JharkhandPalamu

पारा 5 डिग्री के नीचे, ठंड से पलामू-गढ़वा में अब तक पांच मरे   

Palamu : हिमालय की ओर से आने वाली बर्फीली हवा के समय से पहले प्रवेश कर जाने से अचानक ठंड में बढ़ोतरी हुई है. न्यूनतम तापमान पांच से डिग्री सेपीचे पहुंच गया है. थोड़ी सी लापरवाही बरतने पर लोगों की मौत हो जा रही है या फिर बीमार पड़ जाने की संभावना बन जा रही है. पलामू जिले में एक सप्ताह के दौरान एक शिक्षक समेत तीन लोगों की मौत हो गयी है, जबकि दो लोगों की मौत गढ़वा जिले में हुई है. कई लोग ठंड लगने से बीमार हैं और उनका इलाज चल रहा है।

जिले में इस वर्ष का सबसे ठंडा दिन रविवार रहा. इस दिन का तापमान 5.5 डिग्री रिकार्ड किया गया. इसी तरह सोमवार को न्यूनतम तापमान स्थिर रहते हुए 5.7 डिग्री पर रहा. मंगलवार को न्यूनतम तापमान 6 डिग्री रिकार्ड किया गया. बुधवार को न्यूनतम तापमान 7 डिग्री रिकार्ड किया गया. लगातार तापमान में गिरावट होने से कनकनी बढ़ गई है. जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हो गया है. पुरवैइया हवा चलने से शाम ढलने से पहले ही इलाके सुनसान हो जाते हैं.

राज्य के अन्य हिस्सों में भी ठंड अपना कहर बरपा रही है. मैक्लुस्कीगंज में तापमान शून्य डिग्री पर पहुंच गया है. यहां बीती रात खेतों में ओस जमकर बर्फ बन गई. मौसम विभाग की माने तो अगले दो दिनों तक पलामू सहित पूरे राज्य में शीतलहरी चलने के साथ ठंड बढ़ेगी.

क्यों बढ़ी ठंड

दिसंबर में सबसे ज्यादा ठंड 15 दिसंबर के बाद पड़नी शुरू होती है. लेकिन, इस वर्ष दिसंबर के शुरूआत में ही ठंड पड़नी शुरू हुई है. इसका कारण हिमालय की ओर से आने वाली बर्फीली हवा को बताया गया है. हिमालय की ओर से ठंडी हवा आठ से 10 दिसंबर तक झारखंड में प्रवेश करती है, लेकिन इस बार एक से दो दिन पहले ही प्रवेश किया.

मौसम केंद्र की वर्ष 2000 से 2018 रिपोर्ट के अनुसार, 15 से 31 दिसंबर के बीच जबरदस्त ठंड पड़ती ह. रिपोर्ट के अनुसार, 14 साल ठंड दिसंबर में 15 दिसंबर के पड़ना शुरू हुई, जबकि 4 साल ऐसा रहा, जिसमें ठंड शुरूआत में ही पड़ी है. इस बीच तापमान 4 डिग्री तक पहुंचा है, लेकिन इस साल दिसंबर की शुरूआत यानी 9 दिसंबर को ही 6 डिग्री न्यूनतम तापमान पहुंच गया और इस सीजन का दिसंबर में सबसे ज्यादा ठंड पड़ने का रिकॉर्ड बना लिया.

किसकी-किसकी हुई मौत

पलामू के हुसैनाबाद निवासी 32 वर्षीय कामता चौधरी, पांकी के आसेहा निवासी शिक्षक प्रमोद चंद्रवंशी और चौनपुर निवासी 50 वर्षीय करमू भुईयां की अब तक मौत हुई है. गढ़वा के कंचनपुर एवं खूरा गांव में 75 वर्षीय पीरु भईयां और 72 वर्षीय दुखनी कुंवर ने ठंड लगने के बाद दम तोड़ दिया है.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: