Crime NewsDhanbad

रांची से अगवा युवती से सामूहिक दुष्‍कर्म मामले के सभी चार आरोपी 48 घंटे में गिरफ्तार

Dhanbad: बरवाअड्डा थाना क्षेत्र अंतर्गत पंडूकी में घटित  युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म कांड में शामिल सभी चार आरोपियों की गिरफ्तारी करने में पुलिस को सफलता मिली है. सामूहिक दुष्‍कर्म कांड का प्राथमिक अभियुक्त परितोष पांडेय की गिरफ्तारी के बाद उसकी निशानदेही पर पुलिस ने अन्‍य तीन आरोपियों प्रकाश हाजरा, गुड्डू कुमार व कुंदन हाजरा को गिरफ्तार किया कर लिया है. यह बातें गुरुवार को एसएसपी मनोज रतन चोथे ने प्रेस वार्ता के दौरान कही. एसएसपी ने बताया कि मंगलवार की सुबह बरवाअड्डा थाना क्षेत्र के पंडुकी स्थित फुटबॉल ग्राउंड से अज्ञात युवती अचेत अवस्था में बरामद हुई थी. जिसे ईलाज के लिए पीएमसीएच में भर्ती कराया गया था.

इसे भी पढ़ें: धनबाद : झाड़ियों में अर्धनग्न हालत में मिली युवती, दुष्कर्म की आशंका

advt

48 घंटे में पुलिस कैसे मिली सफलता

एसएसपी ने बताया कि पुलिस प्रथम दृष्टया में ही इस मामले को सामूहिक दुष्कर्म से जोड़ा था. मेडिकल रिपोर्ट में भी युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म की पुष्टि हुई. कांड के संज्ञान में आने के बाद बरवाअड्डा डीएसपी मुख्यालय 1 के नेतृत्व में टीम गठित कर  अनुसंधान प्रारम्भ की गयी. इस दौरान इलाजरत पीड़िता से बातचीत कर एवं अन्य साक्ष्‍यों के आधार पर पुलिस आरोपियों तक पहुंची. घटना के 48 घंटे में पुलिस कांड के सभी चार आरोपियों को गिरफ्तार कर कांड का उद्भेदन करने में सफलता पाई है. टीम इसके लिए बधाई के पात्र हैं.

इसे भी पढ़ें: बिजली को लेकर धनबाद से मैथन तक प्रदर्शन, डीवीसी का किया घेराव

दुष्‍कर्म पीड़िता इलाज के लिए रिम्‍स रेफर

एसएसपी ने बताया कि कांड का प्राथमिक अभियुक्त परितोष ही पीड़िता को बहला फुसलाकर रांची से धनबाद लेकर आया था. यहां बरवाअड्डा किसान चौक के पास एक ऑटो में अपने साथ साथियों के साथ पंडुकी गया. जहां युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम देकर फरार हो गया.  उन्होंने बताया कि पीड़िता को बेहतर ईलाज के लिए रांची रिम्स रेफर किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें: सुधीर त्रिपाठी को मिलेगा एक्सटेंशन या डीके तिवारी होंगे नए CS, फैसला कल !

सवा आठ लाख का मिलेगा मुआवजा

पीड़िता एसटी समुदाय से आती है. इस कांड में एससी-एसटी के अंतर्गत केस दर्ज कर आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने का काम पुलिस करेगी. पीड़िता को करीब सवा आठ लाख रुपये का मुवावजा मिलेगा. जिसमें आधी राशि अगले दो दिनों के भीतर परिजनों को दिलायी जायेगी. बताया जा रहा है कि परितोष की पीड़िता के साथ फोन पर बातचीत हुई थी. गिरफ्तारी में परितोष व उसके अन्‍य साथियों के पास से मोबाईल फोन बरामद हुआ है. इसमें से एक मोबाईल पीड़िता का भी है, जो परितोष के पास से मिला.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: