DhanbadJharkhand

निजी नर्सिंग होम के नाले में मिला नवजात का शव, डॉक्टर ने स्वीपर पर दफन नहीं करने का लगाया आरोप

Dhanbad : झरिया के लाइफ लाइन निजी नर्सिंग होम के नाले में एक नवजात का शव बरामद गया. इस घटना से क्षेत्र में सनसनी फैल गयी. शव को देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी. लोग बता रहे थे कि बच्चा समय से पहले का है. लेकिन यह पता नहीं चल पा रहा था कि बच्चा किसका है. क्या नर्सिंग होम की लापरवाही है या जान-बूझ कर नवजात को निकाला गया और नर्सिंग होम की नाली की पाइप द्वारा फेंंकने की कोशिस की गयी.

इसे भी पढ़ेंः #Lockdwon: कोलकाता में फंसे गिरिडीह के डेढ़ सौ छात्रों व साध्वियों को लाने गये वाहनों को बंगाल पुलिस ने राज्य सीमा से लौटाया

 नर्सिंग होम के प्रबंधक ने कहा – स्वीपर की है लापरवाही

इसे लेकर हमने लाइफ लाइन नर्सिंग होम के प्रबंधक सह डॉक्टर ओपी अग्रवाल से जानकारी मांगी.  उनका कहना था कि झरिया के रजवाड़ी निवासी दीपक कुमार की पत्नी आयी थी. उन्हें ब्लीडिंग हो रही थी और पेट मे दर्द था. जब देखा गया तो पता चला साढ़े तीन माह  का बच्चा पेट मे है जो मृत है. इसके बाद उसे निकाला गया. इसके बाद दीपक कुमार ने नर्सिंग होम के स्वीपर को कुछ पैसे देखर बच्चे को दफनाने को कहा. लेकिन लगता है कि स्वीपर ने उसे नाली की पाइप में फेंक दिया और वह नाली में गिर गया.

advt

इसे भी पढ़ेंः 44 दिनों बाद पांच मई को पहली ट्रेन आयेगी बंगाल, राज्यपाल ने कहा कोरोना वॉरियर्स से टकराव नहीं, समर्थन करें

नर्सिंग होम जाकर करेंगे मामले की जांच

मामले को लेकर झरिया पुलिस ने भी संज्ञान लिया है. जिसे लेकर सिंदरी अंचल के डीएसपी अजित कुमार से बात की तो उन्होंने कहा कि इसमें कहीं न कहीं लापरवाही जरूर है. इसे लेकर हम खुद नर्सिंग होम जायेंगे और मामले की जानकारी लेंगे. मामला जो भी हो, लेकिन नर्सिंग होम की लापरवाही को इनकार नहीं किया जा सकता. अगर स्वीपर द्वारा नवजात को नाली में फेंका गया होगा तो भी गंभीर मामला है.

इसे भी पढ़ेंः #Corona: झारखंड में मात्र 0.04 प्रतिशत लोगों की ही हुई जांच, अधिकतर मामलों में कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग तक सिमटे रहे टेस्ट

adv
advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button