Crime NewsPalamu

दो दिन से दो बच्चों समेत लापता थी महिला, दो अलग-अलग कुओं से मिले तीनों के शव

  • मायके वालों ने मृतका के पति, ससुर और जेठ पर लगाया हत्या करने का आरोप

Palamu : गुरुवार रात से अपने दो बच्चों के साथ लापता महिला का शव शनिवार की सुबह घर के पास ही स्थित कुएं से बरामद हुआ है. वहीं, उसके दोनों बच्चों (पांच वर्षीय बेटी और तीन वर्षीय बेटा) के शव शुक्रवार की रात को ही उसी कुएं से 100 गज दूर स्थित एक दूसरे कुएं से बरामद कर लिये गये थे.

घटना जिले के नावाबाजार थाना क्षेत्र के राजहरा गांव की है. महिला की पहचान राजहरा गांव के आशीष पांडेय की पत्नी सोनी देवी (25) के रूप में हुई है. महिला गुरुवार रात से ही अपने दोनों बच्चों के साथ लापता थी. उसकी खोजबीन की जा रही थी. इसी बीच शुक्रवार की रात करीब नौ बजे महिला के दोनों बच्चों के शव घर के पास ही स्थित कुएं से बरामद हुए. नावाबाजार पुलिस ने दोनों बच्चों के शव कुएं से बाहर निकाले.

दो दिन से दो बच्चों समेत लापता थी महिला, दो अलग-अलग कुओं से मिले तीनों के शव
कुएं से बाहर निकाले गये दोनों बच्चों के शव.

इसे भी पढ़ें-जम्मू-कश्मीर: अनंतनाग में मुठभेड़, सुरक्षाबलों ने एक आतंकवादी को किया ढेर

रातभर महिला का शव ढूंढती रही पुलिस

बच्चों के शव तो पुलिस को शुक्रवार की रात को ही कुएं से मिल गये थे, लेकिन महिला का कहीं कुछ पता नहीं चल पा रहा था. कुआं काफी गहरा होने कारण यह माना जा रहा था कि महिला का शव कुएं में काफी नीचे चला गया होगा, इसलिए पुलिस शुक्रवार की देर रात तक उसी कुएं में महिला का भी शव तलाशती रही. पुलिस की टीम आसपास के इलाके में भी सोनी देवी का शव ढूंढती रही. शनिवार की सुबह पुलिस को उस कुएं से करीब 100 गज दूर स्थित एक दूसरे कुएं से सोनी देवी का शव मिल गया. पुलिस ने सोनी देवी और उसके दोनों बच्चों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए मेदिनीनगर पीएमसीएच भेज दिया है.

दो दिन से दो बच्चों समेत लापता थी महिला, दो अलग-अलग कुओं से मिले तीनों के शव
शुक्रवार की रात छानबीन में जुटी पुलिस.

बच्चों को लेकर घर से भाग जाने का सन्हा दर्ज कराया था ससुरालवालों ने

सोनी देवी का मायका सतबरवा के पोलपोल सिंदुरिया गांव में है. 2014 में राजहरा गांव में आशीष पांडे के साथ उसकी शादी हुई थी. सोनी देवी के ससुरालवालों ने शुक्रवार की शाम नवाबाजार थाना में सन्हा दर्ज कराया था, जिसमें कहा गया कि सोनी देवी गुरुवार की रात को अपने दो बच्चों पांच वर्षीय बेटी समृद्धि और तीन वर्षीय बेटे संदर्स कुमार को अपने साथ लेकर घर से भाग गयी है. इसके बाद से ही पुलिस सोनी देवी और उसके दोनों बच्चों की तलाश में जुटी हुई थी. पुलिस सोनी देवी के ससुरालवालों से भी पूछताछ कर रही थी. पुलिस के मुताबिक, सोनी देवी के ससुरालवालों की ही निशानदेही पर घर के पास स्थित कुएं से दोनों बच्चों के शव बरामद किये गये. इस मामले में नावाबाजार थाना पुलिस ने सोनी देवी के पति आशीष पांडेय, ससुर ब्रजकिशोर पांडेय और जेठ श्रीकांत पांडेय (सीआरसी) को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया है.

इसे भी पढ़ें-लिंगानुपात में पिछड़ा पलामू, 1000 पर 929 लड़कियां

मायके वालों ने ससुरालवालों पर लगाया हत्या का आरोप

मृतका सोनी देवी के मायके वालों ने आरोप लगाया है कि सोनी देवी के पति समेत ससुरालवाले उसे प्रताड़ित करते थे. मायके वालों ने आरोप लगाया है कि सोनी देवी और उसके दोनों बच्चों की उसके पति, ससुर और जेठ ने ही हत्या कर उनके शव कुएं में फेंक दिये. सोनी के मायके वालों ने नावाबाजार थाना पुलिस से इंसाफ की गुहार लगायी है. छानबीन में विश्रामपुर के एसडीपीओ सुरजीत कुमार, इंस्पेक्टर राजबल्लभ पासवान, प्रशिक्षु दारोगा कुणाल राजा, सुचित राणा, कुंदन कुमार, बसंत कुमार, एएसआई प्रद्युमन पासवान, भासो रजक, रामप्रवेश यादव आदि शामिल थे. शुक्रवार की रात नावाबाजार के पार्षद अनुज राम, कांग्रेस नेत्री पूर्णिमा पांडे समेत क्षेत्र के सैकड़ों ग्रामीणों की भीड़ मौके पर लगी रही.

adv

पुलिस मामले की दो एंगल से जांच कर रही है. पहला, महिला ने बच्चों को कुएं में डालकर खुद दूसरे कुएं में कूदकर आत्महत्या कर ली होगी. दूसरा एंगल यह कि महिला और उसके दोनों बच्चों की हत्या करके उनके बच्चों के शवों को एक कुएं में और महिला के शव को पास में ही स्थित दूसरे कुएं में फेंक दिया गया होगा. तीनों शवों को पोस्टमॉर्म के लिए मेदिनीनगर पीएमसीएच भेज दिया गया है. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की जानकारी मिल पायेगी. फिलहाल मृतका के ससुराल से उसके पति, ससुर और जेठ समेत अन्य लोगों को हिरासत में लिया गया है, जिनसे पूछताछ की जा रही है.

-सुरजीत कुमार, एसडीपीओ, विश्रामपुर

इसे भी पढ़ें-ढिबरा लदे ट्रक को जबरन छुड़ाने के मामले में हुई प्राथमिकी

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: