न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

NEWS WING IMPACT : आयुष्मान कार्डधारी से पैसे मांगने के मामले में रिम्स निदेशक बोले- हमसे गलती हुई, आयुष्मान भारत की सही से नहीं थी जानकारी

डॉक्टर सीबी सहाय बोले- दलाल नहीं, सप्लायर का नंबर दिया था

359

Ranchi : न्यूज विंग में ‘आयुष्मान कार्डधारी ने डॉ सीबी सहाय से लगायी इलाज की गुहार, तो डॉक्टर ने थमाया दलाल का नंबर, दलाल ने कहा पहले 50 हजार जमा करो’ शीर्षक से खबर प्रकाशित की. न्यूज विंग ने स्वास्थ्य विभाग की प्रधान सचिव निधि खरे को भी इसकी जानकारी दी. निधि खरे ने रिम्स के प्रभारी निदेशक डॉ आरके श्रीवास्तव से इस संबंध में लिखित जवाब मांगा. जबाव में रिम्स के प्रभारी निदेशक ने माना है कि हमसे गलती हुई थी, आयुष्मान भारत की सही जानकारी नहीं होने के कारण ऐसा हुआ. वहीं डॉ सीबी सहाय ने कहा, “मैंने मरीज के परिजन को दलाल का नहीं, सप्लायर का नंबर दिया था, दलाल बोलकर हव्वा बना दिया गया. मैं इतने दिनों से काम कर रहा हूं, दलाल का नंबर गरीब मरीज को क्यों दूंगा.”

इसे भी पढ़ें- रिम्स : आयुष्मान कार्डधारी ने डॉ. सीबी सहाय से लगायी इलाज की गुहार, तो डॉक्टर ने थमाया दलाल का नंबर,…

जवाब में निदेशक ने क्या लिखा

hosp3

स्वास्थ्य विभाग की प्रधान सचिव निधि खरे को लिखित जवाब देते हुए रिम्स के प्रभारी निदेशक आरके श्रीवास्तव ने कहा है, “मैंने इस संबंध में मरीज के परिजन और डॉक्टर, दोनों से बात की है. मरीज के पास गोल्डेन कार्ड 29 सितंबर का बना हुआ है. डॉक्टर ने मरीज के परिजन को ऑपरेशन में यूज होनेवाले इंप्लांट लाने के लिए सप्लायर का नंबर दिया था, जो कि गलत है. आयुष्मान भारत के तहत डिमांड करने पर रिम्स ही इंप्लांट मुहैया करायेगा. यह अधूरी जानकारी की वजह से हुआ है. आयुष्मान मित्र ने जानकारी सही से नहीं दी थी. मैंने डॉक्टर को हिदायत देते हुए नियम का पालन करने को कहा है. साथ ही इसकी जानकारी मरीज के परिजन को भी दे दी गयी है.”

मैंने मरीज के परिजन को इंप्लांट लाने के लिए सप्लायर का नंबर दिया था. मैंने किसी भी दलाल का नंबर नहीं दिया है. मरीज के परिजन शायद मेरी बात को अच्छे से समझ नहीं पाये थे. बाद में दलाल का हव्वा बन गया. इसको लेकर निदेशक से भी मेरी बात हो गयी है.

-डॉ सीबी सहाय, रिम्स

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: