Palamu

पारा टीचर व पत्रकारों पर हमले के खिलाफ सीएम रघुवर दास का पुतला फूंका

Medininagar: झारखंड स्थापना दिवस पर पारा टीचर व पत्रकारों पर पुलिस द्वारा किये गये लाठीचार्ज के खिलाफ शुक्रवार को शहर के छहमुहान चौक पर महिला कांग्रेस ने मुख्यमंत्री रघुवर दास का पुतला फूंका व कड़ा विरोध जताया है. इस दौरान महिला कांग्रेस ने रघुवर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की. कांग्रेस के जिला अध्यक्षा सह जोनल प्रवक्ता पूर्णिमा पांडे ने कहा कि झारखंड स्थापना दिवस और बिरसा मुंडा जयंती के अवसर पर पारा शिक्षकों के जायज मांगो के बदले उन पर बर्बरतापूर्वक लाठी चलवाना भाजपा सरकार की विफलताओं को दर्शाता है. भाजपा सरकार अपनी विफलताओं को छुपाने के लिए ऐसी हरकत कर रही है. यह राष्ट्र विरोधी कार्य है और निंदनीय भी.

इसे भी पढ़ेंःपत्रकारों की पिटाईः हेलमेट पहन कर पत्रकार पहुंचे थाना, प्रशासन के…

पारा शिक्षकों की मांग मानें, नहीं तो इस्‍तीफा दें सीएम रघुवर दास

कांग्रेस अध्यक्षा ने कहा कि यह कार्रवाई लोकतंत्र पर हमला है. स्थापना दिवस के दिन किये गये काम को काला दिवस के रूप में माना जाना चाहिए और नैतिकता के आधार पर रघुवर सरकार को इस्तीफा दे देना चाहिए. उन्होंने कहा कि पारा शिक्षकों की मांग जायज है. सरकार को इसे मान लेना चाहिए. लेकिन, सरकार ने इनकी मांगों को मानने के बजाय उन पर लाठी बरसा रही है. जिसे कवरेज करने आये पत्रकारों को भी नहीं बख्शा गया. पुतला दहन के मौके पर उपस्थित चांदनी खातून, उमा देवी, सुनीता श्रीवास्तव, आरती देवी, मालती देवी, गंगा देवी, कलावती देवी, संगीता देवी, लीलावती देवी, मनोरमा कश्यप, अजय दुबे, नसीम हैदर, शेरखान, बसंत सिंह, कासिम अंसारी, रिजवान खान, सतीश तिवारी, अजय पाठक, विद्या सिंह, शेरखान, मतिन खान, नसिम खान और रिजवान खान का नाम शामिल हैं.

इसे भी पढ़ेंःएक लाख करोड़ के ऑन गोईंग प्रोजेक्ट की रफ्तार धीमी, आपूर्तिकर्ताओं…

Related Articles

Back to top button