न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गैर सेवा IAS संवर्ग में प्रमोशन के लिए 10 नाम तय, UPSC को भेजी गई अनुशंसा

राज्य प्रशासनिक सेवा के 27 अफसरों के भी नाम तय, इसमें से 9 को IAS संवर्ग में मिलेगा प्रमोशन

1,014

Ranchi: गैर सेवा से आइएएस संवर्ग में प्रोन्नति पाने के लिये राज्य सरकार ने 10 नामों की अनुशंसा यूपीएससी (संघ लोक सेवा आयोग, UNION PUBLIC SERVICE COMMISSION) को भेज दी है. इसमें छह विभागों से 10 अफसरों के नाम भेजे गये हैं.  इसमें पथ निर्माण से दो, श्रम विभाग से दो, योजना विभाग से दो, ग्रामीण विकास से एक और खाद्य आपूर्ति विभाग से एक अफसर का नाम भेजा गया है.

इसे भी पढ़ेंः45 प्रमोटी IAS मेन स्ट्रीम से बाहर, सिर्फ दो को ही मिली है जिले की कमान, गैर सेवा से आईएएस बने दो अफसर हैं डीसी

कौन हैं ये 10 अफसर

hosp3

गैर सेवा से आइएएस में प्रोन्नति के लिये जिन 10 नामों की अनुशंसा की गई है. उसमें पथ निर्माण विभाग के इंजीनियर, प्रमोद कुमार, सतीशचंद्र चौधरी, श्रम विभाग के प्रभात कुमार और उमेश प्रसाद, योजना विभाग के माधव शरण सिंह व प्रदीप किंडो, कृषि विभाग के आरके अग्रवाल व राजेश शर्मा, ग्रामीण विकास के अक्षय कुमार सिंह व खाद्य आपूर्ति के एक अफसर का नाम शामिल हैं.

एक पद के लिए पांच गुणा भेजा जाता है नाम

गैर सेवा में से आइएएस में प्रमोशन के लिये एक पद के विरूद्ध पांच गुणा नाम भेजा जाता है. वर्तमान में दो पदों में प्रोन्नति दी जानी है. इसलिये दो पदों के विरूद्ध 10 नामों की अनुशंसा की गई है. गैर सेवा से आइएएस बने एक अफसर ने बताया कि इंटरव्यू में सबसे पहले अफसर का परफॉरमेंस देखा जाता है. इसके अलावा वर्तमान हालात व राज्य की स्थिति के बारे में सवाल पूछे जाते हैं.

इसे भी पढ़ेंः IAS का दबदबा, तीन इंजीनियर इन चीफ, 25 चीफ इंजीनियर दरकिनार, बिजली बोर्ड में CMD का है पॉलिटिकल पोस्ट

राज्य प्रशासनिक सेवा के लिये 27 नाम तय

राज्य प्रशासनिक सेवा से आइएएस संवर्ग में प्रोन्नति के लिये 27 नाम तय कर लिये गये हैं. इसमें प्रमुख रूप से यतींद्र प्रसाद, दिगेश्वर तिवारी सहित पिछले बार जिन्हें प्रोन्नति नहीं मिली थी और जिनकी उम्र जनवरी 2017 तक 56 साल है, उनके नाम तय किये गये हैं. यह प्रोन्नति वर्ष 2017 के रिक्त नौ पदों के लिये दी जायेगी. राज्य प्रशासनिक सेवा से आइएएस संवर्ग में प्रोन्नति के लिये तीन गुना नाम भेजने का प्रावधान है. इस कारण नौ पदों के विरू्ध 27 अफसरों के नाम तय किये गये हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: