Corona_UpdatesHEALTHJharkhandRanchi

ये कैसी लापरवाही! अस्पताल परिसर में ही फेंके जा रहे हैं इस्तेमाल किये हुए पीपीई किट

Ranchi: कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए उपयुक्त छवि रंजन और एसएसपी सुरेंद्र झा की ओर से कई दिशा-निर्देश जारी किये गये हैं, लेकिन रांची के सदर अस्पताल प्रबंधन की बड़ी लापरवाही सामने आयी है.

अस्पताल के कर्मचारी उपयोग में लाये गये पीपीई किट, मास्क और ग्लव्स अस्पताल परिसर में खुले में रखी गयी कचरे की पेटी में फेंक रहे हैं. अस्पताल कर्मचारियों की ऐसी लापरवाही से लोगों में कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है.

बता दें कि सदर अस्पताल में काम करने वाले कर्मचारियों को संक्रमण से बचाव के लिए पीपीई किट दी जाती है. एक बार किट का उपयोग करने के बाद जलाने का प्रावधान है, ताकि इसके संपर्क में आने वाले लोगों को संक्रमण से बचाया जा सके.

लेकिन विभागीय लापरवाही की वजह से स्वास्थ्यकर्मी इसे जलाने के बजाय खुले कचरे की पेटी में फेंक रहे हैं, जिसके कारण संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है.

इसे भी पढ़ें :बड़ा तालाब और जलाशयों की स्थिति पर नगर आयुक्त को शपथ देने का हाईकोर्ट का निर्देश

फेंके गये पीपीई किट से महज 50 मीटर की दूरी पर लिया जाता है सैंपल

आश्चर्य की बात यह है कि फेंके गए पीपीई किट से महज 50 मीटर की दूरी पर ही कोविड-19 की जांच के लिए सैंपल लिये जाते हैं. रोजाना लोग कोरोना वायरस की जांच कराने के लिए शहर के सदर अस्पताल पहुंच रहे हैं. ऐसे में विभाग की लापरवाही से जांच कराने आने वाले लोग इसकी चपेट में आ सकते हैं.

फेंके गये कचरा को वहां पर मौजूद जानवर अपने भोजन के रूप में खा रहे थे. ऐसी हालत में जानवर से भी संक्रमण फैलने की खतरा बढ़ सकता है.

इसे भी पढ़ें :धनबाद : उपायुक्त ने निजी अस्पताल प्रबंधक के साथ की बैठक, कोरोना को देखते हुए जनरल और आईसीयू बेड सुरक्षित रखने का दिया निर्देश

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: