JharkhandRanchiSports

आजसू ने खिलाड़ियों संग मनाया मधुमिता की जीत का जश्न, दी बधाई

Ranchi: आजसू पार्टी की छात्र इकाई अखिल झारखण्ड छात्र संघ ने झारखण्ड की बेटी मधुमिता कुमारी द्वारा जकार्ता में चल रहे एशियाई खेल के तीरंदाजी स्पर्धा में रजत पदक दिलाकर देश को गौरवान्वित करने की खुशी में खिलाड़ियों संग जश्न मनाया गया.

इसे भी पढ़ें- मानवाधिकार हनन के लिए झारखंड प्रयोगशाला बन गया है – स्टेन स्वामी

मधुमिता ने दिलाया देश को चांदी – साहित्य सिंह   

Catalyst IAS
ram janam hospital

प्रदेश प्रवक्ता साहित्य सिंह ने कहा कि एशियन खेल में मधुमिता ने कम्पाऊण्ड तीरंदाजी प्रतियोगिता में भारत को रजत पदक दिलाकर झारखंड का नाम विश्व पटल पर ऊंचा किया है. इसके लिए आजसू परिवार समस्त झारखण्डियों की तरफ से बहुत-बहुत बधाई एवं भविष्य की असीम शुभकामनाएं देता है.

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

आगे सिंह ने कहा कि तीरंदाजी को विश्व स्तरीय खेल बनानें एवं झारखण्डं में तीरंदाजी को जुनून के तौर पर स्थापित करने में माननीय सुदेश कुमार महतो एवं नेहा महतो का योगदान अतुलनीय हैं. जिसे तिरंदाजी जगत कभी भुला नहीं सकता है. तीरंदाजी जगत में दीपीका एवं मधुमिता जैसे असंख्य प्रतिभावान खिलाड़ियों की झारखंड में कोई कमी नहीं है बस इसे तराशने की जरुरत है.

इसे भी पढ़ें- स्टेन स्वामी ने सरकार और जनता के नाम लिखी खुली चिट्ठी- क्या मैं देशद्रोही हूं ?

विदित हो कि सुदर ग्रामीण क्षेत्र रामगढ़ के घाटोटांड की मधुमिता कुमारी बिरसा मुंडा तीरंदाजी अकादमी, सिल्ली की प्रशिक्षु है. राज्य की इस बेटी ने आज देश को रजत पदक दिलाकर राज्य के हर निवासी का सर गर्व से ऊंचा कर दिया है मधुमिता ने अपनी कड़ी मेहनत एवं लगन से विश्व स्तर पर अपने प्रतिभा का लोहा मनवाया है. मधुमिता के रजत पदक जीतने पर राज्य में खुशी की लहर दौड़ पड़ी है.

आजसू के पदाधिकारियों ने आज बिरसा मुंडा फुटबॉल स्टेडियम पहुंच कर वहां अभ्यास कर रहे खिलाड़ियों के साथ मधुमिता के जीत का जश्न मनाते हुए आतिशबाजी की एवं सभी खिलाड़ियों के बीच मिठाई बांटी एवं जीत की बधाई दी.

इसे भी पढ़ें- धनबाद जेल बना माफियाओं का अड्डा, अंदर से ही चलाते हैं अपना साम्राज्य

झारखण्ड की माटी प्रतिभाओं की जननी है : गौतम

आजसू के प्रदेश अध्यक्ष गौतम सिंह ने कहा कि मधुमिता की जीत पूरे देश एवं राज्य की जीत है. मधुमिता ने यह साबित कर दिया की झारखण्ड की माटी प्रतिभाओं की जननी है. सुदेश महतो एवं नेहा महतो जैसे मार्गदर्शक तथा प्रकाश राम एवं शिशिर महतो जैसे प्रशिक्षक के कारण ही आज बिरसा मुंडा तीरंदाजी केंद्र, सिल्ली की इस खिलाड़ी ने इतिहास रचने में सफलता पाई है.

इस अवसर पर आजसू के हरीश कुमार, गौतम सिंह, गदाधर महतो, नीरज वर्मा, ओम वर्मा, मोतीराम महतो, अजित कुमार, साहित्य सिंह, ज्योत्सना केरकेट्टा, नीतीश सिंह, सौरभ शर्मा, लोबिन चंद्र महतो, राहुल पांडेय, मो.अल्ताफ, प्रतीक तिवारी सहित सैकड़ों खिलाड़ियों ने एक स्वर में मधुमिता को जीत की शुभकामनाएं दी।

Related Articles

Back to top button