न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

योगी सरकार को ऊर्जावान, शाकाहारी, नशा न करनेवाले मृदुभाषी पुलिसकर्मी चाहिए

योगी सरकार को कुंभ मेले में ड्यूटी के लिए युवा, ऊर्जावान, शाकाहारी, नशा न करने वाले, मृदुभाषी पुलिसकर्मी चाहिए. 2019 में इलाहाबाद में 15 जनवरी से कुंभ मेले का शुभारंभ होगा.

150

Lucknow :  योगी सरकार को कुंभ मेले में ड्यूटी  के लिए युवा,  ऊर्जावान, शाकाहारी,  नशा न करने वाले,  सिगरेट नहीं पीने वाले और मृदुभाषी पुलिसकर्मी चाहिए.  बता दें कि  2019 में उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में 15 जनवरी से कुंभ मेले का शुभारंभ होगा. यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की सरकार कुंभ मेले को ऐतिहासिक बनाने की तैयारियों में जोर-शोर से जुट गयी है. साधु, संतों, श्रद्धालुओं की भावनाएं आहत न हो,  इसके लिए सरकार ने यह विज्ञापन निकाला है.

विज्ञापन कुंभ मेले की सुरक्षा व्यवस्था के लिए इन दिनों खोजे जा रहे योग्य पुलिसकर्मियों के लिए जारी किया गया है. कहा जा रहा है कि मेले में आने वाले साधु, संतों, श्रद्धालुओं व अन्य लोगों की धार्मिक भावनाएं न आहत हों. इसलिए यह योजना बनायी गयी है.

इसे भी पढ़ेंः गृहमंत्रालय के निर्देश पर अब अमित शाह को राष्ट्रपति, पीएम मोदी जैसी सुरक्षा मिलेगी

पुलिस वालों को वरिष्ठों से चरित्र प्रमाण पत्र का क्लियरेंस कराना पड़ेगा

मीडिया में आयी खबरों के अनुसार मेले में ड्यूटी पाने के इच्छुक पुलिस वालों को अपने वरिष्ठों से चरित्र प्रमाण पत्र का क्लियरेंस कराना पड़ेगा. साथ ही कुंभ मेला प्रशासन ने निर्णय लिया है कि मेले में ड्यूटी के दौरान जिन पुलिसवालों को तैनात किया जायेगा,  वे इलाहाबाद से नहीं होंगे. मेले में सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर पुलिसकर्मियों की भर्ती इसी साल अक्टूबर से शुरू होगी. मेले में 10 हजार से अधिक सुरक्षाकर्मी (पैरामिलिट्री वाले भी शामिल) भी चप्पे-चप्पे पर तैनात रहेंगे. बता दें कि  विभिन्न रैंक के कर्मचारियों और अफसरों की आयुसीमा भी तय है.  इस क्रम में 35 वर्ष से कम के कॉन्स्टेबल, 40 वर्ष से कम के हेड कॉन्स्टेबल,  45 साल से कम के सब इंस्पेक्टर और इंस्पेक्टर मेले में ड्यूटी के लिए चुने जायेंगे.

डीआईजी/एसएसपी (कुंभ) केपी सिंह के हवाले से कहा गया है कि बरेली, बदायूं, शाहजहांपुर और पीलीभीत के एसएसपी को पत्र लिख कर मेला ड्यूटी के लिए आवेदन करने वाले पुलिसकर्मियों का सत्यापन कराने को कहा गया है.  सबसे बड़ी बता यह कि कहा गया है कि सुनिश्चित किया जाये कि  पुलिसकर्मी मृदुभाषी  व शाकाहारी होने के साथ किसी भी प्रकार के नशे के आदी न हों

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: