न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बजाज इलेक्ट्रिकल्स के एमडी अनंत बजाज का 41 साल की उम्र में निधन

मुंबई में हार्ट अटैक से हुआ निधन

495

Mumbai: बजाज इलेक्ट्रिकल्स के चेयरमैन शेखर बजाज के बेटे अनंत बजाज का 41 साल की उम्र में निधन हो गया. मुंबई स्थित उनके निवास पर शुक्रवार शाम उन्हें कार्डिअक अरेस्ट आया जिसके बाद उन्हें हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित किया. अनंत को तेज-तर्रार बिजनेसमैन के तौर पर देखा जाता था.

इसे भी पढ़ें-हिंदपीढ़ी पहुंचे बाबूलाल मरांडी, चिकनगुनिया-डेंगू से पीड़ित मरीजों से मिले

मोदी सरकार के स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में योगदान

hosp1

उनकी लीडरशिप में ही बजाज इलेक्ट्रिकल्स प्रो-कबड्डी, बैडमिंटन वर्ल्ड चैंपियनशिप और इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ स्पोर्ट क्लाइमिंग का स्पोंसर भी रहा. साथ ही सरकार के स्मार्ट सिटी बनाने के प्रोजेक्ट में भी उनका योगदान रहा.
अनंत बजाज का जन्म बजाज इलेक्ट्रिकल्स के चेयरमैन शेखर बजाज और किरण बजाज के यहां 18 मई 1977 को हुआ था. उन्होंने मुंबई के हंसराज कॉलेज और एमपी जैन से पढ़ाई की. साथ ही अनंत ने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से मैनेजमेंट डिग्री हासिल की.

इसे भी पढ़ें-विजय माल्या की लंदन स्थित कोठी में टॉयलेट सीट पर भी सोना चढ़ा है : रिपोर्ट

क्यों खास थे अनंत बजाज ?

साल 1999 में प्रोजेक्ट को-आर्डिनेटर के तौर पर करियर शुरू करने वाले अनंत ने मार्च 2012 में बजाज इलेक्ट्रिकल्स के संयुक्त प्रबंध निदेशक का पद संभाला था. इसके बाद से ही उन्होंने कई हाईटेक उपकरणों को विकसिटत करने काम शुरू किया था. उनके प्रयासों से ही बजाज इलेक्ट्रिकल्स का मुनाफा पहली तिमाही में 98 प्रतिशत बढ़ा. बजाज इलेक्ट्रिकल्स का एकल शुद्ध मुनाफा 30 जून, 2018 को समाप्त तिमाही में 97.70 प्रतिशत बढ़कर 40.53 करोड़ रुपए पर पहुंच गया.

इसे भी पढ़ें-रंजय सिंह हत्याकांड के आरोपी मामा को भेजा गया पुलिस कस्टडी में, खुल सकते हैं हत्या के कई राज

1999 से 6 साल लंबे सफर के बाद साल 2005 में उन्हें जनरल मैनेजर (स्पेशल असाइंमेंट) नियुक्त किया गया और एक साल बाद एग्जीक्युटिव डायरेक्टर बनाया गया. 2006 के 6 साल बाद 2012 में 1 जून को उन्हें मैनेजिंग डायरेक्टर पद पर प्रमोट किया गया. उसके बाद उन्होंने आईओटी एनलेटिक्स आदि की शुरुआत की. अपने कार्यकाल के दौरान उन्होंने कई फैसले किए, जिससे कंपनी को काफी फायदा हुआ.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: