह के परमाणु बम कार्यक्रम अमाद को वर्ष 2003 में रोक दिया गया था.

इसे भी पढ़ें : कोविड-19 : सुप्रीम कोर्ट की तल्खी, 80 प्रतिशत लोग मास्क नहीं पहनते, बाकी जबड़ों पर लटकाये घूम रहे हैं…

मोसाद 2010 और 2012 में चार ईरान परमाणु वैज्ञानिकों की हत्‍या कर चुकी है

न्‍यूयॉर्क टाइम्‍स ने अमेरिका के खुफिया अधिकारियों के हवाले से कहा है कि ईरानी वैज्ञानिक पर जानलेवा हमले के पीछे इजरायल का हाथ है. न्‍यूयॉर्क टाइम्‍स ने बताया कि इस हत्‍याकांड को इजरायल की बदनाम खुफिया एजेंसी मोसाद ने अंजाम दिया है. जान लें कि मोसाद इससे पहले भी वर्ष 2010 और 2012 में चार ईरान परमाणु वैज्ञानिकों की हत्‍या कर चुकी है.

इसे भी पढ़ें : वित्त मंत्री के दावों के उलट मंदी में इकॉनमी, दूसरी तिमाही में जीडीपी 7.5 फीसदी गिरा

आतंकवादियों ने एक विख्यात ईरानी वैज्ञानिक की हत्या कर दी

ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जवाद जरीफइसे आतंकी कार्रवाई बताते हुए इजरायल पर हमलावर हो गये हैं.  ईरानी विदेश मंत्री मोहम्मद जवाद जरीफ ने शुक्रवार को ट्विट किया. आतंकवादियों ने एक विख्यात ईरानी वैज्ञानिक की आज हत्या कर दी. यह कायरना कृत्य साजिशकर्ताओं की हताशा को दर्शाता है, जिसमें इजराइल की भूमिका के गंभीर संकेत हैं. हालांकि ईरानी आरोप के बीच इजरायल ने इस मामले पर टिप्पणी करने से इनकार किया है.

यह हत्‍याकांड ऐसे समय पर हुआ है जब कुछ दिन पहले ही इजरायल के पीएम, अमेरिका के विदेश मंत्री और सऊदी अरब के राजकुमार ने एक गोपनीय बैठक की थी. फखरीजादेह पर यह हमला तेहरान से करीब 50 मील दूर अब्‍सार्ड शहर में हुआ है.ईरानी समाचार एजेंसी फार न्‍यूज की रिपोर्ट के अनुसार प्रत्‍यक्षदर्शियों ने जोरदार धमाके की आवाज सुनी, उसके बाद जमकर गोलियां चलीं
घटनास्‍थल पर हर तरफ खून बिखरा हुआ था.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: