न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रिम्स में आयुष्मान भारत के लाभुक मरीजों को निःशुल्क मिलेगा पेइंग वार्ड का लाभ

अस्पताल प्रबंधन तैयार कर रहा प्रस्ताव

202

Ranchi: राज्य के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स में आयुष्मान भारत के लाभुकों के इलाज और रहने-खाने की विशेष सुविधा दी जाएगी. रिम्स में इलाज करा रहे आयुष्मान भारत के लाभुक मरीजों को अब भीड़भाड़ में रहने की विवशता नहीं होगी. क्योंकि रिम्स प्रबंधन अस्पताल में आयुष्मान भारत योजना के तहत इलाज करा रहे मरीजों को भी पेईंग वार्ड मुफ्त में उपलब्ध कराने की तैयारी कर रहा है.

इसे भी पढ़ेंःराज्य के 100 छोटे-बड़े खदानों का नक्शा नहीं, सरकार में प्रभावी IAS जांच के दायरे में, एक लाख करोड़ के प्रोजेक्ट पर ग्रहण

इससे हॉस्पिटल में मरीजों को बोझ तो कम होगा, साथ ही उन्हें बेहतर सुविधाएं मिलने से वे जल्द ठीक हो सकेंगे. रिम्स उपाधीक्षक व आयुष्मान भारत योजना के नोडल पदाधिकारी डॉ संजय कुमार ने बताया कि जिस मरीज की स्थिति गंभीर होगी, उसे पेइंग वार्ड में शिफ्ट नहीं किया जाएगा. लेकिन जो थोड़े स्टेबल होंगे, उन्हें चिकित्सक के परामर्श के बाद पेइंग वार्ड उपलब्ध करा दिया जाएगा. साथ ही आयुष्मान भारत योजना के तहत पेइंग वार्ड में रहने वाले मरीजों को खाना भी रिम्स ही उपलब्ध कराएगा. इसको लेकर रिम्स प्रबंधन प्रस्ताव तैयार कर रहा है.

इमरजेंसी में आने वाले मरीजों को भी मिलेगा लाभ

डॉ संजय ने बताया कि इमरजेंसी में आनेवाले मरीजों को भी आयुष्मान भारत योजना का लाभ मिलेगा. जिसके तहत मरीजों का इलाज पहले किया जाएगा. उसके बाद मरीज का गोल्डन कार्ड बनाकर योजना का लाभ दिलाया जाएगा. ऐसे में इमरजेंसी वाले मरीजों का इलाज भी नहीं रुकेगा और योजना का लाभ भी उसे मिल सकेगा. चूंकि कई बार इमरजेंसी में मरीज गंभीर स्थिति में पहुंचता है. ऐसे में अगर प्रक्रिया पूरी की जाएगी, तो उसमें काफी समय लग जाएगा. इसलिए पहले मरीज का इलाज होगा, इसके बाद ही कागजी प्रक्रिया पूरी की जाएगी.

इसे भी पढ़ेंःहर माह 32 करोड़ नुकसान की भरपाई कर रहे 47 लाख बिजली उपभोक्ता, सीएम ने मानी व्यवस्था में खामी

पेईंग वार्ड में लाभुक मरीज को मुफ्त में मिलेगा खाना

रिम्स के पेइंग वार्ड में जेनरल से लेकर वीआईपी मरीजों को एक दिन का एक कमरे का शुल्क एक हजार रुपये देना तय है. जिसमें मरीजों को डाइट उपलब्ध नहीं कराया जाता है. लेकिन योजना के तहत मरीजों को पेईंग वार्ड फ्री में दिया जाएगा. जिसका पैसा रिम्स प्रबंधन को आयुष्मान भारत योजना के तहत कार्य कर रही एजेंसी देगी. वहीं मरीजों का खाना और दवाईयां भी रिम्स प्रबंधन निःशुल्क उपलब्ध कराएगा. ऐसे में मरीजों को किसी भी हाल में इलाज के लिए कोई पैसा खर्च नहीं करना होगा.

बायोमीट्रिक मशीन के लिए टैब की खरीदारी करेगा रिम्स

मरीजों को आयुष्मान भारत योजना का लाभ देने के लिए रिम्स प्रबंधन जल्द ही बायोमीट्रिक सिस्टम वाला टैब खरीदने जा रहा है. जिसमें फिंगर प्रिंट से मरीज की पहचान कर उसका मिलान किया जाएगा. इसके बाद तत्काल उसका इलाज शुरू कर दिया जाएगा. वहीं वैसे मरीज जिनका आयुष्मान भारत योजना के तहत कार्ड नहीं होगा उनका इलाज वैसे भी रिम्स में पहले से किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें –  NEWS WING IMPACT : आयुष्मान कार्डधारी से पैसे मांगने के मामले में रिम्स निदेशक बोले- हमसे गलती हुई, आयुष्मान भारत की सही से नहीं थी जानकारी

हर बीमारी के लिये तय है पैकेज

आयुष्मान भारत योजना के तहत हर बीमारी के लिए एक पैकेज तय है. जिसके तहत मरीज का पूरा इलाज किया जाना है. वहीं उसके रहने-खाने का भी खर्च सरकार देने को तैयार है. ऐसे में वार्ड में भीड़ रहने के कारण लाभुक मरीजों को परेशानी ना हो इसलिए उन्हें पेईंग वार्ड में शिफ्ट करने से उन्हें बेहतर सुविधा मिलेगी. इससे वार्ड में मरीजों का लोड भी कम होगा.

इसे भी पढ़ेंःIAS अफसरों का बड़ा तबका महसूस कर रहा असहज, ऑफिसर ने बर्खास्त होना समझा मुनासिब, लेकिन वापसी मंजूर नहीं 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: